पुनर्वसु नक्षत्र में शपथ लेंगे मोदी, क्या है 9 का खास कनेक्शन...ज्योतिष भी जान लीजिए

लोकसभा चुनाव 2024 में एनडीए को बहुमत मिला है। एनडीए तीसरी बार सत्ता बनाने जा रहा है। एनडीए ने 292 सीटों पर जीत दर्ज की है। विपक्षी गठबंधन इंडिया ब्लॉक ने 234 सीटें हासिल की हैं। बीजेपी ने अकेले 240 सीटों पर जीत हासिल की है।

author-image
Pratibha ranaa
एडिट
New Update
 Narendra Modi
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

नरेंद्र मोदी रविवार यानी 9 जून को तीसरी बार प्रधानमंत्री पद ( Narendra Modi Oath Ceremony ) की शपथ लेंगे। इसी दिन सहयोगी दलों के नेताओं को भी शपथ दिलाई जा सकती है। शपथ ग्रहण के लिए पड़ोसी देशों के राष्ट्राध्यक्षों को औपचारिक निमंत्रण पत्र भेज दिया गया है। दो दिन शुक्रवार ( 7 जून ) और शनिवार ( 8 जून) को मंत्रालयों के बंटवारे पर मंथन होगा। टीडीपी-जदयू से समन्वय करने का जिम्मा पीयूष गोयल और अश्विनी वैष्णव को सौंपा गया है। 

पहले शपथ ग्रहण समारोह 8 जून को होने वाला था। अब माना जा रहा है कि ज्योति​षीय अंक गणित के हिसाब 9 जून की तारीख मुक्करर की गई है। वैसे देखें तो सियासत में 9 का अंक गणित बेहद खास रहा है। टिकट वितरण से लेकर कई फैसलों में 9 के मूलांक को महत्व दिया जाता रहा है। 

पुनर्वसु नक्षत्र में शपथ लेंगे मोदी 

ज्योतिषाचार्य पंडित राजेंद्र दीक्षित एवं सत्यनारायण भार्गव कहते हैं, बीजेपी के लिहाज से 9 का अंक गणित बेहद खास है। नरेंद्र मोदी पुनर्वसु नक्षत्र में तीसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे। 9 तारीख के ज्योतिषीय अंक गणित को लेकर ज्योतिषाचार्यों का तर्क है कि 9 जून, दिन रविवार सूर्य का दिन है। सूर्य ही शासन सत्ता को चलाते हैं। साथ ही शास्त्रों में सूर्य को ग्रहों का राजा माना गया है। वे शासन सत्ता के कारक हैं। 

सूर्य और मंगल का संयोग 

अंक ज्योतिष के हिसाब से भी 9 का अंक मंगल ग्रह का प्रतिनिधित्व करता है। अब मंगल ऊर्जा का कारक है। माना जाता है कि जब सूर्य और मंगल दोनों की के संयोग को मिलाकर नई सरकार शपथ लेगी तो सफलता प्राप्त करेगी। दूसरा, माना जा रहा है कि पुनर्वसु नक्षत्र में शपथ ग्रहण समारोह होने से सरकार की स्थिरता बनेगी रहेगी

2014 और 2019 में कब ली थी शपथ?

2019 के लोकसभा चुनाव में नतीजे आने के 7 दिन बाद पीएम पद का शपथ ग्रहण समारोह आयोजित हुआ था, जबकि 2014 में नतीजे आने के 10 दिन बाद मोदी ने पीएम पद की शपथ ग्रहण की थी। बात की जाए  इस साल की तो इस बार नतीजे आने के बाद 5 दिन बाद यानी 9 जून को शपथ ग्रहण कार्यक्रम का आयोजन होने जा रहा है।

नेहरू की बराबरी करेंगे मोदी 

अब नरेंद्र मोदी तीसरी बार प्रधानमंत्री बनते ही पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू की बराबरी कर लेंगे। नेहरू को भी लगातार तीन बार बहुमत मिला था। मोदी से पहले अटल बिहारी वाजपेयी इकलौते भाजपाई रहे हैं, जो तीन बार प्रधानमंत्री बने थे। अब मोदी उनकी भी बराबरी कर सकते हैं।  

सियासत में ज्योतिषीय अंकों के मायने 

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने 9 का अंक गणित अपनी सियासत में मानो शामिल किया था। कांग्रेस ने नवरात्रि के पहले दिन रविवार, 15 अक्टूबर 2023 को उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की थी। चुनाव के लिए कांग्रेस ने सुबह 9 बजकर 9 मिनट पर सूची जारी की थी। दरअसल, कांग्रेस ने नवरात्रि के दौरान सूची जारी की। नवरात्रि माता रानी की भक्ति के नौ दिन का पर्व होता है। ऐसे में इसके लिए भी 9 अंक को ध्यान में रखा गया। मध्य प्रदेश चुनाव के लिए उम्मीदवारों की संख्या 144 रखी थी,  जिसका मूलांक भी (1+4+4=9) 9 था।

नायडू ने किया PM का खुला समर्थन, शेयर बाजार में आई तूफानी तेजी 

NDA गठबंधन नेताओं ने आज नरेंद्र मोदी का समर्थन किया। वहीं TDP प्रमुख चंद्रबाबू नायडू ने भी नरेंद्र मोदी का प्रधानमंत्री बनने के लिए खुला समर्थन किया है। नायडू के समर्थन करते ही शेयर बाजार ( Stock Market ) में तूफानी तेजी आ गई। सेंसेक्‍स 1440 अंक से ज्‍यादा चढ़कर 76504 पर पहुंच गया, जबकि निफ्टी 400 अंक चढ़कर 23,230 लेवल पर पहुंच गया।

 

thesootr links

 

सबसे पहले और सबसे बेहतर खबरें पाने के लिए thesootr के व्हाट्सएप चैनल को Follow करना न भूलें। join करने के लिए इसी लाइन पर क्लिक करें

द सूत्र की खबरें आपको कैसी लगती हैं? Google my Business पर हमें कमेंट के साथ रिव्यू दें। कमेंट करने के लिए इसी लिंक पर क्लिक करें

 

 

पुनर्वसु नक्षत्र में शपथ लेंगे मोदी narendra modi Narendra Modi Oath Ceremony NDA एनडीए सरकार शपथ ग्रहण 9 जून को PM पद की शपथ नरेंद्र मोदी