Mandla के नारायणगंज में फुल्की खाने से 30 बच्चों को Food प्वाइजनिंग, Jila अस्पताल में इलाज जारी, फुल्की वालों की भी हुई जांच
होम / मध्‍यप्रदेश / मंडला के नारायणगंज में फुल्की खाने से 30...

मंडला के नारायणगंज में फुल्की खाने से 30 बच्चों को फूड प्वाइजनिंग, जिला अस्पताल में इलाज जारी, फुल्की वालों की भी हुई जांच

Rajeev Upadhyay
Oct 25, 2022 07:03 PM

Mandla. मंडला के नारायणगंज ब्लॉक के समीप सिरोही डूंगरी रोड और उसके आसपास के गांवों के 30 से अधिक बच्चे शनिवार को फुल्की खाने के बाद फूड प्वाइजनिंग के शिकार हो गए। उन्हें उल्टी-दस्त की शिकायत होने के बाद स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र और फिर जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। सभी की हालत में सुधार भी देखा जा रहा है। 


दरअसल, बच्चों ने गांव में बाहर घूम-घूमकर फुल्की बेचने वाले से फुल्की खाई थी, इसके बाद वे उल्टी-दस्त से पीड़ित हो गए। स्वास्थ्य विभाग को जानकारी मिलने के बाद कुछ बच्चों को नारायणगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया। कुछ बच्चों को सीधे मंडला जिला अस्प्ताल में भर्ती कराया गया था। 

फुल्की वालों की भी हुई जांच

इधर गांव में घूम-घूमकर फुल्की बेचने वालों की भी प्रशासन ने जांच पड़ताल की है। जांच में पाया गया कि रिलायंस पेट्रोल पंप के पीछे हीरालाल की जमीन पर 6-7 परिवार रहते हैं। यूपी के जालौन के निवासी ये लोग घूम-घूमकर फुल्की और आइसक्रीम बेचने का काम करते हैं। इस दौरान यूनुस मंसूरी नामक युवक को पकड़ा गया जिसने बच्चों को फुल्की खिलाई थी। बच्चों ने भी यूनुस को पहचान लिया है। इसी तरह चिरईडोंगरी में यूसुफ नामक युवक से भी पूछताछ की जा रही है। सभी की खटाई में ज्यादा मात्रा में साइट्रिक एसिड होने की संभावना है। जिनका सैंपल प्रशासन ने लिया है। वहीं कोतवाली थाने में मामले की एफआईआर भी दर्ज कराई गई है। 

द-सूत्र ऐप डाउनलोड करें :
Like & Follow Our Social Media