भर्ती में राजयभर से 9 जिलों के कुल 44937 कैंडिडेट्स भाग लेंगे
होम / मध्‍यप्रदेश / MP में पहले दिन 3000 तो दूसरे दिन 4550 य...

MP में पहले दिन 3000 तो दूसरे दिन 4550 युवाओं ने दिखाया दम, पास होने वाले कैंडिडेट्स की लिखित परीक्षा जनवरी में

Ruchi Verma
Oct 28, 2022 06:34 PM

BHOPAL: मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के मोतीलाल नेहरू स्टेडियम लाल परेड ग्राउंड में सेना की अग्निवीर स्कीम के तहत 27 अक्टूबर से भर्ती प्रक्रिया की शुरूआत हो गई। पहले दिन गुरुवार को जहां तीन हजार युवा इस प्रक्रिया में भाग लेने पहुंचे थे.....तो वहीँ दूसरे दिन शुक्रवार को  भर्ती के लिए राजयभर से 9 जिलों के 4550 अभ्यर्थी पहुँचे। भर्ती में भोपाल, बैतूल, छिंदवाड़ा, होशंगाबाद (नर्मदापुरम), हरदा, राजगढ़, रायसेन, सीहोर और विदिशा के इन कैंडिडेट्स को अग्निवीर जनरल ड्यूटी, अग्निवीर लिपिक और अग्निवीर स्टोर कीपर तकनीकी श्रेणियों में नामांकन के लिए बुलाया गया। इन 4550 अभ्यर्थियों में से आयोजन स्थल पर कुल 2820 उम्मीदवार आए और 315 ने 1.6 किमी की दौड़ पूरी की। रिपोर्ट के वक़्त शेष शारीरिक परीक्षण, उनके दस्तावेजों की जांच और चिकित्सा परीक्षण भी जारी था। 

बता दें कि 27 अक्टूबर से शुरू हुईं ये 'अग्निवीर' भर्तियाँ 7 नवंबर तक चलेगी। अपनी पहले चरण की फिजिकल वेरिफिकेशन की परीक्षा पास कर लेने वाले कैंडिडेट्स को अगले साल जनवरी में होने वाली लिखित परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड दिया जाएगा। भर्ती प्रक्रिया के संचालन के लिए मध्‍य प्रदेश सरकार के 17 विभाग और एजेंसियां सेना के अधिकारियों के साथ कार्यरत हैं। 


भर्ती में कुल 44937 कैंडिडेट्स

भर्ती प्रक्रिया के इंचार्ज अधिकारी  एडीएम संदीप केरकट्टा ने द सूत्र को बताया कि भर्ती में कुल 44937 कैंडिडेट्स भाग लेंगे। जिनमें अलग-अलग जिलों के कैंडिडेट्स की संख्या इस प्रकार रहेगी.....

  • भोपाल से: 4180 
  • बैतूल से: 5932 
  • छिंदवाड़ा से: 6183 
  • हरदा से: 1010 
  • होशंगाबाद से: 5500 
  • रायसेन से: 9000 
  • रायगढ़ से: 3000 
  • सीहोर से: 3000 
  • विदिशा से: 6500 

कैंडिडेट्स ने एडमिट कार्ड न मिलने की शिकायत की

भर्तियों के इतर कुछ कैंडिडेट्स ने एडमिट कार्ड न मिलने की शिकायत भी की है...अधिकारियों के अनुसार ऐसी समस्या वाले कैंडिडेट्स के पास अब अगली भर्ती का इंतज़ार करने के सिवा कोई रास्ता नहीं है। 

पता हो कि केंद्र सरकार ने 14 जून को सेना की तीनों शाखाओं- थलसेना, नौसेना और वायुसेना में युवाओं की भर्ती के लिए 'अग्निवीर भर्ती' योजना शुरू की थी। स्कीम का उद्देश्य सेना की औसत उम्र को कम करना है। इसमें ज्यादा से ज्यादा युवाओं को शामिल करना है। स्कीम के लिए 10वीं और 12वीं पास 17.5 से 21 साल के युवा पात्र हैं। स्कीम के तहत नौजवानों को सिर्फ 4 साल के लिए डिफेंस फोर्स में सेवा देनी होगी।

thesootr
द-सूत्र ऐप डाउनलोड करें :
Like & Follow Our Social Media