छत्तीसगढ़ की चौसर पर किसका कमाल, मोदी का मैजिक या राहुल की चाल

महिलाओं को लखपति, किसानों का कर्ज माफ करना, युवाओं को ट्रेनिंग स्टायपेंड के साथ, सरकार में खाली पदों को भरना जैसे चुनावी वादों को नेता दोहराते रहे। अब देखना है कि लोगों को मोदी की गारंटी पर भरोसा है या फिर राहुल की गांरटी पर।

author-image
Deeksha Nandini Mehra
New Update
cg
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

अरुण तिवारी @ रायपुर 

चार जून को ईवीएम ये फैसला सुनाने वाली हैं कि आखिर चुनावी चौसर में किसके पांसे पौन बारह आएंगे। इस चुनाव में मोदी का मैजिक चलेगा या फिर राहुल की रणनीति काम करेगी। छत्तीसगढ़ में लोकसभा की 11 सीटें हैं। इन सीटों पर बीजेपी की तरफ से मोदी, शाह, नड्डा ने जीत का जोर लगाया है तो कांग्रेस की ओर से राहुल,प्रियंका और खड़गे ने विजय पताका फहराने की कोशिश की है। यहां पर चुनावी सभाओं में नेताओं के संबोधन राष्ट्रीय स्तर तक वायरल हुए हैं। मोदी का मंगलसूत्र और प्रियंका का शहादत की विरासत का बयान छत्तीसगढ़ की धरती पर ही दिए गए थे। आइए आपको दिखाने की कोशिश करते हैं कि किसका चलेगा जोर और किसको नहीं मिलेगी ठौर।

मोदी- शाह का मिशन 11

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने छत्तीसगढ़ में मिशन 11 का टारगेट रखा है। पिछली बार दो सीटों की चूक हुई थी लेकिन अब बात अबकी बार 200 पार की है। लिहाजा बीजेपी के मजबूत गढ़ों में मोदी ने क्लीन स्वीप की तैयारी की है। मोदी और शाह ने यहां पर चार- चार सभाएं कर पूरी 11 सीटों को साधने की कोशिश की है। इसके अलावा जेपी नड्डा, राजनाथ सिंह और योगी आदित्यनाथ ने यहां पर आकर हुंकार भरी है। यहां पर बयान भी एक से एक आए। मोदी ने कहा कि कांग्रेस ऐसा कानून लाने की तैयारी कर रही है जिससे आपका मंगलसूत्र भी छिन जाएगा। अमित शाह ने तीसरी बार मोदी सरकार बनने पर तीन साल में नक्सलवाद खत्म करने की गारंटी दी। इसके अलावा इन नेताओं के निशाने पर भूपेश बघेल ही रहे। मोदी कहते हैं कि भूपेश ने छत्तीसगढ़ को लूट लिया, शाह ने कहा कहा कि काका ने कबाड़ा कर दिया, राजनाथ सिंह ने कहा कि महादेव को भी भूपेश बघेल ने नहीं छोड़ा। योगी ने अपनी सभा में कहा कि छत्तीसगढ़ को लूटकर भी किस ठसक से भूपेश चुनाव लड़ रहे हैं। नेताओं के बयान नहीं यहां आग के गोले निकले जिससे छत्तीसगढ़ की जमीन उबलती रही। 

बीजेपी नेताओं ने यहां किए दौरे 

  • नरेंद्र मोदी : बस्तर, जांजगीर चांपा, महासमुंद, सरगुजा
  • अमित शाह : राजनांदगांव, कांकेर, रायपुर, कोरबा
  • जेपी नड्डा : रायपुर, बिलासपुर, दुर्ग 
  • राजनाथ सिंह : बस्तर,कांकेर
  • योगी आदित्यनाथ : राजनांदगांव, कोरबा, रायपुर
  • विष्णुदेव साय : सभी सीटों पर 100 से ज्यादा सभाएं



राहुल- प्रियंका के भरोसे रही कांग्रेस 

कांग्रेस की तरफ से राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने पूरा जोर लगाया। इनके अलावा मल्लिकार्जुन खड़गे भी चुनावी समर में उतरे। पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल खुद उम्मीदवार होने के कारण अपने क्षेत्र में फंसे रहे। हालांकि उनकी सीट पर वोटिंग हो जाने के बाद तीसरे चरण के चुनाव में उन्होंने अपनी पूरी ताकत लगाई। राहुल गांधी ने अपने वचन पत्र के जरिए लोगों को लुभाने की कोशिश की। तो एक बार फिर मोदी पर आम आदमी की संपत्ति धनपतियों को देने का आरोप भी लगाया। प्रियंका गांधी ने मोदी के मंगलसूत्र वाले बयान का जवाब दिया। प्रियंका ने कहा कि मोदी विरासत छीनने का आरोप हम पर लगा रहे हैं लेकिन हमारी विरासत में तो पिता की शहादत है। मल्लिकार्जुन खड़गे का शिव और राम के बयान पर बीजेपी ने आपत्ति जताई। 

कांग्रेस नेताओं ने यहां किए दौरे 

राहुल गांधी : बस्तर, बिलासपुर

प्रियंका गांधी : कांकेर,राजनांदगांव, कोरबा

मल्लिकार्जुन खड़गे : जांजगीर चांपा

भूपेश बघेल : सात लोकसभा सीटों पर 40 सभाएं

सचिन पायलट : रायगढ़, कोरबा, बिलासपुर, रायपुर और सरगुजा में 8 जनसभाएं

बीजेपी मोदी की गारंटी तो कांग्रेस वचन पत्र के सहारे 

छत्तीसगढ़ में बीजेपी की तरफ से सिर्फ एक ही चेहरा नजर आया वो नरेंद्र मोदी का। हर भाषण में मोदी सरकार की गारंटी की ही चर्चा होती रही। वहीं कांग्रेस नेता अपने वचन पत्र के सहारे वोट मांगते नजर आए। महिलाओं को लखपति बनाना, किसानों का कर्ज माफ करना, युवाओं को ट्रेनिंग देना वो भी स्टायपेंड के साथ, सरकार में खाली पदों को भरना जैसे चुनावी वादों को कांग्रेस नेता दोहराते रहे। अब देखना है कि लोगों को मोदी की गारंटी पर भरोसा है या फिर राहुल की गांरटी पर।

thesootr links

 सबसे पहले और सबसे बेहतर खबरें पाने के लिए thesootr के व्हाट्सएप चैनल को Follow करना न भूलें। join करने के लिए इसी लाइन पर क्लिक करें

द सूत्र की खबरें आपको कैसी लगती हैं? Google my Business पर हमें कमेंट के साथ रिव्यू दें। कमेंट करने के लिए इसी लिंक पर क्लिक करें

छत्तीसगढ़ लोकसभा चुनाव रिजल्ट | छत्तीसगढ़ लोकसभा चुनाव | vote Counting 

 

vote Counting छत्तीसगढ़ लोकसभा चुनाव रिजल्ट छत्तीसगढ़ लोकसभा चुनाव