भिंड में डॉ.गोविंद सिंह ने रावतपुरा सरकार पर साधा निशाना, बोले- यह बाबा नहीं व्यापारी है, धीरेंद्र शास्त्री पर भी कर चुके टिप्पणी

author-image
Chandresh Sharma
एडिट
New Update
भिंड में डॉ.गोविंद सिंह ने रावतपुरा सरकार पर साधा निशाना, बोले- यह बाबा नहीं व्यापारी है, धीरेंद्र शास्त्री पर भी कर चुके टिप्पणी

Bhind. प्रदेश के नेता प्रतिपक्ष प्रखर समाजवादी डॉक्टर गोविंद सिंह अपने बयानों से कांग्रेस की कई बार मुश्किलें बढ़ा चुके हैं। अब उन्होंने भिंड में रावतपुरा सरकार के महंत संत रविशंकर पर तीखी टिप्पणी की है। सिंह ने कहा कि रावतपुरा सरकार का बाबा सरकारी और गरीबों की जमीनों पर कब्जा कर रहा है। यह बाबा नहीं व्यापारी है, जो स्कूल-कॉलेज खोलकर व्यापार कर रहा है। बता दें कि इससे पहले डॉ. गोविंद सिंह ने बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर पं धीरेंद्र शास्त्री पर भी सख्त टिप्पणी की थी। इसके अलावा  सीएम फेस को लेकर दिए बयान पर भी वे कांग्रेस के अंदर ही घिर चुके हैं। 







  • यह भी पढ़ें 



  • नौकरी से इस्तीफा देने वाली डिप्टी कलेक्टर निशा बांगरे ने कमलनाथ से की मुलाकात, कांग्रेस से साध सकती हैं राजनैतिक मनोरथ






  • नुक्कड़ सभा में दिया बयान







    बता दें कि डॉ गोविंद सिंह भिंड के दबोह में एक नुक्कड़ सभा को संबोधित कर रहे थे। जहां उन्होंने रावतपुरा सरकार के महंत रविशंकर पर यह टिप्पणी की। उन्होंने कहा कि इस बाबा ने सरकारी जमीन पर कब्जा किया, गरीबों का घर उजाड़कर आश्रम स्थापित किया है। उसके पास इतना पैसा आया कहां से। सिंह ने कहा कि संत रविशंकर ने मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और पंजाब जैसे कई राज्यों में संपत्ति जुटाई है। नेता प्रतिपक्ष यह भी बोले कि ये बाबा लोग गांव-गांव घूम रहे हैं। खाना खा रहे हैं और फिर कहेंगे कि कांग्रेस को हराओ, बीजेपी को जिताओ। ये सब बीजेपी के साथ मिलकर कांग्रेस के खिलाफ षड़यंत्र कर रहे हैं। 





    कब-कब बढ़ाई मुश्किलें







    नेता प्रतिपक्ष डॉ गोविंद सिंह लंबे समय से कांग्रेस की मुश्किलें बढ़ा रहे हैं। पीएम के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर गोविंद सिंह ने कांग्रेस नेता राजा पटैरिया का बचाव किया था। बागेश्वर धाम सरकार के खिलाफ सख्त टिप्पणी की थी। कांग्रेस के सीएम फेस को लेकर बयान दिया था कि क्या होगा यदि सीएम फेस ही चुनाव हार जाए। अब उन्होंने रावतपुरा सरकार पर सख्त टिप्पणी कर दी। इस टिप्पणी का निश्चित रूप से इन संतों पर आस्था रखने वालों मन कांग्रेस के प्रति खिन्न हो सकता है। 



    Dhirendra Shastri Dr. Govind Singh धीरेंद्र शास्त्री Rawatpura Sarkar Pt Ravi Shankar डॉ.गोविंद सिंह रावतपुरा सरकार पं रविशंकर