सागर में मुख्यमंत्री कन्यादान योजना में बांट दी सेंसुई कंपनी की नकली टीवी, पुलिस ने 2 सप्लायर को किया गिरफ्तार

author-image
Neha Thakur
एडिट
New Update
सागर में मुख्यमंत्री कन्यादान योजना में बांट दी सेंसुई कंपनी की नकली टीवी, पुलिस ने 2 सप्लायर को किया गिरफ्तार

SAGAR. मध्यप्रदेश के सागर के गढ़ाकोटा में आयोजित हुए सामूहिक मुख्यमंत्री कन्यादान योजना में गड़बड़ी का खुलासा हुआ है। यहां जोड़ों को उपहार में सैंसुइ कंपनी की नकली टीवी बांट दी गई थी। मामले की शिकायत के बाद पुलिस ने 2 सप्लायर को गिरफ्तार कर लिया है। दरसअल, 11 मार्च को मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत विवाह समारोह आयोजित किया था। जिसमें पीडब्ल्यूडी मंत्री गोपाल भार्गव ने नव दंपत्तियों को कई उपहार दिए थे, जिसमें सेंसुई कंपनी के नाम से नकली एलईडी टीवी भी शामिल थी।





बार-बार टीवी खराब होती थी टीवी





सागर में 11 मार्च को मुख्यमंत्री कन्यादान योजना में 1902 जोड़ों ने शादी की। इस दौरान पीडब्ल्यूडी मंत्री गोपाल भार्गव ने सभी जोड‍़ों को नकली एलईडी टीवी उपहार में दी। टीवी बार-बार बिगड़ने पर लोग जब सुधरवाने के लिए सर्विस सेंटर ले गए तो इस फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ। मामले का खुलासा होने के बाद कलेक्टर दीपक आर्य ने FIR के लिए एसपी अभिषेक तिवारी को पत्र लिखा था, जिस पर जालसाजी व कूटरचना की धाराओं में केस दर्ज हुआ है। दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।





ये भी पढ़ें...





उमरिया हादसे पर दीपक जोशी का शिवराज पर गंभीर आरोप- इवेंट के लिए बसें जुटाई जाती हैं, इसी से हादसे, मोदी से क्यों नहीं सीखते सीएम?





पुलिस ने आरोपियों को किया अरेस्ट





पुलिस ने निविदा के आधार पर टीवी सप्लाई करने वाले राधाकृष्ण रेस्टोरेंट के संचालक मुकेश साहू और टीवी सप्लाई करने वाले दिल्ली के राजू गुप्ता को गिरफ्तार कर लिया है। इस पूरे मामले में सामाजिक न्याय विभाग और गढ़ाकोटा नगर पालिका की भूमिका सवालों के घेरे में है। 7,777 रुपए प्रति टीवी के हिसाब से कुल 1902 टीवी खरीदी गई थी। बांटी गई बाकी टीवी का 1 करोड़ 40 लाख  रुपए का भुगतान कर दिया है।





कन्यादान योजना में अब मिलेगा चेक





मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुरहानपुर में मार्च को आयोजित एक बैठक में कहा था कि कन्यादान योजना में कई शिकायतें लगातार आ रही है। जिसमें बेटियों को गुणवत्ताहीन सामग्री की शिकायत सबसे अधिक है। जिसे दूर करने के लिए हमारी सरकार ने एक निर्णय लेते हुए यह फैसला किया है कि अब कन्यादान योजना में बेटी को चेक दिया जाएगा। वह अपनी स्‍वेच्‍छा से सामान खरीद सकती है। वर्तमान में बेटियों को विवाह के समय 56000 रुपए की विवाह सामग्री दी जाती है। अभी पिछले दिनों कुछ जिलों में इस योजना में बांटे जाने वाले उपहारों में गड़बड़ी और घटिया क्वालिटी की शिकायतें मिली थी, जिसे लेकर खुद मध्य प्रदेश सरकार के 2 मंत्रियों मीना सिंह और कमल पटेल ने आपत्ति जताई थी।



bad goods in CM Kanyadan Yojana Fake TV distribution case in Sagar MP News सीएम कन्यादान योजना सीएम कन्यादान योजना में खराब सामान एमपी न्यूज सागर में नकली टीवी वितरण मामला CM Kanyadan Yojana