INDORE: TI हाकम केस में नया खुलासा, गर्लफ्रेंड और घर के लिए एक जैसा सामान खरीदते थे; पैसे को लेकर रंजना-पुलिस के अपने-अपने तर्क

author-image
The Sootr CG
एडिट
New Update
INDORE: TI हाकम केस में नया खुलासा, गर्लफ्रेंड और घर के लिए एक जैसा सामान खरीदते थे; पैसे को लेकर रंजना-पुलिस के अपने-अपने तर्क

संजय गुप्ता, INDORE. TI हाकम सिंह पवार सुसाइड मामले में हर दिन नए खुलासे हो रहे हैं। पुलिस द्वारा की जा रही जांच में चौंकाने वाली बात सामने आई है कि TI हाकम अपनी महिला मित्र और अपने घर के लिए एक जैसे ही सामान खरीदते थे। पुलिस द्वारा की गई टीआई की गर्लफ्रेंड और उनके घर की तलाश की तो पता चला दोनों ही जगहों पर सामान एक जैसा ही है। टीआई के घर की जांच के दौरान हाकम सिंह की गर्लफ्रेंड ने कहा कि अरे ये सब सामान तो मेरे यहां भी है। टीआई के घर के पंखे और टीवी उसकी गर्लफ्रेंड के घर से मैच करते हैं। फिर एक-एक कर उसने बैडशीट, जूते रखने के फर्नीचर, बाथ टब, गैस चूल्हा को देखकर भी यही कहा। 





सभी को क्रॉस चेक कर रही है पुलिस





पुलिस ने दोनों घरों में खुद भी इन सामान को देखकर क्रॉस चेक किया, दोनों जगह कई सामान एक जैसे ही पाए गए। वहीं, पुलिस अभी भी महिला पुलिसकर्मी के मोबाइल को नहीं ढूंढ पाई है। पुलिस वाइस सैंपल भी ले रही है, जिससे आगे कॉल रिकॉर्डिंग में दोनों पक्षों की बातों की जांच हो सके।





दूसरी पत्नी और रंजना दो बार रिमांड पर





इंदौर के TI हाकमसिंह सुसाइड केस में ASI रंजना और दूसरी पत्नी रेश्मा को पुलिस ने दो बार रिमांड पर लेकर पूछताछ कर चुकी है। 18 जुलाई को रंजना को कोर्ट में पेश किया गया। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक उसके खिलाफ सबूत मिल चुके हैं। रेशमा की 17 जुलाई को वॉईस रिकॉर्ड की गई थी। इस रिकॉरिडिंग को फोरेंसिक जांच के लिए भी भेजा गया है।





अजाक थाने में बंद ASI रंजना खांडे और दूसरी पत्नी रेशमा उर्फ जागृति को रिमांड पर लेकर पुलिस लगातार पूछताछ कर रही है। पुलिस ने जब रंजना से पूछताछ की तो वह चिढ़ गई और बोली खुद का पैसा लेना क्या गलत है। जिस टीआई की मौत हुई, उसने भी मुझ पर गोली चलाई थी। उसके चक्कर में मेरा भाई मर गया। मुझ पर लगे आरोप गलत हैं।





SIT के पास रंजना के डॉक्यूमेंट्स





पुलिस ने रंजना को रेप के केस में फंसाने और दबाव बनाकर रुपए मांगने के मामले में आरोपी बनाया है। वहीं, रंजना के वकील का कहना है कि वह सारे डॉक्यूमेंट्स स्पेशल इंवेस्टीगेशन टीम (SIT) को दे चुकी है। इन डॉक्यूमेंट्स के अनुसार, वह कानूनन TI हाकम सिंह से पैसे मांग रही थी। उधर, पुलिस का कहना है कि रंजना TI हाकम सिंह को ब्लैकमेल कर रही थी। हालांकि, हाकमसिंह ने इस बात की शिकायत कभी भी किसी अधिकारी से नहीं की। वहीं, रंजना ने अपने पैसे वापस लेने के मामले में पहले ही भोपाल के अधिकारियों से शिकायत दर्ज करा दी थी।





24 घंटे तक नहीं पेश हुई रंजना





पुलिस ने रंजना को 11 जुलाई को अरेस्ट किया था, लेकिन 24 घंटे बीतने के बाद भी अफसरों ने उसे कोर्ट में पेश नहीं किया। 24 घंटे तक रंजना को जब कोर्ट में पेश नहीं किया गया तो परिवारवालों वकील की मदद लेकर कोर्ट से शिकायत की। कोर्ट ने पुलिस अधिकारियों के माध्यम से नोटिस टाइप करवाना शुरू कर दिया था। तब पुलिस अधिकारी रंजना को लेकर कोर्ट पहुंचे। अजाक थाने में भी महिला अधिकारी ही रंजना से पूछताछ कर रही है।



मध्यप्रदेश इंदौर Indore भोपाल Bhopal ASI madhyapradesh SUICIDE Crime क्राइम सुसाइड एएसआई टीआई TI