डॉक्टर ड्यूटी से गायब, नोटिस देने पर कलेक्टर के खिलाफ खोल दिया मोर्चा

धमतरी जिला अस्पताल में डॉक्टरों ने कलेक्टर के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। कलेक्टर पर डॉक्टरों ने वेतन काटने सहित कई गंभीर आरोप लगाए हैं। इसके साथ ही डॉक्टर ने काम बंद करने की चेतावनी दी है।

author-image
Aparajita Priyadarshini
New Update
रह-ृ
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

कलेक्टर की सख्ती के खिलाफ धमतरी जिला अस्पताल के डॉक्टर ने मोर्चा खोल दिया है। डॉक्टरों ने प्रशासन को हड़ताल की चेतावनी दी है। सभी डॉक्टर कलेक्टर नम्रता गांधी से नाराज हैं और उन पर बदसलूकी का आरोप लगा रहे हैं। बीते कुछ दिनों से कलेक्टर एवं उनके प्रतिनिधियों द्वारा जिला चिकित्सालय के निरीक्षण के दौरान डॉक्टर्स से किये गए दुर्व्यवहार से वे आहत हैं।

क्या कहा डॉक्टरों ने

डॉक्टरों का कहना है कि पिछले दिनों कलेक्टर ने जिला अस्पताल का निरीक्षण किया था। इस दौरान उन्होंने सिविल सर्जन समेत 16 डॉक्टरों को नोटिस थमा दिया था। इसके अलावा जो डॉक्टर्स अस्पताल से गैर हाजिर थे उनके खिलाफ कार्रवाई भी की गई थी। इसी बात से जिला अस्पताल के डॉक्टर्स नाराज हैं और उन्होंने कलेक्टर पर गंभीर आरोप लगाते हुए मोर्चा खोल दिया है।

डॉक्टरों को बिना लिखित आदेश के अपने कक्ष में बुलाकर स्पष्टीकरण मांगने के साथ ही अपमानित किया गया। इसके अलावा विभागीय स्पष्टीकरण सह एक्नॉलेजमेंट को फाड़ दिया गया। बिना उचित कारण के चिकित्सकों की तीन दिनों की सैलरी काटी गई। 

ये भी पढ़ें...

PM मोदी का दावा- गांधी फिल्म से मशहूर हुए महात्मा गांधी

डॉक्टरों ने हड़ताल की दी चेतावनी

डॉक्टरों ने चार जून से हड़ताल की चेतावनी दी है। उन्होंने इस बाबत मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव को पत्र लिखा है। जिसमें कलेक्टर और कलेक्टर प्रतिनिधि पर डॉक्टरों से बदसलूकी का आरोप लगाया गया है। इसके तहत ही उन्होंने कलमबंद हड़ताल पर जाने की सूचना सीएम के प्रधान सचिव को दी है।

thesootr links

 सबसे पहले और सबसे बेहतर खबरें पाने के लिए thesootr के व्हाट्सएप चैनल को Follow करना न भूलें। join करने के लिए इसी लाइन पर क्लिक करें

द सूत्र की खबरें आपको कैसी लगती हैं? Google my Business पर हमें कमेंट के साथ रिव्यू दें। कमेंट करने के लिए इसी लिंक पर क्लिक करें

 

Doctors strike धमतरी जिला अस्पताल कलेक्टर के खिलाफ खोल दिया मोर्चा डॉक्टर ड्यूटी से गायब