भिंड में EOW की रेड, पंचायत सचिव का वेतन 26 हजार; मालिक निकला 2 करोड़ का

author-image
एडिट
New Update
भिंड में EOW की रेड, पंचायत सचिव का वेतन 26 हजार; मालिक निकला 2 करोड़ का

ग्वालियर. ईओडब्ल्यू (EOW) की टीम ने पंचायत सचिव (Panchayat Secretary) के घर पर छापेमारी (Raid) की है। ग्वालियर (Gwalior) के आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ (Economic Offenses Cell) ने भिंड (Bhind) जिले के पंचायत सचिव के ठिकानों पर छापा मारा है। ये छापा आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने की आशंका में मारा गया है। जांच अभी जारी है। इस दौरान अकूत संपत्ति का खुलासा हुआ है। जानकारी के अनुसार रोशन सिंह गुर्जर पंचायत सचिव एचया पिपरोली के दो ठिकानों पर छापेमारी चल रही है। 





यह मिला अफसरों को : पंचायत सचिव का गोहद में पैतृक मकान है, जहां पर छापेमारी चल रही है। ग्वालियर के इंद्रा नगर में सचिव के नाम 19 लाख कीमत का मकान है। वहीं, लड़के सौरभ के नाम पर दो बीघा जमीन गोहद में है। पत्नी रेखा बाई के नाम पर दो बीघा जमीन बनिपुरा गोहद है। इसके साथ ही बेनामी संपत्ति में ससुर भारत सिंह के नाम मेन रोड की जमीन दो बीघा है। इसकी कीमत 70 लाख है। वहीं, आरोपी के पैतृक गांव में निर्माणाधीन 1500 वर्गफीट में मकान है। इसके पास एक बोलेनो कार, बाइक, दो ट्रैक्टर और 6.75 लाख रुपये के सोने जूलरी मिली है। 45 हजार रुपये की चांदी के गहने भी मिले हैं। आठ बैंकों में खाते भी मिले हैं। सचिव की वेतन 26 हजार प्रति महीना है।





कार्रवाई जारी : ईओडब्ल्यू डीएसपी सतीश चतुर्वेदी के अनुसार कार्रवाई अभी जारी है। टीम संपत्ति की बारीकी से जांच कर कार्रवाई करने में जुटी है। ईओडब्ल्यू की टीम दोनों जगह की संयुक्त रूप से कार्रवाई का ब्यौरा उच्च अधिकारियों को सौंपेगी। वहीं, सचिव के परिजन सुजान सिंह का कहना है कि हमारे पास दो नंबर का पैसा नहीं है। जितनी भी संपत्ती है, वह सही तरीके से कमाई गई है। 



ग्वालियर छापेमारी Madhya Pradesh Gwalior ईओडब्ल्यू Bhind EOW आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ पंचायत सचिव Panchayat Secretary Economic Offenses Cell मध्यप्रदेश भिंड raid