RTO NEWS UPDATE : आरटीओ से जुड़ी बड़ी सुविधा हुई बंद, जानिए क्यों लिया गया ये फैसला

सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए विभाग ने इस सुविधा को बंद कर दिया है। अब तक परिवहन विभाग की बेवसाइट पर जाकर ई-सेवा विकल्प में वाहन के रजिस्ट्रेशन नंबर को डालने के बाद...

author-image
CHAKRESH
New Update
MP RTO NEWS UPDATE Vehicle Owner Details
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

Vehicle Owner Details :  मध्य प्रदेश में परिवहन विभाग ( MPRTO) की वेबसाइट https://transport.mp.gov.in/ पर किसी भी वाहन के रजिस्ट्रेशन नंबर की पूरी जानकारी अब नहीं दिख सकेगी। सुरक्षा कारणों का हवाला देकर स्थायी तौर पर इसे बंद कर दिया गया है। बता दें कि अभी तक किसी भी जिले की गाड़ी का रजिस्ट्रेशन नंबर डालकर वाहन मालिक का नाम और पता सहित पूरी जानकारी देखी जा सकती थी।

निजता को बताया कारण

इस सुविधा के कारण लोगों की व्यक्तिगत जानकारी कोई भी ले सकता था। निजी जानकारी के सार्वजनिक होने के कारण सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए विभाग ने इसे बंद कर दिया है। अब तक परिवहन विभाग की बेवसाइट पर जाकर ई-सेवा विकल्प में वाहन के रजिस्ट्रेशन नंबर को डालने के बाद वाहन मालिक की पूरी जानकारी मिल जाती थी। अब सिर्फ वाहन का नंबर और वाहन के कलपुर्जों की जानकारी ही दिखती है। 

अब सिर्फ खुद के वाहन की जानकारी देख सकेंगे

इसके अलावा परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय के अंतर्गत अब वाहन-4 पोर्टल पर एक ही सिस्टम कर दिया गया है। मध्य प्रदेश का डेटा भी वाहन-4 पर स्थानांतरित किया जा चुका है। वहीं सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय की साइट पर अपने वाहन को जानने वाले विकल्प में लाग-इन आइडी व पासवर्ड बनाने के बाद खुद के वाहन की जानकारी ही दिख सकेगी। दूसरे का वाहन नंबर डालने पर नाम छिपा हुआ प्रदर्शित होता है।

सिर्फ परिवहन और पुलिस के लिए एक्सेस

हालांकि परिवहन विभाग आंतरिक तौर पर वाहन मालिक की जानकारी को देख सकता है। इसके लिए विभाग ने अफसरों को एक्सेस दिया गया है। इसके अलावा पुलिस को भी लाग-इन आइडी के आधार पर परिवहन विभाग का डेटा एक्सेस करने का अधिकार दिया गया है। ट्रैफिक नियमों को तोड़ने वालों को पकड़ने और अपराधों की विवेचना के लिए पुलिस को इसकी जरूरत पड़ती है।

मध्य प्रदेश के परिवहन विभाग की वेबसाइट पर वाहन का रजिस्ट्रेशन नंबर डालकर किसी की भी जानकारी प्रदान करना अब बंद कर दिया गया है। अब सिर्फ नंबर व वाहन की जानकारी ही रहती है। वाहन-4 पोर्टल में अब पूरे देश में एक समान व्यवस्था है। 

- उमेश जोगा, अपर आयुक्त (प्रवर्तन) परिवहन विभाग, मध्य प्रदेश।

 

आरटीओ RTO NEWS UPDATE