ग्वालियर: दिग्विजय सिंह, नेता प्रतिपक्ष ने दी राजमाता माधवी राजे सिंधिया को श्रद्धांजलि

पूर्व सीएम व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने मीडिया से कहा कि मैं इस दुख की घड़ी में सिंधिया परिवार के साथ हूं। इस परिवार से पारवारिक रिश्ते हैं। यह अभी से नहीं हैं, बल्कि पुराने हैं। 

author-image
Sandeep Kumar
New Update
SANDEEP 2024 Copy of STYLESHEET THESOOTR (91).jpg
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम दिग्विजय ( Digvijay Singh ) और नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंगार ( Umang Singar ) ग्वालियर पहुंचे। वह महल के पिछले दरवाजे से अंदर आए। केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया से मुलाकात कर राजमाता के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए श्रद्धांजलि अर्पित की। उनके साथ राज्यसभा सांसद अशोक सिंह, कांग्रेस जिलाध्यक्ष डॉ. देवेन्द्र शर्मा सहित अन्य कांग्रेसी भी थे। इस दौरान दिग्विजय सिंह ने कहा है कि सिंधिया परिवार से पारिवारिक रिश्ते रहे हैं। राजमाता विजयाराजे सिंधिया के समय से यह रिश्ते हैं। राजमाता का जाना बेहद दुखद है। यह क्षति न भरने वाली क्षति है। 

सिंधिया परिवार से बताए पारिवारिक रिश्ते

पूर्व सीएम व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने मीडिया से कहा कि मैं इस दुख की घड़ी में सिंधिया परिवार के साथ हूं। इस परिवार से पारवारिक रिश्ते हैं। यह अभी से नहीं हैं, बल्कि पुराने हैं। राजमाता विजयाराजे सिंधिया के समय और उनसे पहले के हैं। राजमाता का निधन कभी न भरने वाली क्षति है। मैं ईश्वर से यही कामना करता हूं कि परिवार को दुख सहन करने की शक्ति दे।

नेता प्रतिपक्ष ने भी दी राजमाता को श्रद्धांजलि

ग्वालियर पहुंचे नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंगार ने जयविलास पैलेस पहुंचकर राजमाता माधवी राजे सिंधिया के चित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी है।

काफी देर तक महल परिसर में टहलते रहें दिग्गी

दिग्विजय सिंह जब श्रद्धांजलि देने के बाद बाहर आए, तो सीधे नहीं चले गए। वह काफी देर तक बाहर महल परिसर में टहलते रहे। कुछ चुनिंदा लोगों के साथ बात करते नजर आए। इसके बाद वह जिस रास्ते से आए थे, उसी से रास्ते से रवाना हो गए।

15 मई को हुआ था राजमाता का निधन

सिंधिया राजघराने की राजमाता माधवी राजे सिंधिया का निधन 15 मई सुबह 9.28 बजे एम्स दिल्ली में हो गया था। पार्थिव देह को 16 मई को ग्वालियर लाया गया था। जहां कटोराताल स्थित सिंधिया छत्री परिसर में राजमाता का अंतिम संस्कार किया गया था। उसके बाद से लगातार महल में राजमाता को श्रद्धांजलि देने आने वालों का आना-जाना लगा है।

बागी विधायकों के खिलाफ होगी कार्रवाई: उमंग सिंगार

श्रद्धांजलि देने के बाद जब नेताप्रति पक्ष से पूछा गया कि अभी तक बागी विधायकों पर कार्रवाई क्यों नहीं की गई तो उनका कहना था कि अभी चुनाव में व्यस्तता के कारण कार्रवाई नहीं हो पाई है, लेकिन रिजल्ट आने के बाद कार्रवाई की जाएगी। इसके अलावा उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में लोकसभा चुनाव में वही हालत कांग्रेस की रहेगी जो बीजेपी की रहेगी। मतलब बराबर सीट मध्य प्रदेश में बीजेपी और कांग्रेस की आएंगी। साथी उमंग सिंगार ने नरसिंह घोटाले को लेकर कहा कि एक बड़ा घोटाला है विधानसभा में इस मुद्दे को उठाया जाएगा।

thesootr links

 सबसे पहले और सबसे बेहतर खबरें पाने के लिए thesootr के व्हाट्सएप चैनल को Follow करना न भूलें। join करने के लिए इसी लाइन पर क्लिक करें

द सूत्र की खबरें आपको कैसी लगती हैं? Google my Business पर हमें कमेंट के साथ रिव्यू दें। कमेंट करने के लिए इसी लिंक पर क्लिक करें

Digvijay Singh जयविलास पैलेस श्रद्धांजलि राजमाता माधवी राजे सिंधिया Umang Singar पूर्व सीएम दिग्विजय नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंगार