यशवंत क्लब में सचिव गोरानी, कोषाध्यक्ष उपाध्याय निर्विरोध, चेयरमैन, सहसचिव, कार्यकारिणी में होंगे चुनाव

यशवंत क्लब में लंबे समय बाद दो पदों के लिए चुनाव नहीं होंगे। नामांकन भरने के अंतिम दिन सचिव पद के लिए केवल वर्तमान सचिव संजय गोरानी का ही नामांकन जमा हुआ।

author-image
Ravi Singh
New Update
indore
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

संजय गुप्ता, INDORE : यशवंत क्लब ( Yashwant Club ) में लंबे समय बाद दो पदों के लिए चुनाव ( Election ) नहीं होंगे। नामांकन भरने के अंतिम दिन सचिव पद के लिए केवल वर्तमान सचिव संजय गोरानी ( Sanjay Gorani ) का ही नामांकन जमा हुआ। वहीं कोषाध्यक्ष पद के लिए वर्तमान कोषाध्यक्ष सीए आदित्य उपाध्याय ( Aditya Upadhyay ) का नामांकन आया है। यानि यह दोनों निर्विरोध चुन लिए गए हैं। इन पदों के लिए चुनाव नहीं होंगे। चुनाव की तारीख 16 जून है।

चेयरमैन और सह सचिव के लिए होंगे चुनाव

लेकिन क्लब के सर्वोच्च पद चेयरमैन के लिए टोनी यानी मनजीत सचदेवा के सामने संतोष वाघले ने औपचारिक तौर पर नामांकन जमा कर दिया है। वाघले भी इसी टोनी-गोरानी गुट के ही थे लेकिन चेयरमैन पद के लिए उन्हें तवज्जो नहीं मिलने के चलते वह इस गुट से अलग हो गए और अब मैदान में उतरे हैं। वहीं सह सचिव पद के लिए वर्तमान पद पर मौजूद अतुल सेठ नहीं उतर रहे हैं। ऐसे में उनकी जगह दो नए उम्मीदवार मैदान में हैं। इसमें एक महिला उम्मीदवार अश्विनी पुराणिक है जो वाघले पैनल से हैं और दूसरे विपिन कूलवाल है, जो अभी कार्यकारिणी सदस्य थे और टोनी-गोरानी गुट से हैं।

कौन है अश्विनी पुराणिक?

इंडिया और इंटरनेशनल स्तर पर स्पोर्टसपर्सन के रूप में अश्विनी पुराणिक पहचान रखती है। वह पहली महिला है जो बिलियर्ड, स्नकर के खेल में भारत को इंटरनेशनल स्तर पर रिप्रेजेंट किया। वह अभी बिलियर्ड स्नूकर फेडरेशन ऑफ इंडिया की वाइस प्रेसीडेंट है। क्लब में दो बार कार्यकारिणी मेंबर भी चुनी जा चुकी है। चेयरमैन पद के उम्मीदवार वाघले ने कहा कि हम पांच सद्स्य पैनल बनाकर चुनाव में लड़ रहे हैं, चेयरमैन पद के लिए मैं, सह सचिव के लिए पुराणिक और तीन कार्यकारिणी मेंबर के लिए हैं।

कार्यकारिणी के 5 पदों के लिए 10 उम्मीदवार मैदान में

मैनेजिंग कमेटी में कार्यकारिणी के 5 पदों के लिए 10 उम्मीदवार मैदान में आए हैं। यानि यहां पर कड़ी टक्कर है। इन पदों के लिए ललित बत्रा, संचित बावेजा, नितेश दाणी, वैभव दुआ, कुलविंदर सिंह गिल, संदीप जैन, तेजवीर जुनेजा, शैलेंद्र कुमार खरे, आदित्य पारेख और अनिमेष केवल सोनी उम्मीदवार है। इसमें टोनी-गोरानी गुट के संचित बावेजा, नीतेश दाणी, संदीप जैन, आदित्य पारिख और अनिमेष केवल सोनी है। वहीं बत्रा, गिल, दुआ वाघले पैनल से जुड़े हैं। क्लब के जानकारों के अनुसार कार्यकारिणी में चुनाव कांटे के होंगे।

ये खबर भी पढ़ें...

Lok Sabha Election 2024 : नरेंद्र मोदी के मार्जिन का रथ रोकने वाले अजय राय को 2014 में सिर्फ 75 हजार वोट मिले थे

नाम वापसी 11 और चुनाव 16 जून

नामांकन के बाद स्क्रूटनी कमेटी इसकी जांच करेगी। इसके बाद 11 जून तक नाम वापसी का मौका है। इसके बाद प्रत्याशियों की अंतिम सूची जारी कर दी जाएगी और फिर 16 जून रविवार को सुबह से शाम तक वोटिंग होगी और फिर रात को मतगणना कर रिजल्ट जारी किए जाएंगे।

पम्मी गुट ने नहीं खोले पत्ते

उधर क्लब के हर चुनाव में सक्रिय भूमिका निभाने वाले पम्मी छाबड़ा ने इस बार अपने पत्ते नहीं खोले हैं। उनका भी एक बड़ा वोट बैंक क्लब में मौजूद है। माना जा रहा है कि वह टोनी-गोरानी गुट के विरोध में उतरे प्रत्याशियों को सपोर्ट करेंगे लेकिन अभी तक खुलकर उन्होंने किसी के लिए भी प्रचार नहीं किया।

thesootr links

सबसे पहले और सबसे बेहतर खबरें पाने के लिए thesootr के व्हाट्सएप चैनल को Follow करना न भूलें। join करने के लिए इसी लाइन पर क्लिक करें

द सूत्र की खबरें आपको कैसी लगती हैं? Google my Business पर हमें कमेंट के साथ रिव्यू दें। कमेंट करने के लिए इसी लिंक पर क्लिक करें

चुनाव election Yashwant Club यशवंत क्लब संजय गोरानी Sanjay Gorani आदित्य उपाध्याय Aditya Upadhyay