CAA लागू होने पर हिंदू शरणार्थियों ने मनाया जश्न, यूपी समेत कई राज्यों में पुलिस अलर्ट

CAA से किसी भी धर्म के किसी भी भारतीय नागरिक की नागरिकता नहीं जाएगा। यह कानून नागरिकता देने के लिए बना है । CAA पाकिस्तान, बांग्लादेश के अल्पसंख्यक हिंदू, सिख, ईसाई, जैन, बौद्ध और पारसी लोगों को भारतीय नागरिकता का अधिकार देता है।

author-image
Marut raj
New Update
Central government issued notification for CAA

खबर लगातार अपडेट हो रही है....

 

1 मिनट पहले - पुलिस अलर्ट मोड पर

CAA के लागू होने के बाद दिल्ली में भी पुलिस अलर्ट मोड में है। त्रिलोकपुरी, सीलमपुर समेत तमाम संवेदनशील इलाकों में पुलिस ने गश्त बढ़ा दी है। नॉर्थ-ईस्ट और साउथ-ईस्ट दिल्ली के कई इलाकों में दिल्ली पुलिस और पैरामिलिट्री फोर्सेज ने फ्लैग मार्च किया। यूपी व अन्य राज्यों में भी पुलिस अलर्ट मोड पर रहने की खबरें मीडिया रिपोर्ट्स में बताई जा रही हैं।

2 मिनट पहले - बीजेपी ने कहा

3 मिनट पहले:  विपक्ष ने कहा, आखिरी खेल चल रहा, चलने दो

शिवसेना (UBT) सांसद संजय राउत ने कहा- ये उनका (भाजपा) आखिरी खेल चल रहा है। चलने दो, लागू होने दो। वे लोग ये खेल करते रहते हैं। जब तक चुनाव है तब तक वे CAA-CAA खेलेंगे, खेलने दो।

मौलाना फिरंगी महली का बयान - सब लोग शांति बनाए रखें, किसी की नागरिकता नहीं जाएगी।

5 मिनट पहले - ममता दीदी ने कहा, नियम देख रहीं हैं, गलत होने पर विरोध करेंगी

7 मिनट पहले- अर्जुन मुंडा ने कहा- देशहित में जो भी जरूरी होगा, करेंगे

क्या है सीएए

नागरिकता (संशोधन) अधिनियम, 2919 भारत की संसद द्वारा पारित एक अधिनियम है, जिसके द्वारा सन 1955 का नागरिकता कानून को संशोधित करके यह व्यवस्था की गयी है कि 31 दिसम्बर सन 2014 के पहले पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से भारत आए हिन्दू, बौद्ध, सिख, जैन, पारसी एवं ईसाई को भारत की नागरिकता प्रदान की जा सकेगी।

CAA के अनुसार किसे मिलेगी भारतीय राष्ट्रीयता

सीएए नियम जारी होने के बाद जो लोग बांग्लादेश, पाकिस्तान और अफगानिस्तान से 31 दिसंबर 2014 तक भारत आए थे केवल उन्हें ही केंद्र सरकार द्वारा भारतीय राष्ट्रीयता दी जाएगी।

CAA में कौन से धर्म शामिल हैं

CAA में छह गैर-मुस्लिम समुदायों हिंदू, सिख, ईसाई, जैन, बौद्ध और पारसी शामिल हैं। इन्हें केवल भारतीय नागरिकता तब ही मिल सकती है, जब इन्होंने 31 दिसंबर 2014 को या उससे पहले भारत में शरण ली हो।

शाह ने कहा था CAA लोकसभा चुनाव के पहले लागू होगा

गृह मंत्री अमित शाह ने 10 फरवरी को कहा कि लोकसभा चुनाव से पहले देश में सिटिजनशिप अमेंडमेंट एक्ट (CAA) लागू हो जाएगा। उन्होंने कहा कि CAA देश का एक्ट है, इसे हम यकीनन नोटिफाई करेंगे। इसे चुनाव से पहले नोटिफाई किया जाएगा और चुनाव से पहले इसे लागू भी किया जाएगा। इसे लेकर कोई कन्फ्यूजन नहीं होना चाहिए।

बीजेपी सर्किल में चल रही ये पोस्ट

the sootr

 

 

(  Central government issued notification for CAA | केंद्र सरकार ने सीएए के लिए लागू की अधिसूचना | CAA )

CAA सीएए Central government issued notification for CAA केंद्र सरकार ने सीएए के लिए लागू की अधिसूचना