नायब सिंह सैनी हरियाणा के नए सीएम, शपथ शाम को, BJP-JJP गठबंधन टूटा

हरियाणा में मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर की अगुवाई में दुष्यंत चौटाला की जननायक जनता पार्टी (JJP) के साथ गठबंधन मंगलवार को टूट गया। आगामी लोकसभा चुनाव में सीट शेयरिंग को लेकर हुए मतभेदों की वजह से ये गठबंधन टूटा है...

author-image
CHAKRESH
एडिट
New Update
NAYAB SINGH SAINI

हरियाणा में भाजपा विधायक दल की बैठक में नायब सिंह सैनी को नेता चुना गया है। वो हरियाणा के नए सीएम होंगे। शाम 5 बजे वो शपथ लेंगे। भाजपा विधायक दल की बैठक हरियाणा में BJP और जननायक जनता पार्टी (JJP) का गठबंधन टूटने और मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के इस्तीफे के बाद हुई थी। नायब सिंह सैनी कुरूक्षेत्र से भाजपा के मौजूदा सांसद हैं। मनोहर लाल के करीबी हैं। कुछ समय पहले ही उन्हें हरियाणा में भाजपा का अध्यक्ष बनाया गया था। वे आज शाम 5 बजे सीएम पद की शपथ लेंगे। 

सुबह की खबर पढ़िए..

हरियाणा में मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर की अगुवाई में दुष्यंत चौटाला की जननायक जनता पार्टी (JJP) के साथ गठबंधन मंगलवार को टूट गया। जजपा के राष्ट्रीय महासचिव और हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने सोमवार को दिल्ली में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा से मुलाकात की थी। इसके बाद CM मनोहरलाल खट्‌टर ने चंडीगढ़ में सोमवार रात और फिर मंगलवार सुबह 11 बजे इमरजेंसी मीटिंग बुला ली। इसमें सभी मंत्री-विधायक और सरकार को समर्थन दे रहे निर्दलीय विधायक शामिल हुए। भाजपा के आक्रामक रुख को देखते हुए दुष्यंत चौटाला दिल्ली पहुंचे हैं। उन्होंने अमित शाह से मिलने का समय मांगा है। सीएम मनोहर लाल खट्‌टर ने चंडीगढ़ में राजभवन पहुंचकर कैबिनेट समेत सामूहिक इस्तीफा दे दिया है। हरियाणा में सीएम चेहरा बदलने की भी चर्चाएं हैं।

  • Mar 12, 2024 14:28 IST
    कौन हैं नायब सिंह सैनी

    नायब सिंह सैनी ओबीसी में सैनी समाज से ताल्लुक रखते हैं। वर्तमान में वह हरियाणा बीजेपी के अध्यक्ष हैं। इसके अलावा वे कुरुक्षेत्र से बीजेपी के सांसद भी हैं। सैनी हरियाणा सरकार में मंत्री रह चुके हैं। वह साल 2014 से 2019 तक विधायक रहे। बता दें कि हरियाणा में मुख्यमंत्री की रेस में नायब सिंह सैनी के साथ संजय भाटिया के नाम की चर्चा चल रही थी। हालांकि सीएम की रेस में नायब सिंह सैनी का नाम आगे रहा और अब वे हरियाणा के नए सीएम होंगे।



  • Mar 12, 2024 13:18 IST
    जजपा में बगावत, 5 विधायक मीटिंग में नहीं पहुंचे

    भाजपा से गठबंधन टूटने के बाद जजपा में बगावत हो गई है। जजपा ने सभी 10 विधायकों की दिल्ली में मीटिंग बुलाई थी, लेकिन उसमें 5 वहां नहीं पहुंचे। सूत्रों के मुताबिक ये सभी चंडीगढ़ में हैं और भाजपा के संपर्क में हैं।



  • Mar 12, 2024 12:08 IST
    कांग्रेस ने अपने विधायकों की मीटिंग बुलाई

    इधर कांग्रेस भी अलर्ट हो गई है। प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा ने भी विधायकों की आनन-फानन में मीटिंग बुला ली है। पार्टी सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस भी राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश करेगी।



  • Mar 12, 2024 12:07 IST
    थोड़ी देर में जजपा की प्रेस कॉन्फ्रेंस

    जजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ अजय सिंह चौटाला अपने दिल्ली आवास पर पहुंच गए हैं। बताया जा रहा है कि इस पूरे घटनाक्रम में अजय सिंह चौटाला का बयान कुछ देर में दिल्ली आवास पर जेजेपी नेताओं के साथ बैठक के बाद दिया जाएगा। वे जल्द ही प्रेस कान्फ्रेंस करने जा रहे हैं। 



  • Mar 12, 2024 11:49 IST
    क्या गिर सकती है बीजेपी सरकार

    हरियाणा में 90 विधानसभा सीटें हैं। इनमें 41 भाजपा, 30 कांग्रेस, 10 जजपा, 1 इनेलो, 1 हलोपा और 7 निर्दलीय हैं। बहुमत के लिए 46 सीटें चाहिए। अभी भाजपा-जजपा की गठबंधन की सरकार भाजपा के 41, जजपा के 10 और एक निर्दलीय रणजीत चौटाला सरकार में है। अगर जजपा गठबंधन तोड़ देती है तो भाजपा के पास 41, 7 निर्दलीय और एक हलोपा विधायक का समर्थन है। ऐसे में भाजपा के पास बहुमत के 46 के आंकड़े से 3 ज्यादा सीटें बन रही हैं। यानि सरकार नहीं गिर रही है। 



  • Mar 12, 2024 11:48 IST
    BJP विधायक दल की बैठक दोपहर 12 बजे

    इस्तीफे के बाद नए सिरे से कैबिनेट का गठन किया जाएगा। नई कैबिनेट में जेजेपी नहीं होगी। बीजेपी ने दोपहर 12 बजे विधायक दल की बैठक बुलाई है। इस बैठक में अर्जुन मुंडा और तरुण चौक पर्यवेक्षक के तौर पर शामिल होंगे। 



  • Mar 12, 2024 11:47 IST
    हरियाणा विधानसभा का गणित क्या है?

    हरियाणा में विधानसभा की कुल 90 सीटें हैं। इन 90 सीटों में से 41 बीजेपी के पास हैं। वहीं 30 सीटें कांग्रेस, 1 सीट इंडियन नेशनल लोकदल, एक हरियाणा लोकहित पार्टी और छह निर्दलीय हैं। हरियाणा में बहुमत के लिए 46 विधायक चाहिए। हरियाणा में बीते विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने जेजेपी के साथ मिलकर गठबंधन सरकार बनाई थी। उस चुनाव में बीजेपी को 41 जबकि जेजेपी को 10 सीटें मिली थीं।



CM Khattar