Dhirendra Shastri के cousin को धमकी भरा call, कहा- तुम  Dhirendra की thirteenth की तैयारी कर लेना -madhya pradesh News
होम / मध्‍यप्रदेश / छतरपुर में कथावाचक धीरेंद्र के चचेरे भाई...

छतरपुर में कथावाचक धीरेंद्र के चचेरे भाई को धमकी भरा कॉल, कहा- तुम शास्त्री की तेरहवीं की तैयारी कर लेना और फोन काट दिया

Saurabh Balaiaya
24,जनवरी 2023, (अपडेटेड 24,जनवरी 2023 01:38 PM IST)
बागेश्वर धाम के कथावाचक धीरेंद्र शास्त्री। (फाइल फोटो)
बागेश्वर धाम के कथावाचक धीरेंद्र शास्त्री। (फाइल फोटो)

हिमांशु अग्रवाल,  CHHATARPUR. बागेश्वर धाम सरकार के पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री इन दिनों कई विवादों में घिरे हैं। पिछले दिनों उन्हें नागपुर में एक व्यक्ति ने चुनौती दे दी थी। उन पर आरोप लग रहा है कि वे अंधविश्वास को बढ़ावा देते हैं और खुद को चमत्कारी कहते हैं। अब इन विवादों के बीच धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री को जान से मारने की धमकी मिली है। शास्त्री के मध्य प्रदेश स्थित छतरपुर जिला निवासी चचेरे भाई लोकेश गर्ग के मोबाइल नंबर पर धमकी भरा कॉल आया था। लोकेश गर्ग ने पुलिस से संपर्क किया। छतरपुर की बमीठा पुलिस ने इस मामले में धारा 506 और 507 के तहत FIR दर्ज कर ली है। इधर, भोपाल में नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि बागेश्वर को धमकी मामले में एफआईआर दर्ज कर ली गई है। जांच में साइबर सेल की भी मदद ली जाएगी।

रात 9:15 बजे आया था कॉल

जिले के बमीठा थाना इलाके के गढ़ा गांव में रहने वाले लोकेश गर्ग (27 साल) बागेश्वर धाम पीठाधीश्वर धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री के चचेरे भाई हैं। बीते 22 जनवरी, रविवार की रात 9:15 बजे पर अज्ञात का कॉल आया। रिसीव करने पर दूसरी तरफ से शख्स बोला कि धीरेंद्र से बात कराओ। जब लोकेश गर्ग ने कहा कि कौन धीरेंद्र? तो कॉल करने वाले ने कहा कि धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री। इसके जवाब में लोकेश बोले कि  हमारी उन तक पहुंच नहीं है। बात करा पाना आसान नहीं है। यह सुन दूसरी तरफ से शख्स बोला कि मेरा नाम अमर सिंह है। तुम धीरेंद्र की तेरहवीं की तैयारी कर लेना और फोन काट दिया। 


ये खबर भी पढ़ें...

क्या है पूरा मामला? 

बागेश्वर धाम सरकार के नाम से विख्यात हो चुके छतरपुर जिले (मध्य प्रदेश) के गढ़ा गांव निवासी धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री इन दिनों सुर्खियों में बने हुए हैं। दरअसल, महाराष्ट्र के नागपुर में अंध श्रद्धा निर्मूलन समिति ने धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री पर एक कार्यक्रम के दौरान चमत्कार करने के नाम पर अंधविश्वास फैलाने का आरोप लगाया गया था। इस समिति के उपाध्यक्ष श्याम मानव का दावा था कि धीरेंद्र शास्त्री एफआईआर के डर से दो दिन पहले ही कथा को समाप्त कर नागपुर से चले गए। इसके बाद से बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री के पक्ष और विपक्ष में मीडिया से लेकर सोशल मीडिया तक में बहस छिड़ गई थी। 

पुलिस ने श्याम मानव की भी सुरक्षा बढ़ाई

बागेश्वर धाम धीरेंद्र शास्त्री को धमकी मिलने के बाद श्याम मानव की भी सुरक्षा बढ़ा दी गई है। महाराष्ट्र की स्पेशल प्रोटेक्शन यूनिट के हथियारबंद 2 जवान उनकी सुरक्षा में होते थे। बावजूद इसके अब श्याम मानव की सुरक्षा और बढ़ा दी गई है। अब श्याम मानव के साथ 2 एसपीयू के जवान समेत 2 गनमैन और 4 पुलिस कर्मचारियों के साथ एक अधिकारी भी मौजूद रहेगा। 

वीडियो देखें- 

द-सूत्र ऐप डाउनलोड करें :
Like & Follow Our Social Media