इनेलो नेता की हत्या में BJP के 3 नेताओं पर केस, सरकार कराएगी CBI जांच

हरियाणा में इंडियन नेशनल लोकदल (INLD) यानी इनेलो के प्रदेश अध्यक्ष नफे सिंह राठी के हत्या से पहले का एक CCTV फुटेज सामने आया है। इसमें बदमाश सफेद रंग की कार HR-51BV 1480 में सवार हैं। वहीं इस केस में बीजेपी (BJP) के तीन नेताओं के खिलाफ FIR की गई है।

author-image
BP shrivastava
New Update
INLD Leader Murder

हरियाणा के जज्जर जिले के बहादुरगढ़ में इनेलो प्रदेश अध्यक्ष नफे सिंह राठी के हत्यारों की कार CCTV फुटेज में दिखाई दे रही है। इनसेट में नफे सिंह राठी।

Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

JHAJJAR. हरियाणा में इंडियन नेशनल लोकदल (INLD) यानी इनेलो के प्रदेश अध्यक्ष नफे सिंह राठी के हत्या से पहले का एक CCTV फुटेज सामने आया है। इसमें बदमाश सफेद रंग की कार HR-51BV 1480 में सवार हैं। ड्राइवर फोन पर बात करता हुआ दिखाई दे रहा है। वहीं इस केस में बीजेपी के तीन नेताओं के खिलाफ FIR की गई है।

राठी की रविवार, 25 फरवरी की शाम को हत्या कर दी गई थी। राठी बहादुरगढ़ के पास बराही रेलवे फाटक बंद होने की वजह से रुके थे। उसी दौरान आई-10 कार में आए हमलावर राठी की फॉर्च्यूनर के पास पहुंचे और उन्होंने राठी पर 40 से 50 राउंड गोलियां दाग दीं।

परिवार का पोस्टमार्टम से इनकार, 3 बीजेपी नेताओं पर FIR

पुलिस ने राठी के भांजे संजय की शिकायत पर बीजेपी के पूर्व विधायक नरेश कौशिक, पूर्व चेयरमैन कर्मबीर राठी, पूर्व मंत्री मांगेराम राठी के बेटे सतीश नंबरदार, राहुल, कमल और गौरव के खिलाफ हत्या समेत 8 धाराओं के तहत FIR दर्ज की है।

वहीं, राठी के परिवार ने पोस्टमॉर्टम कराने से इनकार कर दिया है। राठी समर्थकों ने अस्पताल के बाहर रोड पर जाम लगा दिया है। उन्होंने आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी की मांग की।

झज्जर के एसपी अर्पित जैन ने कहा कि जांच के लिए दो DSP के नेतृत्व में पांच टीमें बनाई हैं। CIA और STF को भी लगाया है। इस हमले में राठी के साथ पार्टी कार्यकर्ता जयकिशन दलाल की भी मौत हो गई। वहीं भांजे संजय और निजी सुरक्षाकर्मी की हालत गंभीर बनी हुई है। उन्हें ब्रह्मशक्ति संजीवनी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

विधानसभा में उठा राठी की हत्या का मामला, विज बोले- मामले की CBI जांच कराएंगे

हरियाणा विधानसभा के बजट सत्र में नफे सिंह राठी के मर्डर का मामला उठा। कांग्रेस ने सरकार से हाईकोर्ट के जज या CBI से जांच कराने की मांग की। गृहमंत्री ने अनिल विज ने जवाब दिया कि नफे सिंह ने सुरक्षा मांगी थी, लेकिन वह उनके पास कभी नहीं आए। धमकी देने वाले को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। हम CBI जांच कराने को तैयार हैं।

ये खबर भी पढ़ें... हरियाणा में इनेलो के प्रदेश अध्यक्ष नफे सिंह राठी की गोली मारकर हत्या

चश्मदीद ड्राइवर भांजे बताई हत्या की पूरी कहानी

INLD (2)

