COLOMBO:देश में ही हैं राष्ट्रपति गोटबाया,13 को देंगे इस्तीफा,20 को नए राष्ट्रपति का चुनाव,सेंट्रल बैंक के गवर्नर की वॉर्निंग

author-image
Atul Tiwari
एडिट
New Update
COLOMBO:देश में ही हैं राष्ट्रपति गोटबाया,13 को देंगे इस्तीफा,20 को नए राष्ट्रपति का चुनाव,सेंट्रल बैंक के गवर्नर की वॉर्निंग

COLOMBO. श्रीलंका में 3 महीने से जारी संकट के बीच राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे के देश छोड़कर जाने की अटकलों पर आखिरकार विराम लग गया। अब संसद के स्पीकर महिंदा यापा अभयवर्धने ने तमाम कयासों को खारिज कर दिया। उन्होंने कहा कि गोटबाया देश में ही हैं, वो 13 जुलाई को इस्तीफा देंगे। इससे पहले महिंदा यापा ने एक इंटरव्यू में कहा था कि राष्ट्रपति गोटबाया देश छोड़कर भाग गए हैं। हालांकि, जब विवाद बड़ा तो उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति देश में ही हैं। मैंने पहला बयान गलती से दे दिया था।





दूसरी तरफ, श्रीलंका में राष्ट्रपति चुनाव की तारीखों की घोषणा हो चुकी है। देश में 20 जुलाई को नए राष्ट्रपति का चुनाव होगा। वहीं, केंद्रीय बैंक गवर्नर नंदलाल वीरसिंघे ने चेतावनी दी कि अगर देश में राजनीतिक स्थिरता नहीं आई तो IMF से बेलआउट पैकेज मिलने में देरी हो सकती है।





श्रीलंका में लोग राष्ट्रपति भवन देखने पहुंच रहे







— Dasuni Athauda (@AthaudaDasuni) July 11, 2022





श्रीलंका के राष्ट्रपति भवन पर प्रदर्शनकारियों के कब्जे के बाद से उनकी वहां मस्ती और गैरजिम्मेदार हरकतों की तस्वीरें सामने आ रही थीं। सोमवार सुबह प्रदर्शनकारियों ने राष्ट्रपति भवन के ग्राउंड में जमा कचरे को साफ करके अपनी जिम्मेदारी का प्रदर्शन किया।







— Uzair Ziar (@Uzairziar) July 11, 2022





प्रदर्शनकारियों ने राष्ट्रपति भवन के ग्राउंड को पूरा साफ किया और कचरा जमा करके उसे थैलियों में पैक करके फिंकवाया। उन्होंने कहा- यह गंदगी हमने फैलाई थी, इसलिए इसे साफ करना भी हमारी जिम्मेदारी बनती है। यह एक सार्वजनिक क्षेत्र है। हम यहां व्यवस्था बदलने के लिए संघर्ष कर रहे हैं।





राष्ट्रपति भवन में खुफिया रास्ता होने का पता चला





10 जुलाई को एक और वीडियो सामने आया जिसमें राष्ट्रपति भवन में खुफिया रास्ता होने का दावा किया गया। प्रदर्शन कर रहे लोगों का दावा है कि राष्ट्रपति अपनी जान बचाकर इसी खुफिया रास्ते से देश छोड़कर भागे। ये बंकर राष्ट्रपति भवन के फर्स्ट फ्लोर पर है। बंकर से बाहर जाने के पहले यहां लकड़ी की आलमारी फिट की गई।



श्रीलंका protesters Sri Lanka प्रदर्शनकारी President House Political Crisis Gotabaya Rajapaksa राष्ट्रपति भवन election चुनाव राजनीतिक संकट गोटबाया राजपक्षे