पीसीसी चीफ जीतू पटवारी क्यों बने पत्रकार? नेता प्रतिपक्ष से ये क्या पूछ लिया...

आपसी गुटबाजी से जूझ रही कांग्रेस ने कार्यकर्ताओं को प्रदेश के शीर्ष नेतृत्व के बीच एकता का संदेश देने के लिए किया नया प्रयोग। पीसीसी चीफ ने लिया नेता प्रतिपक्ष का इंटरव्यू।

author-image
Marut raj
New Update
PCC Chief Jitu Patwari Leader of Opposition Umang Singhar Lok Sabha Election MP द सूत्र
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

भोपाल. मध्य प्रदेश में लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण के बीच कांग्रेस के लिए राहत की खबर आई है। दरअसल, पीसीसी चीफ और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष के बीच अक्सर मन मुटाव की खबरें आती रहती हैं। लोकसभा चुनाव के लिए टिकट वितरण के दौरान भी इस तरह की बातें उठी थीं कि पीसीसी चीफ जीतू पटवारी ( PCC Chief Jitu Patwari ) और नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार ( MP Leader of Opposition Umang Singhar ) के बीच सहमति न होने की वजह से उम्मीदवारों की घोषणा में देरी हुई है। इनमें ग्वालियर और मुरैना सीट भी शामिल थी। 

एमपी में लोकसभा चुनाव के तीन चरण बीत चुके हैं। अंतिम चरण की वोटिंग होना बाकी है। वोटिंग से पहले पीसीसी चीफ और उमंग सिंघार का एक वीडियो सामने आया है। चलती कार में शूट किए गए इस वीडियो में जीतू पटवारी उमंग सिंघार से सवाल ( इंटरव्यू ) कर रहे हैं। इस वीडियो के माध्यम से दोनों नेता कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संगठित होने का संदेश दे रहे हैं।

इस तरह के और आएंगे वीडियो

कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी ने आलीराजपुर-जोबट मार्ग पर कुछ दिन पहले इस वीडियो को शूट कराया गया है। बताया जा रहा है कि उमंग सिंघार और पटवारी के बीच इस इंटरव्यू ( बातचीत ) की यह पहली किस्त है। इस तरह की बातचीत के अभी दो-तीन वीडियो और आ सकते हैं। 3 मिनट 55 सेकंड के वीडियो में पीसीसी चीफ जीतू पटवारी ने नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार से कई सवाल-जवाब किए हैं। आइए आपको बताते हैं कि दोनों के बीच क्या सवाल-जवाब हुए।

पटवारी- ऐसी बातें आतीं हैं कि आपके और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष बीच या पार्टी में ग्रुपिज्म है, इस पर आपका क्या कहना है?

उमंग- जिस प्रकार से हम लोग यूथ को प्रदेश में आगे बढ़ा रहे हैं तो भाजपा अफवाहें फैलाती है। उनको लग रहा है कि नया यूथ जाग रहा है, आगे आ रहा है। कांग्रेस मजबूत हो रही है। ये भ्रांतियां भाजपा फैलाती है। हम दोनों भाई हैं, कॉलेज स्कूल के समय से साथ में राजनीति कर रहे हैं। मैं इन बातों में विश्वास नहीं करता हूं।

पटवारी- कई लोगों ने पार्टी छोड़ दी, इसको लेकर आपके क्या विचार हैं?

उमंग- कुछ लोग को अपनी व्यक्तिगत महत्वाकांक्षाएं हैं। जैसे पचौरी जी 75 साल में छोड़ गए। रामनिवास जी पर इतने कर्जे हो गए, तो कर्जे पूरने (भरने) के लिए पार्टी छोड़ रहे हैं। सबकी व्यक्तिगत आस्थाएं हो गई हैं। पार्टी से आस्था रखने के बजाए अपनी व्यक्तिगत आस्था रखने लगे हैं। ये बडे़ दुख की बात है। पार्टी का जो जमीनी कार्यकर्ता है उसे देखकर हमें चलना चाहिए। तभी पार्टी मजबूत रहती है।

पटवारी- जब ये लोग जा रहे हैं तो पार्टी का तो स्वाभाविक तौर पर नुकसान हो रहा है?

उमंग- मेरा कहना है कि हर विधानसभा में कांग्रेस मजबूत है। हजारों लोग हैं। कई बडे़ नेता हैं जो आगे बढ़ना चाहते हैं उनको मौके मिलेंगे। मुझे नहीं लगता कि किसी विधानसभा में कमी जैसी कोई बात है।

पटवारी- बीजेपी कहती है अबकी बार एमपी में 29 पार, इस पर आपका क्या कहना है?

उमंग- 29 पार का तो ये सपना दिखा रहे हैं। जैसे देश में 400 पार का सपना दिखा रहे हैं। जब 40 पार्टियों की बैसाखियों पर बीजेपी चल रही है। ये तो देश के मुख्य मुद्दों से भटकाना चाहते हैं। देश का हर किसान चाहता है कि मेरा कर्ज माफ हो। किसान को बाजार का भाव नहीं मिलता। हर किसान चाहेगा कि उसे एमएसपी की कानूनी गारंटी मिले। भाजपा जुमलेबाजी करती है। हम कानूनी गारंटी देना चाहते हैं। हर बहन को 8500 रुपए मिलें।

युवाओं को एक लाख रुपए इंटर्नशिप के लिए देने की स्कीम मील का पत्थर साबित होगी। जोबट, झाबुआ के आदिवासी गुजरात में मजदूरी करने जाते हैं। यदि यहीं 400 रुपए मजदूरी मिलेगी तो यहां का आदिवासी परिवार छोड़कर मजदूरी करने बाहर नहीं जाएगा। आज की तारीख में हम बराबर 10 से 15 सीटों पर बराबरी की टक्कर में हैं। कांग्रेस अच्छी सम्मानजनक स्थिति में रहेगी। जीतू पटवारी उमंग सिंघार इंटरव्यू 

पीसीसी चीफ जीतू पटवारी नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार MP Leader of Opposition Umang Singhar जीतू पटवारी उमंग सिंघार इंटरव्यू