किसान आंदोलन समर्थन में आज भारत बंद, एक किसान का मौत

किसान संगठनों ने आज भारत बंद बुलाया है। ट्रक और ट्रे़ड यूनियन भी इसमें किसानों का साथ दे रही हैं। किसानों का समर्थन करते हुए पंजाब के निजी बस उद्योग ने भी निजी बसें बंद रखने का ऐलान किया है। इस बंद से सिर्फ इमरजेंसी व्हीकल्स को ही छूट मिलेगी।

author-image
CHAKRESH
New Update
Bharat bandh today in support of farmers movement

किसान आंदोलन के समर्थन में आज भारत बंद 

RAIPUR. संयुक्त किसान मोर्चा ने 16 फरवरी यानि आज भारत बंद बुलाया है। किसान संगठन 'दिल्ली चलो' आंदोलन चला रहे हैं। किसान आंदोलन के तहत पंजाब के किसानों के दिल्ली कूच का आज चौथा दिन है। फसलों के लिए MSP की गारंटी समेत बाकी मांगें पूरी कराने के लिए वे हरियाणा के शंभू बॉर्डर पर डटे हुए हैं। यहां हरियाणा पुलिस ने 7 लेयर की बैरिकेडिंग और आंसू गैस के गोले छोड़कर 3 दिन से किसानों को रोका हुआ है। किसानों ने गुरुवार को पंजाब के 6 जिलों में 12 बजे से 4 बजे तक रेल रोकने का ऐलान किया था। हरियाणा से लगती पंजाब की खनौरी और डबवाली बॉर्डर भी 3 दिनों से बंद है।

इस बंद को लेकर कांग्रेस ने भी अपना समर्थन दिया है। छत्तीसगढ़ कांग्रेस ने भी लोगों से इस बंद में शामिल होकर अपने प्रतिष्ठान बंद रखने की अपील की है। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस महामंत्री मलकीत सिंह गैदू ने बंद को लेकर सभी जिला और शहर अध्यक्षों को पत्र लिखा है। इसमें बंद का समर्थन करने के निर्देश दिए गए हैं। 

ये लिखा है पत्र में

मलकीत सिंह गैदू ने सभी जिला और शहर अध्यक्षों को पत्र लिखा है कि जैसा आप जानते हैं किसान यूनियनों ने 16 फरवरी 2024 को भारत बंद की घोषणा की है। इस राष्ट्रव्यापी बंद के प्रमुख मुद्दों में MSP गारंटी की मांग और बेरोजगारी और केंद्र सरकार की जनविरोधी नीतियां शामिल हैं। किसान संघों ने छात्रों, युवाओं, महिलाओं, पेंशनभोगियों, छोटे व्यापारियों, ट्रक ड्राइवरों, पत्रकारों और सांस्कृतिक कार्यकर्ताओं सहित समाज के विभिन्न वर्गों से महत्वपूर्ण मुद्दों पर ध्यान देने की बात कही है। उन्होंने आग्रह किया है कि 16 फरवरी 2024 को आयोजित भारत बंद का समर्थन करते हुए व्यापक प्रचार-प्रसार करें। आम लोगों को आजीविका जैसे अहम मामलों पर जागरूक करें और भारत बंद के आह्वान को हमारे अन्नदाताओं के प्रति एकजुटता के साथ खुले मंच से समर्थन कर इसे सफल बनाएं।

 

  • Feb 16, 2024 12:33 IST
    किसान आंदोलन 2.0 में पहली मौत

    शंभू बॉर्डर पर एक किसान ज्ञान सिंह की मौत हो गई। वे गुरदासपुर के चाचौकी गांव के रहने वाले थे। किसान आंदोलन में ये पहली मौत है। गांव के सरपंच जगदीश सिंह ने इसकी पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि आंसू गैस के गोले के संपर्क में आने से ज्ञान सिंह की तबीयत बिगड़ गई थी। इलाज के लिए अस्पताल में पहुंचाया गया, जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। ज्ञान सिंह 11 फरवरी को किसान मजदूर संघर्ष कमेटी के जत्थे के साथ शंभू बॉर्डर पर गए थे। 14 फरवरी को वे आंसू गैस का गोला गिरने से वह जख्मी हो गए थे। पंजाब के कांग्रेस विधायक सुखपाल खैहरा ने भी X पर ज्ञान सिंह की जानकारी दी। 



  • Feb 16, 2024 12:20 IST
    किसान नेता सरवण सिंह बोले- हमें भड़काया ना जाए

    किसान नेता सरवण सिंह ने कहा कि हमें भड़काया ना जाए। हमें लोगों का सपोर्ट मिल रहा है। ये संघर्ष बढ़ता जा रहा है। हरियाणा में तीन धरने चल रहे हैं। वहां इंटरनेट बंद है, इसलिए उनकी सूचनाएं मिल नहीं रही। गाजीपुर से भी किसान दिल्ली की तरफ बढ़ रहे हैं। हमें एंटी नेशनल और खालिस्तानी बोला जा रहा है। दरअसल, हमारी छवि खराब की जा रही है। PM मोदी को पता है कि अगर पूरे देश के किसान खड़े हो गए तो मांगें माननी पड़ेंगी। इसके साथ ही स्पष्ट करना चाहते हैं कि किसान अपना फोरम किसी भी पार्टी को नहीं देंगे, जो लोकसभा चुनाव लड़ने वाली हैं।



  • Feb 16, 2024 10:38 IST
    दिल्ला के बॉर्डर पर लगी गाड़ियों की कतारें

    किसान संगठनों के भारत बंद के बीच दिल्ली की सीमाओं पर हर तरफ जाम ही जाम नजर आ रहा है। इस दौरान गाजीपुर बॉर्डर पर भी कई किलोमीटर तक गाड़ियों की लाइनें देखी गई हैं। बड़े-बड़े वाहनों समेत कार, ऑटो और बाइकें भी एकदम रेंग-रेंगकर चलती नजर आ रही हैं।



  • Feb 16, 2024 10:10 IST
    अगली बैठक रविवार को

    किसानों की मांगों पर केंद्र सरकार लगातार बातचीत कर रही है। पिछले 9 दिनों में तीन बैठकें की हैं। किसानों का आंदोलन 13 फरवरी से शुरू हुआ। इसके पहले दो बैठकें हुईं। तीसरी बैठक 15 फरवरी को चंडीगढ़ में हुई। अब अगली बैठक आगामी रविवार को होगी।



  • Feb 16, 2024 09:12 IST
    Bharat Bandh - सिंघु बॉर्डर पर जवानों ने की रिहर्सल

    MSP की गारंटी समेत किसानों की कुल 13 मांगों को लेकर संयुक्त किसान मोर्चा की अगुवाई में देशभर के किसान भारत बंद कर रहे हैं। 16 फरवरी को भारत बंद के लिए बड़ा अलर्ट जारी हुआ है। ऐसे में दिल्ली के सिंघु बॉर्डर पर पैरामिलिट्री फोर्स और दिल्ली पुलिस के जवानों ने रिहर्सल की है। केंद्र सरकार और किसान यूनियनों के बीच बैठक खत्म होने के बाद किसान नेता जगजीत सिंह दल्लेवाल ने कहा कि आंदोलन शांतिपूर्वक ढंग से जारी रहेगा। हम कोई छेड़छाड़ नहीं करेंगे, हमारी तरफ से कुछ नहीं किया जाएगा। ये हम किसानों से भी अपील करेंगे। सरकार ने बैठक बुलाई है, हम तब तक इंतजार करेंगे। 



किसान आंदोलन दिल्ली किसान आंदोलन दिल्ली का किसान आंदोलन