GUNA: मतदानकर्मियों पर पत्थर बरसाने वालों के घर पर प्रशासन ने चलाया बुलडोजर

author-image
Naveen Modi
एडिट
New Update
GUNA: मतदानकर्मियों पर पत्थर बरसाने वालों के घर पर प्रशासन ने चलाया बुलडोजर

GUNA.पंचायत चुनाव (Panchayat Election) में मतदान दल और पुलिस पर हमला करने वालों के घर जमींदोज कर दिए गए हैं। गुना जिले में 25 जून को पहले चरण का मतदान हुआ था। पिपरोदा गांव में मतदान दल पर ग्रामीणों ने हमला कर दिया था। ग्रामीणों ने उनकी गाड़ियों पर पत्थर फेंके थे। इस घटना में कई कर्मचारी गंभीर घायल होने से बचे थे। जानकारी के अनुसार, करीब 250 लोगों ने बूथ को घेर लिया था और मतदान कार्य में लगे लोगों पर हमला कर दिया था। 





पिछले दिनों राजस्व की टीम ने गांव में पहुंचकर आरोपियों के घरों को नापा था और निर्माण से संबंधित जांच की थी। इसमें कई घर अवैध (illegal construction) बने मिले। 29 जून की शाम तहसीलदार सिद्धार्थ शर्मा (Tehsildar Siddharth Sharma) के नेतृत्व में टीम ने पहुंचकर अवैध निर्माण को ढहा दिया। 25 जून को मतदान कार्य में बाधा डालने के लिए पुलिस ने कुछ नामजद आरोपियों सहित अज्ञात आरोपियों पर केस दर्ज किया था।





तहसीलदार और टीआई मकान तोड़ने पहुंचे





तहसीलदार सिद्धार्थ शर्मा और कैंट टीआई विनोद छावई (Vinod Chhawai) जब मुख्य आरोपी के मकान को तोड़ने पहुंचे, तो यहां पर भारी भीड़ एकत्रित हो गई। पुलिस ने मौके से भीड़ को हटाया। वहीं कुछ लोग यह कहते नजर आए कि साहब, हमारा घर तो नहीं तोड़ेंगे। इस दौरान कैंट थाना प्रभारी ने कहा कि आप लोग फरार आरोपितों को हाजिर कराओ, नहीं तो उनके घरों पर भी बुलडोजर चलाए जाएंगे।





17 आरोपी चल रहे फरार





पिपरोदा खुर्द पंचायत चुनाव का मुख्य आरोपी, जिसके मकान पर बुलडोजर चलाया गया है, वह अभी फरार है। पुलिस के अनुसार अभी अनिल पुत्र राधेश्याम कुशवाह, मोहन कुशवाह, सुंदरलाल कुशवाह, राजू लोधा, अभि जाटव, नंगा कुशवाह, सुनील लोधा, रानू धाकड़, राहुल कुशवाह, रमेश कुशवाह, नरेंद्र कुशवाह,धमेंद्र कुशवाह, असलम कुर्रेशी निवासी कर्नलगंज, जमना कुशवाह निवासी पिपरोदा खुर्द, जगदीश कुशवाह, दुर्गेश कुशवाह और मुकेश जाटव अभी फरार हैं। वहीं दूसरी ओर पुलिस ने आरोपी विवेक जाटव, जसवंत अहिरवार, नितिन कुशवाह, अभिषेक कुशवाह, घनश्याम अहिरवार, लक्ष्‌मीनारायण कुशवाह, मनमान कुशवाह और देवेंद्र कुशवाह को गिरफ्तार कर लिया है।



Violence Panchayat elections पंचायत चुनाव illegal construction अवैध निर्माण बुलडोजर हिंसा Tehsildar Siddharth Sharma Vinod Chhawai तहसीलदार सिद्धार्थ शर्मा विनोद छावई