Jashpur में बदमाशों ने ईंट भट्ठे की चिमनी को firecrackers से क्षतिग्रस्त किया है। और Director को threat दी है।- CG NEWS
होम / छत्तीसगढ़ / जसपुर में पटाखों के बारूद से उड़ाई ईंट-भट...

जसपुर में पटाखों के बारूद से उड़ाई ईंट-भट्ठे की चिमनी, संचालक को मैसेज कर दी घर समेत परिवार को उड़ाने की धमकी

The Sootr CG
Oct 27, 2022 03:26 PM
जसपुर में चिमनी को बारूद से उड़ाया
जसपुर में चिमनी को बारूद से उड़ाया

JASHPUR. जिले में कांसाबेल थाना क्षेत्र के शबदमुंडा गांव में बदमाशों ने ईंट भट्ठे की चिमनी को क्षतिग्रस्त कर दिया।  बदमाशों ने पटाखों के मसालों को निकालकर बारुद बनाया था। वारदात को अंजाम देने वाले अज्ञात शख्स ने संचालक को धमकाया है। उसने मैसेज कर उसके घर और बस में भी बम प्लांट होने की बात कही। इससे संचालक का परिवार दहशत में है पुलिस विभाग समेत इलाके में हड़कंप मच गया है।

कांसाबेल थाना क्षेत्र में शबदमुंडा गांव के प्रधानटोली गांव में बसंत वर्मा ईंट भट्ठे का संचालन करता है। बीते 24 अक्टूबर को उसके मोबाइल पर एक SMS आया। इसमें लिखा गया था कि उसके ईंट भट्ठे को उसने बम से उड़ा दिया है। वहीं उसके मकान और बस में भी बम लगाया है। मैसेज देखते ही भट्ठा संचालक समेत परिवार के सदस्य दहशत में आ गए। लेकिन, बसंत ने सबसे पहले मौके पर जाकर देखने का फैसला किया। 

संचालक ने पुलिस को दी जानकारी


जब संचालक मौके पर पहुंचा तो पता चला कि सच में उसके ईंट भट्ठे की चिमनी को क्षतिग्रस्त किया गया है। बारीकी से देखने पर पता चला कि दीपावली के पटाखों के मसालों से सुतली बम तैयार कर चिमनी को उड़ाने की कोशिश की गई है। उन्होंने तत्काल कांसाबेल थाने पहुंचकर पूरे मामले की जानकारी दी। साथ ही धमकी भरे एसएमएस को भी दिखाया। 

पुलिस नंबर को कर रही ट्रेस

इतना सुनते ही पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया। तत्काल मोबाइल को कब्जे में लेकर जिस नंबर से एसएमएस किया गया था, उसे ट्रेस करने की कोशिश की गई। वहीं ईंट भट्ठे का भी मुआयना पुलिस की एक टीम ने की। जानकारी ये मिली है कि 22 और 23 अक्टूबर की रात इस घटना को अंजाम दिया गया है। 

उच्च अधिकारियों को दी गई जानकारी

पुलिस मामले की जांच कर ही रही है, साथ ही उच्चाधिकारियों को भी इस बारे में अवगत कराया गया है। इस पर पुलिस अधीक्षक डी. रविशंकर ने मामले की जांच के निर्देश दिए हैं। दोकड़ा चौकी प्रभारी आभस मिंज ने इस मामले को लेकर कहा है कि आमतौर पर लेवी वसूली के लिए अपराधी तत्व के लोग इस तरीके का हथकंडा अपनाते हैं। लेकिन, अब तक ऐसी कोई मांग नहीं की गई है।

कई एंगल से की जा रही जांच

पुलिस का कहना है कि अब तक लेवी वसूली की बात सामने नहीं आई है। ऐसे में यह किसी की शरारत भी हो सकती है, लेकिन जिस तरीके से सुनियोजित ढंग से इसे अंजाम दिया गया है तो लेवी वसूली के लिए ही पहले से दबाव बनाने का तरीका भी हो सकता है। दूसरा ये कि किसी ने दुश्मनी के कारण ऐसा तो नहीं किया है। ऐसे में ईंट भट्ठा संचालक बसंत से जानकारी ली जा रही है कि उनकी किसी के साथ दुश्मनी तो नहीं है। बताया जा रहा है कि आने वाले समय में पुलिस फॉरेंसिक एक्सपर्ट की मदद भी ले सकती है ताकि चिमनी में बम लगाते समय का कोई अहम सुराग हाथ लग सके। बहरहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है और इस मामले में अज्ञात आरोपी के खिलाफ धारा 427, 435 और 506 के तहत अपराध दर्ज कर लिया गया है।

द-सूत्र ऐप डाउनलोड करें :
Like & Follow Our Social Media