1. मैंने देखा था कि सफेद रंग की कार पीछा कर रही

'पुलिस को दिए बयान में हत्या के वक्त नफे सिंह राठी की कार चला रहे भांजे संजय ने हत्याकांड की पूरी कहानी बताई है। उन्होंने बताया कि हम आसौदा गांव में उनके परिवार में शोक व्यक्त करने गए थे। संजय ने कहा, 'मैं मामा नफे सिंह राठी के साथ ड्राइवर हूं। रविवार (25 फरवरी) को असौदा गांव में सामाजिक कार्य करके बहादुरगढ़ वापस आ रहे थे। हम फॉर्च्यूनर गाड़ी नंबर (HR12AF-0011) में थे। मैं गाड़ी चला रहा था। राठी साइड वाली सीट पर बैठे थे। गाड़ी की पिछली सीट पर कबलाना निवासी संजीत और लाइनपार बहादुरगढ़ निवासी जयकिशन बैठे हुए थे।'

'शाम करीब सवा 5 बजे, जब वे बराही फाटक से पहले गाड़ी में आ रहे थे तो मैंने एक सफेद रंग की कार शीशे में पीछा करते देखा। कुछ आवाज भी आई तो मैंने गाड़ी की स्पीड तेज करनी चाही। अचानक सामने फाटक बंद दिखाई दिया। मैंने गाड़ी रोकी तो एकाएक 5 लड़के पिस्टल-हथियारों सहित सफेद कार से उतरकर आए। उन्होंने ललकार कर कहा कि सतीश, कर्मबीर राठी, नरेश कौशिक से दुश्मनी का इनको सबक सिखा दो। उन्होंने हम पर ताबड़तोड़ फायरिंग की, जो मेरे बाईं बाजू, जांघ और कमर पर लगी।'

2. हमलावर मुझसे बोला- तुझे जिंदा छोड़ रहा हूं, घर जाकर बता देना

'उनमें से एक व्यक्ति ड्राइवर वाली विंडो की तरफ आया और बोला कि तुझे जिंदा छोड़ रहा हूं, इनके घर जाकर बता देना कि नरेश कौशिक, कर्मबीर राठी, रमेश राठी, सतीश राठी, गौरव राठी, राहुल व कमल के खिलाफ कभी भी किसी भी अदालत में गए तो सारे परिवार को मार देंगे। मैंने अपने आपको संभाला तो देखा कि मामा ( नफे सिंह राठी ) और जयकिशन की मौत हो चुकी थी। संजीत की हालत गंभीर थी। राहगीर हम सभी को ब्रह्मशक्ति संजीवनी अस्पताल ले आए। जहां मेरा इलाज चल रहा है। मैं हमलावरों को सामने आने पर पहचान सकता हूं।'

राठी की साइड गाड़ी पर 10 बुलेट आर-पार, हत्या में 3 तरह की गन का इस्तेमाल

फायरिंग में राठी वाली साइड पर गाड़ी की बॉडी से कुल 10 बुलेट्स आर-पार हो गईं। 6 गोलियां खिड़की के शीशे को तोड़कर भी राठी को लगीं। गाड़ी की पिछली सीट पर बैठे गनमैन को टारगेट करते हुए जो फायरिंग की गई, उनमें से 4 गोलियां गाड़ी की बॉडी के आर-पार हो गईं।

कुछ बुलेट्स जयकिशन और संजीत को लगीं। अंदर किसी को संभलने तक का मौका नहीं मिला। हमलावरों का टारगेट सीधे नफे सिंह राठी ही थे इसलिए उन्होंने फॉर्च्यूनर गाड़ी पर सामने की तरफ से कोई फायरिंग नहीं की। यही वजह रही कि गाड़ी की विंडशील्ड को इस फायरिंग में कोई नुकसान नहीं पहुंचा। पुलिस को मौके से 21 खोल बरामद हुए हैं। अधिकारियों को शक है कि हत्या में 3 तरह की गन का इस्तेमाल की गईं।

BJP INLD Leader Murder