SURGUJA:केंद्रीय जेल में कैदी ने लगाई फाँसी, हत्या के मामले में आजीवन कारावास की सजा थी

author-image
Yagyawalkya Mishra
एडिट
New Update
SURGUJA:केंद्रीय जेल में कैदी ने लगाई फाँसी, हत्या के मामले में आजीवन कारावास की सजा थी

Surguja।केंद्रीय जेल के बैरक 9 में हत्या के मामले में आजीवन कारावास की सजा भुगत रहे लुकनु राम नामक क़ैदी ने कथित तौर पर बैरक के बाथरूम में फाँसी लगाकर आत्महत्या की है। इस मामले में जेल प्रहरी प्रवीण रात्रे को निलंबित किया गया है।घटना रात 11 से 12 के बीच की बताई गई है।





मजिस्ट्रेटियल इंक्वारी होगी



  सजायाफ्ता बंदी की मौत केंद्रीय जेल में होने के मामले में मजिस्ट्रेटियल जांच के प्रावधान हैं।इस मामले में भी मजिस्ट्रेटियल इंक्वारी होगी। जेल की बैरक के भीतर हुई इस घटना से सभी सकते में हैं। जेल अधीक्षक राजेंद्र गायकवाड़ ने मीडिया को बताया है कि, बंदी को लेकर अन्य बंदियों ने सामान्य और शांत व्यवहार होने की जानकारी दी है।



Chhattisgarh Ambikapur News Surguja सेंट्रल जेल जेल अधीक्षक सजायाफ्ता क़ैदी बैरक नंबर 9 फाँसी मजिस्ट्रेट जाँच लुकनु राम राजेंद्र गायकवाड़