Bhagwant Mann Wedding: पंजाब के मुख्यमंत्री कर रहे हैं दूसरी शादी; CM हाउस में होंगी रस्में, भगवंत की होने वाली पत्नी हैं डॉक्टर

Shivasheesh Tiwari
Jul 6, 2022 06:41 PM
डॉ. गुरप्रीत कौर और भगवंत मान।
डॉ. गुरप्रीत कौर और भगवंत मान।

CHANDIGARH. पंजाब (Punjab ) के मुख्यमंत्री भगवंत मान (Bhagwant Mann) शादी करने जा रहे हैं। बताया जा रहा है कि भगवंत मान के एक करीबी परिवार में ही यह शादी होने जा रही है। 48 साल के भगवंत मान का 2015 में पहली पत्नी इंद्रप्रीत कौर (Inderpreet Kaur) से तलाक हो गया था। उनके दो बच्चे हैं, जो भगवंत मान की पहली पत्नी के साथ अमेरिका में रहते हैं। चंडीगढ़ (Chandigarh) में आयोजन की तैयारी की गई हैं। शादी की रस्में चंडीगढ़ स्थित CM हाउस में होंगी।  इस शादी में बहुत ही खास लोग शामिल होंगे। भगवंत मान जिनसे शादी कर रहे हैं उनका नाम डॉ. गुरप्रीत कौर (Gurpreet Kaur) है। सीएम भगवंत मान की होने वाली पत्नी हरियाणा के पिहोवा की रहने वाली है। 

कुरुक्षेत्र का रहने वाला है परिवार, अंबाला से की एमबीबीएस की पढ़ाई


भगवंत मान की होने वाली दुल्हन गुरप्रीत कौर तीन बहनों में सबसे छोटी हैं। वे हरियाणा के कुरुक्षेत्र जिले की रहने वाली हैं। पिहोवा की तिलक कॉलोनी में उनका घर है। डॉ. गुरप्रीत कौर ने 2013 में अंबाला के मुलाना मेडिकल कॉलेज में दाखिला लिया था। 2017 में एमबीबीएस की पढ़ाई यही से पूरी की। डॉ. गुरप्रीत कौर के पिता इंद्रजीत सिंह किसान हैं। उनके पास गांव गुमथला गढू में करीब 50 एकड़ जमीन है। डॉ. गुरप्रीत कौर की माता राज हरजिंद्र कौर गृहिणी हैं। इंद्रजीत सिंह के पास कनाडा की नागरिकता भी है। गुरप्रीत की बड़ी बहन नीरू की शादी अमेरिका में हुई है। दूसरी बहन जग्गू ऑस्ट्रेलिया में अपने परिवार के साथ रहती हैं। 

'पंजाब के लिए छोड़ा था परिवार' 

भगवंत मान 2011 में राजनीति में आए थे। वे 2014 में पहली बार AAP के टिकट पर संगरूर से सांसद बने थे। तब उनकी पत्नी इंदरप्रीत कौर भी उनके प्रचार में नजर आई थीं। हालांकि, दोनों का 2015 में तलाक हो गया था। भगवंत मान ने 2019 में भी संगरूर से चुनाव जीता। 2022 में वे AAP की ओर से पंजाब में सीएम उम्मीदवार बने। उनके नेतृत्व में पार्टी को प्रचंड बहुमत मिला। भगवंत मान 16 मार्च 2022 को पंजाब के सीएम बने। इस दौरान उनके बेटे और बेटी भी कार्यक्रम में शामिल हुए थे।

अपनी पहली पत्नी को तलाक देने की वजह बताते हुए भगवंत मान ने कहा था कि वे राजनीति की वजह से परिवार को समय नहीं दे पा रहे हैं। इसलिए उनकी पत्नी से उनसे दूरी बना ली। इतना ही नहीं तलाक के बाद भगवंत मान ने सोशल मीडिया पर पोस्ट भी लिखा था। इसमें उन्होंने कहा था कि उन्होंने पंजाब को अपने परिवार के ऊपर चुना। राजनीति को पूरा समय देने के लिए वे पत्नी से अलग हो रहे हैं।

द-सूत्र ऐप डाउनलोड करें :
Like & Follow Our Social Media