ग्वालियर में पुलिस के हत्थे चढ़े फर्जी वकील और जमानतदार, गरीब पक्षकारों को बनाते थे निशाना, ऋण पुस्तिका भी हड़प लेते हैं

author-image
Vikram Jain
एडिट
New Update
ग्वालियर में पुलिस के हत्थे चढ़े फर्जी वकील और जमानतदार, गरीब पक्षकारों को बनाते थे निशाना, ऋण पुस्तिका भी हड़प लेते हैं

जितेंद्र सिंह, GWALIOR. ग्वालियर पुलिस ने फर्जी वकील और जमानतदार को गिरफ्तार किया है। ये शातिर लोग न्याय के लिए कोर्ट आए गरीब लोगों को निशाना बनाते थे। फर्जीवाड़ा करने वाले लोगों को बार काउंसिल के अध्यक्ष ने दबोचकर इंदरगंज थाना पुलिस के हवाले किया। 





सुबह-सुबह कोर्ट आकर तलाशते है शिकार





जिला एवं सत्र न्यायालय में फर्जी वकील और जमानतदार का गिरोह सक्रिय बना हुआ है। जो कोर्ट में आने वाले गरीब भोले-भाले किसानों को अपना निशाना बनाते है। ये शातिर जालसाज फर्जी वकील बनकर सुबह-सुबह काला पेंट और सफेद शर्ट पहनकर जिला न्यायालय आ जाते हैं। उनके साथ फर्जी जमानतदार भी शामिल होते हैं। ये लोग ग्रामीण इलाकों से आने वाले गरीब भोले-भाले लोगों को अपनी बातों में फंसाकर उनके उनकी ऋण पुस्तिका हड़प लेते हैं। वह किसी भी वकील के नाम के फर्जी हस्ताक्षर कर कोर्ट की कार्यवाही में शामिल होते हो जाते हैं। इतना ही नहीं गरीबों से हड़पी ऋण पुस्तिका से फर्जी जमानत देते रहते हैं। 





बार काउंसिल के अध्यक्ष पवन पाठक ने पकड़ा





ग्वालियर बार काउंसिल के अध्यक्ष पवन पाठक के मुताबिक वे जिला कोर्ट में मौजूद थे। इस दौरान उन्होने फर्जी वकीलों के गिरोह को कोर्ट में देखा। इन लोगों में एक को वह पहचानते थे। इसके बाद पवन पाठक ने चार फर्जी वकीलों और जमानतदार को पकड़ लिया। जब उनसे रजिस्ट्रेशन पूछा गया तो कोई रजिस्ट्रेशन नहीं दिखा सके। जिसके सभी आरोपियों को इंदरगंज थाना पुलिस के हवाले कर लिया गया। 





ये भी पढ़े... 





गरियाबंद में अतिक्रमण हटाने गई वन विभाग की टीम पर हमला, अतिक्रमणकारियों ने अधिकारी पर किया जानलेवा हमला, गाड़ी में की तोड़फोड़





पहले भी सामने चुका है फर्जी जमानत का मामला





बार काउंसिल के अध्यक्ष पवन पाठक ने बताया कि पूर्व में फर्जी जमानत का मामला सामने आ चुका है। वकीलों की संख्या इतनी अधिक है कि असली-नकली पहचानना आसान नहीं है। जो फर्जी वकील और जमानतमदार पकड़े हैं उनमें से एक को पहले से जानता था। कोर्ट में देखकर उसे दबोचा तो उसके गिरोह के अन्य साथ भाग खड़े हुए।



ग्वालियर बार काउंसिल के अध्यक्ष इंदरगंज थाना पुलिस फर्जी वकील और जमानतदार ग्वालियर पुलिस President of Gwalior Bar Council Inderganj Police Station Fake Lawyer and Surety Gwalior Police