Advertisment

मध्यप्रदेश के पूर्व महाधिवक्ता शशांक शेखर ने बीजेपी की ली सदस्यता

शशांक शेखर कमलनाथ सरकार में एडवोकेट जनरल रहे हैं और विवेक तन्खा के बेहद करीबी भी माने जाते हैं। विवेक तन्खा ने ही कमलनाथ सरकार में एडवोकेट जनरल बनवाया था।

author-image
Pooja Kumari
New Update
Jabalpur

पूर्व महाधिवक्ता शशांक शेखर ने बीजेपी की ली सदस्यता

Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

नील तिवारी- JABALPUR. कांग्रेस को महाकोशल में एक और बड़ा झटका लगा है। एक दिन पूर्व ही महापौर जगत बहादुर सिंह अन्नू ने भी बीजेपी की नीति रीति से प्रभावित होकर कांग्रेस छोड़कर बीजेपी ज्वाइन कर ली थी और आज पूर्व महाधिवक्ता शशांक शेखर बीजेपी प्रदेश कार्यालय विधायक एवं पूर्व मंत्री संजय सत्येंद्र पाठक तथा जबलपुर के महापौर जगत बहादुर सिंह के साथ बीजेपी कार्यालय पहुंचे तथा पार्टी की विधिवत सदस्यता ली।

Advertisment

बीजेपी ने 6 लोकसभा सीटों पर कैंडिडेट्स का पैनल बनाया

कौन हैं शशांक शेखर  



शशांक शेखर कमलनाथ सरकार में एडवोकेट जनरल रहे हैं और विवेक तन्खा के बेहद करीबी भी माने जाते हैं। विवेक तन्खा ने ही कमलनाथ सरकार में एडवोकेट जनरल बनवाया था। शशांक शेखर कांग्रेस के बहुत सारे लीगल मामलों में पैरवी कर चुके है।

Advertisment

चर्चा तरुण भनोट की थी लेकिन BJP के हुए अन्नू, अब लोकसभा टिकट की डील!

2022 में बने महाधिवक्ता कांग्रेस की नस-नस से हैं वाकिफ



शशांक शेखर को साल 2022 में मध्यप्रदेश का महाधिवक्ता बनाया गया था। जबलपुर के रहने वाले शशांक शेखर ने रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय से कानून की पढ़ाई पूरी करने के बाद मध्यप्रदेश हाई कोर्ट में 1998 में अपना नामांकन कराया और साल 2001 में उन्हें पैनल लायर नियुक्त किया गया, साल 2002 में उन्होंने स्वतंत्र रूप से वकालत शुरू की और 2008 में मध्यप्रदेश की स्टैंडिंग काउंसिल के केंद्रीय प्रशासनिक प्राधिकरण जबलपुर में शामिल हुए।

दोगने बोले- हरदा हादसे में मंत्री का संरक्षण था तो उन्हें फांसी दें

सिविल जज भर्ती नियमों को चुनौती पर जवाब पेश, 12 फरवरी को अगली सुनवाई

शशांक शेखर
Advertisment
Advertisment