गौ संवर्धन पर CM yadav का बड़ा ऐलान, आहार अनुदान की राशि होगी दोगुनी

गौ रक्षा संवाद कार्यक्रम में शामिल हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि अगली बरसात तक गौ माता को सूखे में बैठने की व्यवस्था सरकार करेगी। सड़क पर गाय नजर नहीं आएगी। ये वर्ष गौ वर्ष के रूप में मनाया जाएगा।

author-image
Marut raj
New Update
the sootr
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

भोपाल. राजधानी में प्रदेश की गौशालाओं के बेहतर प्रबंधन पर कार्यशाला का आयोजन हुआ है। सीएम मोहन यादव गौ रक्षा संवाद कार्यक्रम में शामिल हुए। मुख्यमंत्री ने बड़ा ऐलान करत हुए कहा कि गौ संवर्धन के लिए समिति बनाई जाएगी। इसमें राजस्व विभाग, नगरीय प्रशासन,धर्मस्व विभाग,पशुपालन, ग्रामीण विकास और वन विभाग के अधिकारी शामिल होंगे। इसके अलावा उन्होंने कहा कि हम गौ शाला को आत्मनिर्भर बनाएंगे। अगली बरसात तक गौ माता को सूखे में बैठने की व्यवस्था सरकार करेगी। सड़क पर गाय नजर नहीं आएगी। ये वर्ष गौ वर्ष के रूप में मनाया जाएगा। गाय के आहार अनुदान की राशि दोगुना करने का ऐलान भी सीएम यादव ( cm yadav ) ने किया। 

देवस्थानों के विकास के लिए बनी समिति

सीएम मोहन यादव की अध्यक्षता में देवस्थानों के विकास के लिए एक कमेटी का गठन किया गया है। इसमें कैबिनेट मंत्री कैलाश विजयवर्गीय, प्रहलाद पटेल, करण सिंह वर्मा, राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार धर्मेंद्र भाव सिंह लोधी, दिलीप जायसवाल शामिल हैं।

सीएम मोहन के बड़े फैसले

  • गायों के प्रतिदिन आहार अनुदान की राशि 20 रुपये से बढ़ाकर 40 रुपये की गई।

    - सीएम ने कहा कि हमारा नया साल गुड़ी पड़वा से शुरू होता है] इसीलिए ये साल गौ वर्ष के रूप में मनाया जाएगा।

    - प्रदेश की चरनोइ भूमि को अतिक्रमण मुक्त करने के लिए अभियान चलाया जाएगा।

    - सीएम ने कहा कि आगामी बारिश तक सड़कों पर गाय नजर नहीं आएगी।
सीएम मोहन यादव cm yadav गौ संवर्धन