इंदौर: एकतरफा प्यार में लड़की से बदला लेने के लिए युवक ने स्कूटी में लगाई थी आग

author-image
Rahul Garhwal
एडिट
New Update
इंदौर: एकतरफा प्यार में लड़की से बदला लेने के लिए युवक ने स्कूटी में लगाई थी आग

ललित उपमन्यु, Indore. इंदौर की दो मंजिला इमारत में आग लगने के मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। बिल्डिंग में आग एकतरफा प्यार के चक्कर में एक युवक ने लड़की की स्कूटी में लगाई थी। युवक का नाम संजय उर्फ शुभम दीक्षित बताया जा रहा है। वो लड़की से प्यार करता था और शादी करना चाहता था लेकिन लड़की ने इनकार कर दिया। इस बात को लेकर उसका लड़की से विवाद हुआ और उसने बदला लेने के लिए लड़की की स्कूटी में आग लगा दी थी। स्कूटी की आग पूरी बिल्डिंग में फैल गई। ये खुलासा मकान मालिक इंसाफ पटेल के घर के पास लगे सीसीटीवी कैमरे में रिकॉर्ड हुए फुटेज से हुआ है। फुटेज में आरोपी युवक एक स्कूटी में आग लगाता हुआ दिख रहा है।





कैमरे और बिजली के मीटर के साथ की छेड़छाड़





CCTV फुटेज में एक सफेद शर्ट पहने युवक दिखाई दिया। उसने पार्किंग में खड़े वाहन ने पेट्रोल निकाला और स्कूटी को आग लगा दी। कुछ देर बाद लड़का फिर से इमारत में आया और सीसीटीवी और बिजली मीटर से छेड़छाड़ की। स्वर्ण बाग की जिस बिल्डिंग में आग लगी थी उसके CCTV पूरी तरह से जल गए।





6 मई की देर रात दो मंजिला इमारत में लगी थी आग





इंदौर में 6 मई की देर रात दो मंजिला इमारत में आग लग गई थी। हादसे में 7 लोग जिंदा जल गए थे। मृतकों में 6 पुरुष और एक महिला भी शामिल थी। घटना के बाद फायर ब्रिगेड और पुलिस की टीम मौके पर पहुंची थी। पुलिस ने मृतकों के शव MY अस्पताल भेजे। घटना के वक्त सभी लोग सो रहे थे।





नींद में ही झुलस गए थे लोग, 9 को बचाया





बिल्डिंग में आग लगने से कई लोग सोते हुए ही झुलस गए थे। खजराना रिंग रोड पर स्वर्ण कॉलोनी में 2 मंजिला बिल्डिंग में आग लगी थी। यहां 13 टू व्हीलर और एक फोर व्हीलर गाड़ी जल गई। बिल्डिंग में 10 फ्लैट हैं। रात में करीब 9 लोगो को रेस्क्यू करके बिल्डिंग से बाहर निकाला था।





6 महीने पहले रहने आए दंपति की मौत





आग में मरने वालों में ईश्वर सिसौदिया और उनकी पत्नी नीता सिसौदिया भी शामिल हैं । जिस इमारत में दोनों जले उसके सामने ही इनका मकान बन रहा था और निगरानी के लिए छह महीने पहले ही इस इमारत में रहने आए थे। दोनों की शादी को आठ साल पहले हुई थी। दोपहर में दोनों का शव घर पहुंचा और फिर साथ-साथ शवयात्रा निकाली  गई। पुलिस के मुताबिक दोनों की मौत दम घुटने से हुई। इनके अलावा गौरव की मृत्यु भी दम घुटने से हुई है, जबकि आशीष, आकांक्षा और दो अन्य की मौत  जलने के कारण हुई। 9 घायलों का हॉस्पिटल में इलाज चल रहा है।





बहन को छोड़ने आया था, मौत ले गई





मृतकों में बैतूल निवासी देवेंद्र साल्वे भी है। वो अपनी बहन को इंदौर के बास्केट बॉल काम्प्लेक्स मे चल रहे टूर्नामेंट के लिए छोड़ने आया था। रात में बैतूल के ही रहने वाले दोस्त गौरव के साथ  इसी इमारत में रुक गया। रात में हुई घटना में दोनों की मौत हो गई। एक अन्य मृतक देवास निवासी आशीष राठौर है।



MP News मध्यप्रदेश MP इंदौर Indore fire मध्यप्रदेश की खबरें love REVENGE girl प्यार scooty Building लड़की expose building fire case बिल्डिंग आग मामला बदला