न्यूज अपडेट- वॉशिंगटन प्रेस क्लब में कश्मीर पर चर्चा, मोदी सरकार के कामों की तारीफ पर पाक अफसरों का गुस्सा, बाहर निकाले गए

author-image
Atul Tiwari
एडिट
New Update
न्यूज अपडेट- वॉशिंगटन प्रेस क्लब में कश्मीर पर चर्चा, मोदी सरकार के कामों की तारीफ पर पाक अफसरों का गुस्सा, बाहर निकाले गए

NEW DELHI/BHOPAL/RAIPUR. अमेरिका के वॉशिंगटन डीसी के प्रेस क्लब में पाकिस्तानियों ने खुद से अपनी पोल खोल दी। वॉशिंगटन के प्रेस क्लब में कश्मीर के बदलाव विषय पर चर्चा हो रही थी। इसका आयोजन इंटरनेशनल सेंटर फॉर पीस स्टडीज की तरफ से किया गया था। इसमें कश्मीर के रहने वाले कुछ लोगों को बुलाया गया था। उन्होंने भारत सरकार द्वारा कश्मीर में किए जा रहे विकास कार्यों और अच्छे बदलावों की तारीफ की। इसके चलते वहां मौजूद कुछ पाकिस्तानी अफसरों को ये तारीफ रास नहीं आई। उन्होंने बीच कार्यक्रम में हंगामा करना शुरू कर दिया। इसके बाद पाक अफसरों को कार्यक्रम से निकाल दिया गया। वॉशिंगटन प्रेस क्लब में इंटरनेशनल सेंटर फॉर पीस स्टडीज ने  'कश्मीर - फ्रॉम टर्मोइल टू ट्रांसफॉर्मेशन' विषय पर पैनल चर्चा आयोजित की गई थी। इस पैनलिस्ट में जम्मू कश्मीर वर्कर्स पार्टी के अध्यक्ष मीर जुनैद और जम्मू कश्मीर में बारामूला नगर परिषद के अध्यक्ष तौसीफ रैना भी शामिल थे। मीर जब अपनी बात रख रहे थे, तभी कुछ पाकिस्तानी खड़े होकर हंगामा करने लगे।







— ANI (@ANI) March 24, 2023





एक वक्ता ने कहा कि भगवान तुम्हें सद्बुद्धि दें। पूरे दर्शकों ने आज आपका असली चेहरा देख लिया। हमने कश्मीर में जो देखा, हमने आज वॉशिंगटन में जो देखा और आज पूरी दुनिया ने देख लिया कि ये लोग कितने क्रूर हैं। ऑडियंस देख रहा है कि कश्मीर की बर्बादी के पीछे तुम लोग ही हो। यही लोग हैं, जो जम्मू कश्मीर का माहौल खराब करने की कोशिश करते हैं। इस पर हॉल में तालियों की गड़गड़ाहट गूंज उठती है। मीर जुनैद ने विषय पर अपनी बात रखते हुए कहा, 'मैं विश्वास के साथ कह सकता हूं कि कश्मीर का शांति, समृद्धि और प्रगति की भूमि के रूप में पुनर्जन्म हुआ है। जम्मू और कश्मीर ने कई बदलाव देखे हैं जो इसे विरोध की स्थिति से एक प्रगतिशील केंद्र शासित प्रदेश में ले गए हैं।'





इस मामले पर विदेश मंत्रालय के अवर सचिव पीआर तुलसीदास ने कहा कि हमें भारत में अल्पसंख्यक समुदायों की सुरक्षा, भलाई पर ध्यान केंद्रित करना होगा। पाकिस्तान के व्यर्थ के प्रचार में शामिल नहीं होना है। इस बता दें कि कश्मीर में धारा 370 के हटने के बाद से लगातार पाकिस्तान द्वारा प्रोपोगेंडा फैलाया जा रहा है। यही कारण है कि भारत सरकार द्वारा पाकिस्तानी प्रोपोगेंडें का जवाब सार्वजनिक रूप से दिया जा रहा है।





इंदौर में भंवरकुआं ब्रिज बनाने के लिए बीआरटीएस लेन से दूसरे वाहन गुजरने की हाईकोर्ट से मिली मंजूरी





