एमपी की ड्रीम गर्ल ने दुल्हन तलाश रहे छत्तीसगढ़ के सॉफ्टवेयर इंजीनियर से ठग लिए डेढ़ करोड़

बिलासपुर में एक अनोखा ठगी का मामला सामने आया है, जिसमें एक मिमिक्री आर्टिस्ट ने एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर से दोस्ती करके उसे धोखा देकर ठगी की। अपनी वाणी में इंजीनियर से परिचय बढ़ाते हुए, उसने शादी का झांसा देकर उससे 1 करोड़ 39 लाख 51 हजार 277 रुपए वसूल लिए...

Advertisment
author-image
Pratibha ranaa
New Update
bilaspur fraud

बिलासपुर में ठगी का अनोखा मामला सामने आया है। एक मिमिक्री आर्टिस्ट ने एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर से दोस्ती करके 1 करोड़ 39 लाख 51 हजार 277 रुपए ठग लिए। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। आरोपी के कब्जे से कई फोन, सिम कार्ड बरामद किए गए हैं।

मिमिक्री आर्टिस्ट ने सॉफ्टवेयर इंजीनियर से की ठगी

दरअसल छत्तीसगढ़ के नितिन जैन प्राइवेट कंपनी पुणे मे सॉफ्टवेयर इंजीनियर है। नितिन के साथ मध्य प्रदेश के एक युवक ने ड्रीम गर्ल बनकर दुल्हन तलाश रहे नितिन से ठगी कर ली। जानकारी के मुताबिक नितिन पुणे में नौकरी करता है। वहीं मिमिक्री आर्टिस्ट रोहित भी अपने भाई के घर पुणे गया था। यहां उसकी मुलाकात जैन कॉलोनी में रहने वाले नितिन जैन से हुई। दोनों में अच्छी दोस्ती हो गई थी। बाद में नितिन ने रोहित को शादी के लिए लड़की की तलाश करने की बात कही।

लड़की देखाने के नाम पर बिछाया जाल 

रोहित ने नितिन से संपर्क कर उसे शादी के लिए लड़की से परिचय कराने की बात कही। नितिन ने पूरी तरह से रोहित पर विश्वास कर लिया। आरोपी रोहित ने नितिन को 2- 3 लड़कियों का फोटो गूगल से निकालकर दिखा दिए। इन तीन फोटोज में से नितिन को एक लड़की ( श्वेता बदला हुआ नाम) पसंद आ गई। रोहित ने खुद के मोबाइल से आवाज बदलकर ( श्वेता ) की आवाज में नितिन को अपने जाल में फंसा लिया। 

आवाज बदलकर शादी के लिए किया प्रपोज

रोहित कुछ दिनों तक लड़की ( श्वेता ) की आवाज में नितिन से बात करता रहा और फिर शादी के बारे में भी बातचीत की। इसके बाद ठगी का सिलसिला शुरू हो गया। सबसे पहले रोहित ने श्वेता बनकर बीमारी का बहाना बनाया और करीब 30 लाख रुपए अलग- अलग बैंक अकाउंट में ट्रांसफर करवा लिए। इसके बाद आरोपी ने एक नया सिम कार्ड खरीदकर एकता के भाई अंशुल जैन बनकर नई आवाज में संपर्क किया और अपनी बहन से शादी की परमिशन दे दी। इसके बाद आरोपी रोहित ने पुणे जाकर एक नई कहानी बनाई। इसमें श्वेता के परिवार का हैदराबाद में प्रॉपर्टी होना और उसे बचने के लिए हैदराबाद जाना बताया। यहां से नया सिम कार्ड खरीदकर नितिन को हैदराबाद के इनकम टैक्स के जज सुब्रह्मण्यम की बदली हुई आवाज में मोबाइल पर संपर्क कर श्वेता के गिरफ्तार होने का झांसा दिया और उससे करीब 20 लाख रुपए विभिन्न बैंक अकाउंट में जमा करवा लिए।

हिरासत में आरोपी

बाद में आरोपी रोहित ने बातचीत करना बंद कर दिया। शक होने पर नितिक ने पुलिस को इसकी जानकारी दी। पुलिस की जांच में इस पूरे मामले का खुलासा हुआ। 33 साल का रोहित​ मध्य प्रदेश के मैहर का रहने वाला है। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने उसके पास से 2 एंड्रायड फोन, 2 की-पैड फोन, 11 सिम कार्ड जब्त किए गए।

thesootr links



  द सूत्र की खबरें आपको कैसी लगती हैं? Google my Business पर हमें कमेंट के साथ रिव्यू दें। कमेंट करने के लिए इसी लिंक पर क्लिक करें

 

Bilaspur Fraud Case बिलासपुर में ठगी