sunday और एकादशी को don''''''''t touch तुलसी का plant; इस तरह रखें Care, गर्मी में रखें विशेष attention
होम / धर्म-ज्योतिष / रविवार और एकादशी को न छुएं तुलसी का पौधा...

रविवार और एकादशी को न छुएं तुलसी का पौधा; गर्मी में किस तरह से रखें ख्याल, जानिए टिप्स

Jitendra Shrivastava
02,अप्रैल 2023, (अपडेटेड 02,अप्रैल 2023 08:19 AM IST)

BHOPAL. तुलसी के पौधे का महत्व हम सभी अच्छे से जानते हैं. हम सभी के घर में भी तुलसी का पौधा होगा, जिस पर रोजाना जल भी डालते हैं। हिंदू शास्त्रों को मुताबिक घर में आंगन में तुलसी के पौधे को रखना बहुत ही शुभ माना जाता है। इतना ही नहीं तुलसी का पौधा अपने औषधीय गुणों के लिए भी जाना जाता है। जिसका उपयोग कई बीमारी के इलाज में भी किया जाता है, लेकिन कई बार ये पौधा आपके घर में सही देखभाल न मिलने के कारण सूखने लगता है। आज हम आपको कुछ ऐसे टिप्स बताने जा रहे हैं, जिसकी मदद से आप तुलसी के सुख रहे पौधे में एक बार फिर जान डाल सकते हैं।

सही मात्रा में डाले पानी

तुलसी के पौधे में पानी डालते समय एक उचित मात्रा का ध्यान रखें। इसमें न बहुत कम पानी डालें और न ही बहुत ज्यादा पानी डालें। पौधे में ज्यादा मात्रा में पानी डालने से पौधा जल्दी मर सकता है। कम मात्रा में पानी डालने से पौधा फिर भी थोड़ा सही रह सकता है, लेकिन ज्यादा पानी डालने से पौधा बहुत जल्दी खराब होने लगता है। 

सूखी पत्तियां निकालें

कई लोग पौधे की सूखी पत्तियां काटकर उसी के पौधे में डाल देते हैं, लेकिन अगर आप अपने पौधे की मिट्टी को साफ सुथरा नहीं रखते हैं तो इस कारण भी आपका पौधा जल्दी सूख सकता है। आप महीने में 2 से 3 बार मिट्टी को खोदकर ऊपर नीचे करें और इसमें खाद्य जरूर डालें।

अच्छी खाद डालें


तुलसी के पौधे में डालने के लिए आप अच्‍छी क्वालिटी का ही खाद इस्तेमाल में लाएं। आपका खाद पूरी तरह नेचुरल और जैविक होनी चाहिए। आप चाहे तो घर पर ही नीम के पत्तों और गाय के गोबर को सूखाकर अपने नेचुरल खाद तैयार कर सकते हैं।

बड़े गमले में लगाएं

तुलसी के गमले को बार-बार बदलना नहीं चाहिए। इसलिए आप इसे किसी बड़े, चौड़े और मजबूत गमले में ही लगाएं। गमले के नीचे छेद करें और खाद डालने के बाद मिट्टी के साथ अपने पौधे को उसमें डाले। 

रविवार और एकादशी को न छुएं

तुलसी के पौधे में रविवार और एकादशी का दिन छोड़कर अन्य सभी दिन पानी डालें। ऐसी मान्यता है कि तुलसी मां इन दो दिन ठाकुरजी यानि भगवान कृष्णा के लिए व्रत रखती हैं। इसलिए इन दो दिनों के अलावा आप रोजाना पौधे में पानी जरूर डालें। 

मंजरी तोड़कर अलग करें

इसके पौधे की मंजरियों को समय-समय पर तोड़कर अलग करते रहें। क्योंकि मंजरियां जल्दी सूख जाती हैं, जिस कारण आपका पौधा भी सूख सकता है। इसलिए इनके सुखते ही या मुरझाते ही इसे अपने पौधे से अलग कर लें।

तुलसी के आस पास रखें साफ

तुलसी के पौधे को आस-पास के गंदे पानी और गीले कपड़ों से दूर रखें। धूले हुए कपड़ों में साबुन और निरमे की महक के साथ उससे निकलने वाले पानी में केमिकल भी रहते हैं, जो आपके पौधे को धीरे-धीरे नुकसान पहुंचा सकता है।

लाल रंग के कपड़े से लपेटें

बदलते मौसम का असर भी आपके तुलसी के पौधे पर नजर आ सकता है। ज्यादा ठंड या गर्मी से भी तुलसी का पौधा सूख सकता है। इसलिए आप इसे मौसम की मार से बचाएं। आप अपने पौधे को लाल रंग के कपड़े से भी लपेट सकते हैं।

द-सूत्र न्यूज़ के व्हाट्सप्प ग्रुप से जुड़ें
द-सूत्र ऐप डाउनलोड करें :
Like & Follow Our Social Media