भंवरकुआं चौराहे (नया नाम टंट्‌या भील चौराहा) पर नया फ्लाय ओवर ब्रिज बनाने के लिए एक बड़ी बाधा शुक्रवार को दूर हो गई। हाईकोर्ट की इंदौर बेंच ने 18 महीने के लिए बीआरटीएस के 700 मीटर हिस्से में सभी वाहनों को बीआरटीएस लेन से गुजरने की मंजूरी दे दी है। यदि ब्रिज बनने में किसी कारण से देरी होती है तो हाईकोर्ट से आईडीए को फिर से मंजूरी लेना होगी, इसके बाद ही इस मंजूरी को आगे रखा जा सकेगा। आईडीए ने कहा है कि इस पर शनिवार से ही काम शुरू हो जाएगा। 





आईडीए अध्यक्ष जयपालसिंह चावड़ा ने बताया कि भंवरकुंआ चौराहा शहर के व्यस्तम चौराहों में से एक जिस पर दोनों ओर से 150000 वाहन प्रतिदिन गुजरते हैं।  साथ ही इस क्षेत्र में 3-4 लाख विद्यार्थी निवासरत होकर विद्या ग्रहण करते है। यही कारण है कि शहर में जो 11 फ्लाय ओव्हर इस शहर में बनाने के निर्देश थे, जिसमें प्रथम फेस में भंवरकुंआ चौराहा फ्लाय ओवर बनाए जाने का निर्णय लिया गया।  इतने व्यस्तम मार्ग में निर्माण के चलते यह आवश्यक हो गया था कि निर्माण स्थल पर वाहनों की आवाजाही रोकी जा सके। माननीय उच्च न्यायालय में इस आशय की याचिका लगाई गई, जिसे शहर के विकास के हित में माननीय उच्च न्यायालय द्वारा विकास की दिशा में सकारात्मक निर्णय प्रदान किया, जिससे फ्लाय ओव्हर निर्माण की अवरूद्ध गति को गति मिल सकेगी।  





ब्रिज की लम्बाई 625 मीटर होकर बी.आर.टी.एस. के मार्ग के दोनों ओर 3-3 लेन में बनाया जाना प्रस्तावित है, जिसकी निर्माण लागत राशि रुपए 47.27 करोड़ है। इसके बन जाने से भंवरकुंआ चौराहे पर खातीवाला टैंक से खण्डवा रोड़ जाने वाला ट्रेफिक सीधा निकल सकेगा एवं बी.आर.टी.एस. मार्ग के दोनो ओर ट्रेफिक फ्लाय ओवर के माध्यम से निकल सकेगा।  चावड़ा ने बताया कि न्यायालय के इस महत्वपूर्ण निर्णय के परिपालन में इन्दौर विकास प्राधिकरण द्वारा जाली हटाने का कार्य शुरू किया जा चुका है। दिनांक 25.03.2023 को जनप्रतिनिधि मौके पर दौरा करेंगे।





ग्वालियर में राहुल के समर्थन में सड़क पर उतरे कांग्रेसी, किया पुतला दहन





राहुल गांधी के समर्थन में सड़क पर निकले युवक कांग्रेस कार्यकर्ता। प्रधानमंत्री का पुतला फूंका।  पुलिस के साथ झड़प। डंडों के सहारे पुलिस ने पुतला दहन रोकने की कोशिश की। अचानक फूलबाग चौराहे पर पहुंचे युवक कांग्रेसी। लगभग एक दर्जन पुलिसकर्मी पुतला खींचने में जुटे रहे। पुतला बुझाने के लिए पुलिस ने फायर ब्रिगेड बुलाई।





इंदौर में भी सड़क पर उतरे कांग्रेसी





कांग्रेस नेता राहुल गांधी की लोकसभा से सदस्यता खत्म करने के विरोध में शुक्रवार शाम को इंदौर में जगह-जगह कांग्रेस ने विरोध प्रदर्शन किया। कांग्रेस के गांधी भवन स्थित पार्टी दफ्तर के बाहर पीएम नरेंद्र मोदी का पुतला जलाया गया। 





खबरें अपडेट हो रही हैं...



न्यूज ब्रीफ न्यूज अपडेट्स बड़े एक्सीडेंट्स एमपी भारत में राजनीतिक खबरें भारत की मुख्य घटनाएं News in brief News Updates Big Accidents Political News MP India Main Incidents in India