IPL से  संन्यास पर धोनी बोले- फैसले के लिए 8-9 महीने, अभी से सिरदर्द नहीं लेना चाहता, CSK के साथ बना रहूंगा

author-image
BP Shrivastava
एडिट
New Update
IPL से  संन्यास पर धोनी बोले- फैसले के लिए 8-9 महीने, अभी से सिरदर्द नहीं लेना चाहता, CSK के साथ बना रहूंगा

स्पोर्ट्स डेस्क. चेन्नई सुपर किंग्स इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 16वें सीजन के फाइनल में पहुंच गई है। चेन्नई टीम रिकार्ड 10 बार आईपीएल का फाइनल खेली है। मंगलवार (23 मई) को पहले क्वालिफायर मैच में चेन्नई ने पिछले साल की चैंपियन गुजरात आइटंस को 15 रन से हरा दिया। मैच के बाद चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी आईपीएल से रिटायरमेंट को लेकर सवाल पूछा गया। जिस पर उन्होंने कहा कि इस पर फैसला लेने के लिए 8-9 महीने का समय है। अभी से सिरदर्द नहीं लेना चाहता हूं। धोनी ने कहा कि बस मझे इतना पता है कि मैं सीएसके के साथ बना रहूंगा। इस दौरान गुजरात के कप्तान हार्दिक पांड्य ने धोनी की तारीफ की और कहा कि मैच में हम विकेट गंवाते रहे, दूसरी तरफ धोनी गेंदबाजी में परिवर्तन करते रहे।





रिटायरमेंट पर- फैसला लेने के लिए वक्त है​





चेपक स्टेडियम में मंगलवार को चेन्नई ने गुजरात को हरा कर फाइनल में जगह बनाई। मैच के बाद प्राइस सेरेमनी के दौरान कमेंटेटर हर्षा भोगले ने धोनी से आईपीएल से रिटायरमेंट को लेकर बातचीत की। उन्होंने धोनी से पूछा कि क्या चेन्नई के दर्शक आपको फिर यहां देखेंगे, तो धोनी बोले कि आप ये पूछना चाह रहे हैं कि क्या मैं यहां फिर खेलूंगा या नहीं? उसके बाद भोगले ने धोनी से सवाल पूछा क्या चेपक में अगले सीजन में खेलने के लिए लौटेंगे? धोनी ने मुस्कराते हुए जवाब दिया कि मुझे नहीं पता। मेरे पास फैसला करने के लिए 8-9 महीने हैं। अभी इसे लेकर सिरदर्द नहीं लेना चाहता।





ये भी पढ़ें...















चेन्नई सुपर किंग्स से फिलहाल पता नहीं किस रोल में जुड़ा रहूंगा





धोनी ने कहा कि चाहे मैं बतौर खिलाड़ी रहूं या किसी और रूप में उनके साथ रहूं, फिलहाल मैं ये नहीं जानता। मैं सिर्फ इतना जानता हूं कि मैं CSK के साथ बना रहूंगा। मैं जनवरी से ही घर से बाहर हूं। मार्च में मैंने प्रैक्टिस शुरू कर दी थी। अब IPL का मिनी ऑक्शन दिसंबर में है। अभी इसमें समय है। मैं अभी इसको लेकर नहीं सोच रहा हूं।





IPL फाइनल में पहुंचना 2 महीने की कड़ी मेहनत का नतीजा





धोनी ने सीएसके के दसवीं बार फाइनल में पहुंचने पर कहा कि IPL बहुत बड़ा टूर्नामेंट है। पहले 8 टीमें खेलती थीं। अब 10 टीमें खेल रही हैं। ऐसे में एक और फाइनल कहना सही नहीं होगा। यह 2 महीने की कड़ी मेहनत का नतीजा है। सभी का इसमें योगदान रहा है। हां मिडिल ऑर्डर को पर्याप्त मौके नहीं मिल पाए, लेकिन हम जहां पर हैं, उससे खुश हैं।





मैं कष्ट देने वाला कप्तान हो सकता हूं





कप्तानी पर धोनी ने कहा- मैं परिस्थितियों के अनुसार फील्डिंग को बदलता रहता हूं। ऐसे में मैं साथी खिलाड़ियों के लिए कष्ट देने वाला कप्तान हो सकता हूं। पर मुझे पता है कि कब किस खिलाड़ी का कहां उपयोग करना है। मैंने वैसा ही किया।





हमने कुछ गलतियां कीं। हमने 15 अतिरिक्त रन दिए। जिस तरह से हमारे पास गेंदबाजी है, वैसे में एक्स्ट्रा रन देना सही नहीं है। इस मैच में चेन्नई ने 13 वाइड बॉल फेंकीं। पथिराना ने ही 8 गेंद वाइड फेंकीं, जबकि दीपक चाहर ने 3 और तुषार देशपांडे ने दो वाइड फेंकीं।





जडेजा ने मौके का फायदा उठाया





धोनी ने कहा कि गुजरात टाइटंस अच्छी टीम है। उन्होंने टारगेट का अच्छी तरह पीछा किया। बाद में बॉलिंग करना हमारे लिए फायदेमंद रहा। जडेजा ने मौके का फायदा उठाया। उन्होंने अच्छी गेंदबाजी की। बल्लेबाजी में मोइन खान और जडेजा के योगदान को नहीं भूला जा सकता है।



Sports News स्पोर्ट्स न्यूज़ IPL-2023 Chennai Super Kings in IPL final Dhoni said decision on retirement in 8-9 months आईपीएल 2023 चेन्नई सुपर किंग्स आईपीएल फाइनल में धोनी बोले रिटायरमेंट पर फैसला 8-9 महीने में