Mukhyamantri Protsahan Yojana : MP में 12वीं पास करने वाले इन स्टूडेंट्स को लैपटॉप खरीदने के लिए मिलेंगे 25-25 हजार

मध्‍य प्रदेश में कक्षा 12वीं में 8 लाख 15 हजार विद्यार्थी शामिल हुए थे। इनमें से 64.49 % स्टूडेंट पास हुए। 90 हजार ऐसे बच्चे है, जिन्होंने 75 प्रतिशत से अधिक अंकों से परीक्षा पास की है।

author-image
Pratibha ranaa
एडिट
New Update
Mukhyamantri Protsahan Yojana
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

मध्य प्रदेश में 12वीं में 75 प्रतिशत से ज्यादा नंबर पाने वालों को सरकार लैपटाप के लिए 25-25 हजार रुपए देगी। प्रदेश के 12वीं पास 90 हजार 400 विद्यार्थियों को लैपटाप की राशि दी जाएगी। इस पर सवा दो सौ करोड़ से ज्यादा की राशि खर्च होगी। वहीं इस बार प्रदेश के स्कूलों के दो टॉपर विद्यार्थियों को स्कूटी भी दी जाएगी। 

लैपटाप के लिए 25-25 हजार रुपए 

दरअसल, प्रदेश में मुख्यमंत्री प्रोत्साहन योजना के तहत मप्र माध्यमिक शिक्षा मंडल से 12वीं में 75 प्रतिशत से अधिक अंक लाने वाले मेधावी विद्यार्थियों को लैपटाप के लिए 25-25 हजार रुपए की राशि दी जाएगी। पिछले साल 78 हजार 641 विद्यार्थियों को लैपटाप खरीदने के लिए राशि दी गई थी। वहीं इस बार यह संख्या पिछले साल की तुलना में 11 हजार 759 अधिक है।

2009-10 में शुरू हुई थी योजना

मप्र बोर्ड 12वीं के मेधावी वद्यार्थियों को लैपटाप के लिए 25-25 हजार रुपए की राशि देने की योजना मुख्यमंत्री प्रोत्साहन योजना ( Mukhyamantri Protsahan Yojana ) के तहत वर्ष 2009-10 में शुरू की गई थी। योजना के प्रारंभ में 85 प्रतिशत से अधिक अंक लाने वाले विद्यार्थियों को लैपटाप दिया गया था। इस दौरान विद्यार्थियों की संख्या भी 20 से 25 हजार के आसपास होती थी। इसके बाद इसे 70 प्रतिशत तक अंक कर दिया गया था। वर्तमान में 12वीं में 75 प्रतिशत अंक से अधिक वालों को लैपटाप की राशि प्रदान की जाएगी।

अप्रैल में घोषित हुआ था रिजल्ट

माध्यमिक शिक्षा मंडल यानी एमपी बोर्ड ने 24 अप्रैल 2024 को 10वीं-12वीं का रिजल्ट घोषित किया था। इस परीक्षा में कुल 5.60 लाख स्टूडेंट फेल हुए हैं। एग्जाम में फेल होने वाले स्टूडेंट्स के लिए एमपी सरकार ने "रुक जाना नहीं योजना" शुरू की है। इसके तहत फेल होने वाले स्टूडेंट्स को एक बार फिर पास होने का मौका दिया गया है। 

12वीं के इतने स्टूडेंट हुए हैं फेल

इस साल एमपी बोर्ड के 10वीं-12वीं की परीक्षा में कुल 5 लाख 60 हजार 782 स्टूडेंट फेल हुए हैं। इनमें 12वीं कक्षा में 2 लाख 2 हजार 142 स्टूडेंट शामिल है। कक्षा 12वीं में 8 लाख 15 हजार विद्यार्थी शामिल हुए थे। इनमें से 64.49 प्रतिशत स्टूडेंट पास हुए। प्रथम श्रेणी में 2 लाख 92 हजार विद्यार्थियों ने परीक्षा की थी। इनमें से 90 हजार ऐसे बच्चे है, जिन्होंने 75 प्रतिशत से अधिक अंकों से परीक्षा पास की है। 

जानें क्या है योजना और किन्हें मिलेगा लाभ

ऐसे स्टूडेंट जो एमपी बोर्ड एग्जाम में पास नहीं ( MP Board Result 2024 ) हो पाए थे, उन्हें "रुक जाना नहीं योजना" के अंतर्गत दोबारा मौका दिया गया था। इसके लिए 12वीं में एक से अधिक विषयों में फेल होने वाले विद्यार्थी शामिल थे। 

दिसंबर में एक और मौका

किसी कारण से यदि स्टूडेंट मई की परीक्षा में भी पास नहीं हो पाया हैं, तो उन्हें दिसंबर 2024 में आयोजित होने वाली परीक्षा में एक और मौका दिया जाएगा।

thesootr links

 

सबसे पहले और सबसे बेहतर खबरें पाने के लिए thesootr के व्हाट्सएप चैनल को Follow करना न भूलें। join करने के लिए इसी लाइन पर क्लिक करें

द सूत्र की खबरें आपको कैसी लगती हैं? Google my Business पर हमें कमेंट के साथ रिव्यू दें। कमेंट करने के लिए इसी लिंक पर क्लिक करें

 

 

MP Free Laptop Yojana 2024 MP 12th result Mukhyamantri Protsahan Yojana मुख्यमंत्री प्रोत्साहन योजना