WhatsApp की service डाउन होने पर सरकार ने Meta से 4 दिन के अंदर जवाब मांगा big news
होम / मध्‍यप्रदेश / व्हाट्सएप की सर्विस डाउन होने पर सरकार न...

व्हाट्सएप की सर्विस डाउन होने पर सरकार ने मेटा से 4 दिन के अंदर मांगा जवाब, हिमाचल विधानसभा में प्रचार की कमान संभालेंगे मोदी-शाह

Rahul Garhwal
Oct 27, 2022 06:30 AM

BHOPAL. सैर भी..खबर भी.. आप सुन रहे हैं द सूत्र पॉडकास्ट। आज देश-दुनिया की किन घटनाओं पर रहेगी हमारी नजर।

व्हाट्सएप सर्विस डाउन होने पर मेटा को देना होगा जवाब


मंगलवार को 2 घंटे तक बंद रही व्हाट्सएप की सर्विस वाले मामले में भारत सरकार ने कड़ा रुख अपनाया है। IT मंत्रालय ने मेटा से इस सिलसिले में एक विस्तृत जवाब मांगा है। कहा गया है कि कंपनी को 4 दिन के भीतर जवाब देना होगा। सरकार जानने का प्रयास कर रही है कि आखिर किस कारण से व्हाट्सएप 2 घंटे तक बंद रहा था। मंगलवार दोपहर 12.30 बजे के करीब ऐसी खबरें आने लगी थीं कि व्हाट्सएप काम नहीं कर रहा है। लोग ना तो कोई मैसेज सेंड कर पा रहे थे और ना ही कोई मैसेज रिसीव हो रहा था। इसके बाद में ट्विटर पर कई लोगों ने व्हाट्सएप में खराबी को लेकर शिकायत की और देखते ही देखते #whatsappdown ट्रेंड करने लगा था।

हिमाचल चुनाव में प्रचार करेंगे पीएम मोदी और गृह मंत्री अमित शाह

हिमाचल विधानसभा चुनाव के अंतिम दौर में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह प्रचार का जिम्मा संभालेंगे। हिमाचल भाजपा ने चुनावी रैलियों के लिए प्रस्ताव हाई कमान को स्वीकृति के लिए भेज दिया है। हाई कमान की स्वीकृति के बाद ही इसे फाइनल कर दिया जाएगा। पार्टी ने 4 से 10 नवंबर के बीच मोदी और शाह की ताबड़तोड़ रैलियां करवाने का निर्णय लिया है।

ट्विटर नहीं खरीदेंगे एलन मस्क

टेस्ला के मालिक एलन मस्क (Elon Musk) ने जब से ट्विटर (Twitter) खरीदने की बात की। तब से ये डील खटाई में पड़ी नजर आई लेकिन अब खबर आ रही है कि मस्क इस डील को बंद करना चाहते हैं। वो ट्विटर आईएनसी (Twitter INC) के साथ अपनी 44 बिलियन डॉलर की डील को शुक्रवार 28 अक्टूबर 2022 तक बंद करने की योजना बना रहे हैं। इस बाबत उन्होंने सोशल मीडिया फर्म अधिग्रहण से संबंधित सह-निवेशकों को सूचित भी किया है। एलन मस्क के पास शुक्रवार शाम 5 बजे तक ट्विटर अधिग्रहण सौदा बंद करना होगा नहीं तो उन्हें अदालत में मुकदमे का सामना करना पड़ेगा। सूत्रों के अनुसार इस संबंध में सिकोइया कैपिटल, कतर इन्वेस्टमेंट अथॉरिटी, बिनेंस सहित अन्य निवेशकों ने मस्क के वकीलों से अधिग्रहण संबंधित कार्रवाई के लिए जरूरी दस्तावेज प्राप्त कर लिए हैं।

यूक्रेन छोड़ दें भारतीय

यूक्रेन में रूसी हमला लगातार जारी है। इस बीच यूक्रेन स्थित भारतीय दूतावास ने एक नई एडवाइजरी जारी की है। सभी भारतीय नागरिकों को तुरंत देश छोड़ने के लिए कहा है। दूतावास ने रूस और यूक्रेन के बीच बढ़ती शत्रुता के मद्देनजर ये परामर्श जारी किया है। यूक्रेन में बिगड़ती सुरक्षा स्थिति के बाद इसी तरह का एक परामर्श जारी किया गया था। आपको बता दें कि दूतावास ने एक हफ्ते से भी कम समय में ये दूसरी एडवाइजरी जारी की है। दूतावास ने कहा कि 19 अक्टूबर को दूतावास द्वारा जारी परामर्श के अगले क्रम के तहत यूक्रेन में सभी भारतीय नागरिकों को सलाह दी जाती है कि वे उपलब्ध साधनों से तुरंत यूक्रेन छोड़ दें। भारतीय दूतावास ने कहा कि पहले के परामर्श का अनुसरण करते हुए कुछ भारतीय नागरिक यूक्रेन छोड़ चुके हैं। भारतीय दूतावास ने भारतीय नागरिकों से कहा है कि देश से बाहर जाने के लिए यूक्रेनी सीमा तक की यात्रा की खातिर वे किसी मार्गदर्शन या सहायता के लिए उससे संपर्क कर सकते हैं।

द-सूत्र ऐप डाउनलोड करें :
Like & Follow Our Social Media