JABALPUR: रानी दुर्गावती को श्रद्धांजलि देने समाधिस्थल पहुंचे CM शिवराज, ऐलान- 'रानी दुर्गावती का पाठ' सिलेबस में शामिल होगा

author-image
The Sootr CG
एडिट
New Update
JABALPUR: रानी दुर्गावती को श्रद्धांजलि देने समाधिस्थल पहुंचे CM शिवराज, ऐलान- 'रानी दुर्गावती का पाठ' सिलेबस में शामिल होगा

JABALPUR. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 24 जून को वीरांगना रानी दुर्गावती के बलिदान दिवस पर जबलपुर स्थित समाधि स्थल पहुंचे। जहां CM शिवराज ने वीरांगना रानी दुर्गावती की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किए और स्थानीय कार्यक्रम का हिस्सा भी बने। 





CM शिवराज का बड़ा ऐलान





24 जून 2022 को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जबलपुर में रानी दुर्गावती के नाम एक बड़ा ऐलान किया। ऐलान करते हुए सीएम शिवराज ने कहा कि वीरांगना रानी दुर्गावती की शौर्य गाथा पाठ्यक्रम में शामिल होगी। वीरांगना की वीरगाथा को 'रानी दुर्गावती का पाठ' नाम से बच्चों को पढ़ाया जाएगा। इसके साथ ही सीएम ने बीजेपी को शामिल करते हुए कहा कि भाजपा हमेशा से ही जनजाति नायकों को सम्मान देते आ रही है। 





रानी दुर्गावती बलिदान दिवस पर RDVV की गड़बड़





रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय प्रशासन अपनी टाइपिंग मिस्टेक के लिए हंसी का पात्र बन गया। 23 जून को जबलपुर की वीरांगना रानी दुर्गावती के बलिदान दिवस (24 जून) के अवसर पर कुलसचिव बृजेश सिंह ने एक आदेश जारी किया था। आदेश में रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय का बलिदान दिवस मनाने की बात थी। गलती का पता लगने के बाद जल्दबाजी में आदेश को सुधारा गया। लेकिन तब तक वह आदेश चर्चा का विषय बन चुका था। 





आदेश 24 जून को रानी दुर्गावती के बलिदान दिवस के संबंध में था। आदेश में शिक्षकों, कर्मचारियों, अधिकारियों और छात्रों को उपस्थित रहने की बात लिखी थी। लेकिन कुलपति कपिल देव मिश्र की अध्यक्ष्ता में ही इस आदेश में लापरवाही के चलते रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय का बलिदान दिवस मनाने की छप गई। जिससे आदेश को लेकर सोशल मीडिया पर बड़ा बवाल खड़ा हो गया।



जबलपुर education मुख्यमंत्री शिवराज Jabalpur राजनीति बलिदान दिवस एजुकेशन विश्वविद्यालय सिलेबस politics नया पाठ syllabus University new chapter Sacrifice day CM Shivraj