बैतूल में वोटर लिस्ट में जिंदा को बात दिया मृत, वोटर आईडी लेकर पंहुचा था वोटर, नहीं डालने दिया वोट
होम / मध्‍यप्रदेश / बैतूल में वोटर लिस्ट में जिंदा को बात दि...

बैतूल में वोटर लिस्ट में जिंदा को बात दिया मृत, वोटर आईडी लेकर पंहुचा था वोटर, नहीं डालने दिया वोट

The Sootr
Sep 28, 2022 10:59 PM

विनोद पातरिया, BETUL. कहते है एमपी अजब है अलग है। जी हां एमपी में आये दिन अजब गजब मामले सामने आते हैं। ताजा मामला जिले के सारणी में नगरीय निकाय चुनाव की वोटर लिस्ट में जो मर गए वो जिंदा है और जो जिंदा है उन्हें मरा जाता दिया गया।  नगरीय निकाय चुनाव में एक जिंदा व्यक्ति को वोट डालने से वंचित कर दिया । इस व्यक्ति के पास वोटर आईडी था पर वोटर लिस्ट में उसे मृत बता दिया गया । वोटर लिस्ट में ऐसे कई विसंगतियां सामने आईं जिसमें मृत व्यक्तियों को के नाम नहीं हटने से वे वोटर लिस्ट में जिंदा है । अधिकारी अब जांच की बात कर रहे हैं ।बैतूल के सारनी नगर पालिका के चुनाव में मंगलवार को मतदान था । इस दौरान महावीर स्वामी वार्ड क्रं. 36 के मतदान केंद्र क्रमांक 75 पर जब गगन साहू पिता रामकिशोर साहू उम्र 30 साल निवासी बगडोना वोट डालने गया था। अपने हाथ में वोटर आईडी लेकर गगन साहू मतदान केंद्र के अंदर गया लेकिन उसे वोट डालने नहीं दिया गया। 

बीएलओ की बड़ी लापरवाही


मतदान केंद्र पर जो मृत व्यक्तियों की सूची रखी थी कि उसमें गगन साहू का भी नाम शामिल था। इस मामले ने मतदाता सूची की गड़बडिय़ों को उजागर करके रख दिया है। ऐसा नहीं है कि अकेले गगन साहू का मामला है। इस मतदान केंद्र पर रखी मतदाता सूची में भारी गड़बडिय़ां सामने आई है। जो दिवंगत हो चुके हैं वह जिंदा है और जो जिंदा है उन्हें मृत घोषित कर दिया गया है। सारनी नगर पालिका चुनाव में मतदाता सूची में अधिकारियों की या बीएलओ की बड़ी लापरवाही सामने आई है। यहां पर ऐसे कई मतदाता है जिनकी मौत हो चुकी है उनके नाम मतदाता सूची में आज भी अंकित है। उदाहरण के लिए मतदाता क्रमांक 817 भाऊराव पिता भैयालाल उम्र 83 साल, क्रं. 472 पुरभी पति रामसखा उम्र 59 साल एवं मतदाता  क्रं. 541 सत्यनारायण पिता छिटनराम की मौत हो चुकी है। लेकिन ऐसे और भी मतदाता है जिनके नाम वोटर लिस्ट में जीवित के रूप में शामिल है और इनकी वोटर पर्ची भी बन गई थी।

मतदाता सूची में कई बड़ी खामियां

गलती पर पर्दा डालने के लिए ऐसे 22 मतदाताओं के नाम की सूची हाथ से लिखकर मतदान केंद्र पर दी गई की इनकी मौत हो चुकी है। इस लापरवाही में एक और बड़ी लापरवाही यह हो गई कि जिंदा व्यक्ति को भी मृत बता दिया गया। मतदाता सूची में एक और बड़ी लापरवाही यह सामने आई है कि नगर पालिका परिषद में जिन मतदाताओं के नाम हैं वह ग्राम पंचायतों में रहते हैं है। उदाहरण के लिए मतदाता दुल्लो पिता गिरधारी, बिसन पिता गिरधारी, श्यामवति पति किसन, सुमन पिता राजू, सुमंत्रा पिता राजू, प्रमिला पिता सुम्मी, ललिता पति धारू, धीरू पिता सुम्मी जैसे अनेक नाम हैं जिनका नाम नगर पालिका परिषद की वोटर लिस्ट में है जबकि यह लोग पंचायत में निवास करते हैं। 

thesootr
द-सूत्र ऐप डाउनलोड करें :
Like & Follow Our Social Media