Advertisment

चर्चा तरुण भनोट की थी लेकिन BJP के हुए अन्नू, अब लोकसभा टिकट की डील!

मध्य प्रदेश में लोकसभा चुनाव की तैयारियों की जुटी कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। जबलपुर में कांग्रेस से महापौर जगत बहादुर सिंह अन्नू ने कांग्रेस को अलविदा कहते हुए बीजेपी का दामन थाम लिया है।

author-image
Vikram Jain
New Update
Jagat Bahadur Annu joins BJP

पूर्व मंत्री तरुण भनोत और महापौर जगत बहादुर सिंह अन्नू

Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

वेंकटेश कोरी, JABALPUR. मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद एक के बाद एक कई बड़े कांग्रेस नेता बीजेपी का दामन थाम रहे हैं, इसी बीच जबलपुर के कांग्रेस से महापौर जगत बहादुर सिंह अन्नू  (Jagat Bahadur Annu) ने भी कांग्रेस को अलविदा कह दिया। जबलपुर के कांग्रेस के महापौर जगत बहादुर सिंह अन्नू ने जिस तेजी के साथ हाथ का साथ छोड़कर बीजेपी का दामन थामा है उससे हर कोई हैरान है। सुगबुगाहट भले ही कई दिनों से चल रही थी लेकिन महापौर जगत बहादुर सिंह अन्नू इतने गुपचुप तरीके से बीजेपी की सदस्यता लेंगे इसकी उम्मीद किसी ने नहीं की थी क्योंकि इसके पहले जबलपुर पश्चिम से कांग्रेस से प्रत्याशी और कमलनाथ सरकार में वित्त मंत्री जैसे अहम पद पर रहे तरुण भनोट (Tarun Bhanot) के बीजेपी में जाने की अटकलें काफी तेजी से लगाई जा रही थी लेकिन अचानक सियासी समीकरण बदले और महापौर जगत बहादुर सिंह अन्नू ने भोपाल पहुंचकर बीजेपी की सदस्यता ले ली।

Advertisment

कांग्रेस की जगह अब बनेंगे बीजेपी के लोकसभा उम्मीदवार!

जबलपुर के महापौर जगत बहादुर सिंह अन्नू के अचानक बीजेपी में चले जाने से अब उन अटकलों पर भी विराम लग गया जिसमें उन्हें लोकसभा के सशक्त उम्मीदवार के रूप में देखा जा रहा था। शहर के सियासी हलकों में इस बात की भी चर्चाएं तेजी से हो रही है कि जगत बहादुर सिंह अन्नू ने आने वाले लोकसभा के चुनाव में भाजपा की ओर से प्रत्याशी बनाए जाने की उम्मीद में ही कांग्रेस को अलविदा कह कर भारतीय जनता पार्टी का दामन थामा है।

पहले जाकर टिकट पक्की करने की जुगत

Advertisment

जबलपुर के महापौर जगत बहादुर सिंह अन्नू ने जिस तेजी के साथ गुपचुप तरीके से बीजेपी का दामन थामा है उससे इस बात की ही अटकलें लगाई जा रही है कि कांग्रेस के अन्य नेताओं के पहले उन्होंने कांग्रेस को अलविदा कहकर बीजेपी में अपने नंबर बढ़ाने की कोशिश की है और यही नंबर आने वाले लोकसभा के चुनाव में भी काम आएंगे। कहा जा रहा है कि जबलपुर के महापौर ने अन्य नेताओं के पहले बीजेपी की सदस्यता लेकर अपनी लोकसभा की टिकट पक्की करवाने की कोशिश की है।

विधानसभा के नतीजों के बाद से ही तरुण ने बनाई दूरी

विधानसभा चुनाव के नतीजों के बाद से ही पूर्व वित्त मंत्री और पश्चिम क्षेत्र के कांग्रेस प्रत्याशी रहे तरुण भनोत ने न केवल राजनीतिक कार्यक्रमों बल्कि सार्वजनिक कार्यक्रमों से भी दूरियां बना ली थी, इस बीच यह चर्चा भी शहर में जोर पकड़ रही थी कि लोकसभा के चुनाव में कांग्रेस तरुण को लोकसभा का उम्मीदवार बना सकती है लेकिन कुछ लोग यह भी कयास लगा रहे थे कि लोकसभा चुनाव के पहले तरुण भनोत बीजेपी में जा सकते हैं लिहाजा उनके बीजेपी में जाने के पहले ही जबलपुर के महापौर जगत बहादुर सिंह अन्नू ने कांग्रेस को झटका दे दिया। जबलपुर में कांग्रेस की राजनीति के लिहाज से पूर्व वित्त मंत्री तरुण भनोत और महापौर जगत बहादुर सिंह अन्नू दोनों ही बड़े चेहरे हैं और दोनों की ही समर्थकों की संख्या काफी ज्यादा है ऐसे में महापौर के बीजेपी में जाने से हो सकता है कि आने वाले दिनों में कुछ अन्य नेता भी कांग्रेस को अलविदा कहें।

कांग्रेस बीजेपी Tarun Bhanot
Advertisment
Advertisment