INDORE: TI हाकम सिंह सुसाइड केस; आरोपी रंजना खांडे और TI की तीसरी पत्नी रेशमा जेल में एक ही बैरक में, आरोपी गोविंद फरार

author-image
The Sootr CG
एडिट
New Update
INDORE: TI हाकम सिंह सुसाइड केस; आरोपी रंजना खांडे और TI की तीसरी पत्नी रेशमा जेल में एक ही बैरक में, आरोपी गोविंद फरार

INDORE. इंदौर के TI हाकम सिंह सुसाइड केस में आरोपी ASI रंजना खांडे और TI की तीसरी पत्नी रेशमा को जेल के एक ही बैरक में रखा गया है। एक ही केस में आरोपी होने के कारण दोनों साथ में वक्त बीता रही हैं। दोनों के बीच खूब बातें हो रही हैं। इन दोनों के साथ 4 और महिला अपराधियों को भी रखा गया है। 





सात दिन के लिए क्वारंटाईन





जिला जेल के अधीक्षक (District Jail Superintendent) अमजेर सिंह ठाकुर ने बताया कि रंजना और रेशमा 18 जुलाई की शाम जेल में दाखिल हुई थीं। दोनों को महिला सेल के वॉर्ड में क्वारंटाईन किया है। इस वॉर्ड में आमतौर पर नए कैदियों के 7 दिन के लिए रखा जाता है। 18 जुलाई को रंजना और रेशमा के साथ 4 और महिला कैदी जेल में दाखिल हुई थीं। उन्हें भी यही रखा गया है। जेल अधीक्षक ने बताया कि उनके बीच क्या बातचीत हुई यह उन्हें नहीं पता।





जेल में साथ वक्त बिता रहीं रंजना और रेशमा





जेल अधीक्षक के मुताबिक रात में रंजना और रेशमा का व्यवहार सामान्य था। दोनों के बीच कोई विवाद भी नहीं हुआ और ना ही दोनों के चेहरे पर किसी भी तरह का पछतावा दिखा। 19 जुलाई की सुबह दोनों के मुलायजे के लिये बुलाया गया था। इस दौरान भी उन्होंने सवालों का सामान्य तरह जवाब दिया था। जेल अधीक्षक के मुताबिक मंगलवार को रंजना व रेशमा से मिलने उनके परिवार के लोग नहीं पहुंचे थे। दोनों के व्यवहार का जेल में ध्यान रखा जा रहा है। 





महिला ऑफिसर्स का कहना है कि 18 जुलाई की रात रंजना और रेशमा ने सामान्य तरह जेल का खाना खाया था। वहीं 19 जुलाई की सुबह वे प्रार्थना में भी शामिल हुईं और साथ चाय भी पी। मंगलवार को रंजना ने बैरक में आईं अन्य महिला कैदियों से भी बात की थी। 





चर्चा TI हाकम सिंह की





सूत्रों के मुताबिक रेशमा और रंजना पूरा समय एक साथ ही बिता रही हैं। दोनों के बीच बातचीत भी टीआई हाकम के बारे में ही हो रही है। जानकारी के मुताबिक दोनों ने TI से पहली बार मिलने की जगह और वजह पूछी थी। रंजना ने रेशमा से पूछा कि जब TI की पहले से ही दो पत्नियां थीं तो तुमने कैसे शादी की। जबकि रेशमा ने रंजना से लेनदेन को लेकर सवाल जवाब किए। हालांकि गिरफ्तार होने के बाद जब पुलिस ने दोनों को रिमांड पर लिया था तो दोनों ने एक दूसरे पर आरोप लगाए थे। दोनों के बीच उस वक्त बहस भी हुई थी।





आरोपी के ठिकानों पर पुलिस की छापेमारी





पुलिस ने 1 और आरोपी व्यापारी गोविंद के ठिकानों पर छापा मारा। लेकिन वह पुलिस के हाथों से बच निकला। पुलिस के मुताबिक 18 जुलाई को गोंविद की अग्रिम जमानत निरस्त (anticipatory bail cancelled) हो चुकी है। गोविंद पर TI हाकम सिंह के 25 लाख रुपए नहीं लौटाने का आरोप है। पुलिस की 1 टीम उसकी तलाश में लगी है। 



 



Madhya Pradesh मध्यप्रदेश इंदौर Indore Suicide Case ASI Crime क्राइम TI Hakam Singh Jail सुसाइड केस एएसआई टीआई हाकम सिंह जेल