कलेक्टर और बीजेपी पूर्व विधायक आमने सामने , दोनों ने एक-दूसरे पर लगाए ये बड़े आरोप

सत्ताधारी बीजेपी के पूर्व विधायक और कलेक्टर एक-दूसरे के आमने -सामने आ गए हैं। दोनों ने एक दूसरे पर गंभीर आरोप लगाए हैं। आइए आपको बताते हैं कि क्या है पूरा मामला।

author-image
Jitendra Shrivastava
New Update
THESOOTR
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

BHOPAL. मध्य प्रदेश में निवाड़ी कलेक्टर और बीजेपी के एक पूर्व विधायक आमने सामने आ गए हैं। पूर्व विधायक ने कलेक्टर पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उनका कहना है कि निवाड़ी कलेक्टर अरुण कुमार विश्वकर्मा ( IAS Arun Kumar Vishwakarma ) बिना सक्षम अनुमति के बार-बार जिला मुख्यालय छोड़कर पत्नी अपर कलेक्टर अंजु अरुण कुमार के पास ग्वालियर चले जाते हैं। वहीं, कलेक्टर अरुण कुमार का कहना है कि जिला प्रशासन ने अवैध उत्खनन और अवैध कॉलोनियों को लेकर कार्रवाई की है। इससे पूर्व विधायक समर्थकों के हित प्रभावित हो रहे हैं। यही वजह है कि उनके खिलाफ झूठी शिकायतें की जा रही हैं।  

कलेक्टर पर EVM में गड़बड़ी की भी शिकायतें

पूर्व विधायक शिशुपाल यादव ने मुख्य सचिव को पत्र में लिखा कि कलेक्टर अरुण कुमार विश्वकर्मा ने निर्वाचन के संबंध में फर्जी रिपोर्ट आयोग को दी थी। इस फर्जी रिपोर्ट की शिकायत के 20 दिन बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की गई है। बता दें कि लोकसभा चुनाव में पृथ्वीपुर और निवाडी की EVM मशीनें जिला मुख्यालय निवाडी स्थित शासकीय महाविद्यालय के स्ट्रांग रूम में रखी गई थीं। इन 20 दिनों में स्ट्रांग रूम में संभावित गड़बड़ियों की शिकायतें जनप्रतिनिधि और राजनीतिक दलों ने लगातार आयोग से की थी। 

THESOOTR

THESOOTR

thesootr links

 सबसे पहले और सबसे बेहतर खबरें पाने के लिए thesootr के व्हाट्सएप चैनल को Follow करना न भूलें। join करने के लिए इसी लाइन पर क्लिक करें

द सूत्र की खबरें आपको कैसी लगती हैं? Google my Business पर हमें कमेंट के साथ रिव्यू दें। कमेंट करने के लिए इसी लिंक पर क्लिक करें

कलेक्टर निवाड़ी कलेक्टर अरुण कुमार विश्वकर्मा पूर्व विधायक शिशुपाल यादव IAS Arun Kumar Vishwakarma