जम्मू कश्मीर के पूर्व गवर्नर सत्यपाल मलिक के घर CBI रेड

जम्मू-कश्मीर के कीरू हाइड्रो इलेक्ट्रिक प्रोजेक्ट (Kiru Hydro Electric Project) से जुड़े कथित भ्रष्टाचार के मामले में सीबीआई ने गुरुवार सुबह पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक के दिल्ली स्थित आवास और दफ्तर की तलाशी ली।

author-image
Pratibha Rana
New Update
वतकल

पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक

BHOPAL. देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी सीबीआई ने गुरुवार यानी आज 22 फरवरी को 30 से अधिक ठिकानों पर रेड की है, जिनमें जम्मू और कश्मीर के पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक का घर भी शामिल है।  सूत्रों के हवाले से बताया है कि सीबीआई की ये छापेमारी केंद्रशासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में किरू हाइड्रोइलेक्ट्रिक प्रोजेक्ट कॉन्ट्रैक्ट से जुड़े कथित भ्रष्टाचार के मामले में की जा रही है। उत्तर प्रदेश के बागपत में स्थित सत्यपाल मलिक के घर पर हाइड्रोइलेक्ट्रिक प्रोजेक्ट कॉन्ट्रैक्ट मामले में सीबीआई की टीम छापेमारी के लिए पहुंची है। जांच एजेंसी ने उनके पर तलाशी अभियान चलाया है। सत्यपाल मलिक बागपत के सिंघावली अहीर थाना क्षेत्र के हिसावदा गांव के मूल रूप से रहने वाले हैं (Satyapal Malik CBI Raid)। 

ये खबर भी पढ़िए...पटवारी नियुक्ति रोकने के लिए आंदोलनकारी हाईकोर्ट जाने की तैयारी में, उधर सहायक विस्तार अधिकारी नियुक्ति प्रक्रिया भी जारी

कितने मामले में दर्ज है FIR ?

CBI ने इस मामले में 2 FIR दर्ज की थीं। पहली FIR लगभग 60 करोड़ रुपए के कॉन्ट्रैक्ट को जारी करने में कथित भ्रष्टाचार से संबंधित है। यह रकम 2017-18 में जम्मू-कश्मीर कर्मचारी स्वास्थ्य देखभाल बीमा योजना का ठेका देने के लिए एक इंश्योरेंस कंपनी से रिश्वत के तौर पर ली गई थी। दूसरी FIR 2019 में एक निजी फर्म को कीरू हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट (एचईपी) के सिविल वर्क के लिए 2,200 करोड़ का कॉन्ट्रैक्ट देने में भ्रष्टाचार से जुड़ी है। CBI इन दोनों मामलों की जांच कर रही है।

ये खबर भी पढ़िए...दुनिया के टॉप टेन अमीरों में शामिल हुए मुकेश अंबानी

सत्यपाल ने लगाए थे भ्रष्टाचार के आरोप

दरअसल सत्यपाल मलिक ने 17 अक्टूबर 2021 को राजस्थान के झुंझुनू में एक कार्यक्रम में कहा था कि उन्हें जम्मू-कश्मीर का राज्यपाल रहते करोड़ों की रिश्वत ऑफर हुई थी। उस दौरान उनके पास दो फाइलें आई थीं। इनमें एक बड़े उद्योगपति और दूसरी महबूबा मुफ्ती और भाजपा की गठबंधन सरकार में मंत्री रहे एक व्यक्ति की थी। मलिक ने कहा था कि उनके सचिवों ने बताया कि इसमें घोटाला है, इसके बाद उन्होंने दोनों डील रद्द कर दी थीं। 

ये खबर भी पढ़िए...माघी पन्नी मेला का नाम बदला, अब कुंभ कल्प मेला

ये खबर भी पढ़िए...MP में आज ओलावृष्टि के साथ होगी तेज बारिश, जानिए किन जिलों में है यलो अलर्ट?

केंद्र सरकार को कई बार घेर चुकें हैं मलिक 

पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक आए दिन किसी ना किसी बहाने से केंद्र सरकार को घेरते रहते हैं । 2021 में किसान आंदोलन खत्म होने पर उन्होंने कहा था कि किसानों का धरना खत्म हुआ है, आंदोलन नहीं। उन्होंने 400 किसानों की मौत पर प्रधानमंत्री की तरफ से शोक सन्देश नहीं जाने पर भी तल्ख टिप्पणी की थी। उन्होंने कहा था कि किसानों का कर्ज माफ होना चाहिए। मलिक ने अपने रिटायरमेंट के बाद किसानों के लिए संघर्ष करने की बात कही थी।

  • Feb 22, 2024 13:19 IST
    CBI इन राज्यों में कर रही है छापेमार कार्रवाई

    सीबीआई ने जिन 30 लोकेशन पर छापेमारी की है, उसमें यूपी, बिहार, राजस्थान, महाराष्ट्र, हरियाणा जैसे राज्यों की जगहें शामिल हैं। सत्यपाल मलिक औऱ उनके करीबियों के यहां छापेमारी की गई है। कीरू हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट से के अधिकारियों के यहां भी रेड मारी गई है। पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने जम्मू कश्मीर में दो परियोजनाओं में 300 करोड़ की घूस की पेशकश के आरोप लगाए थे, उसके बाद सीबीआई ने अप्रैल 2022 में पांच आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया था और कारवाई शुरू की थी। इस परियोजना में 2200 करोड़ रुपए के कॉन्ट्रेक्ट देने गड़बड़ी के आरोप है।



J&K Governor Satyapal Malik Satyapal Malik ED raid सत्यपाल मलिक के घर ईडी के रेड Satyapal Malik CBI Raid