ईरानी सेना ने Israeli ship पर किया कब्जा, 17 भारतीय भी सवार

ईरान-इजराइल में तनाव बढ़ता जा रहा है। भारत समेत 6 देशों- अमेरिका, ब्रिटेन, रूस, फ्रांस और जर्मनी ने अपने नागरिकों के लिए एडवाइजरी जारी की है। इसमें नागरिकों को ईरान और इजराइल न जाने की सलाह दी गई है।

author-image
Jitendra Shrivastava
New Update
THESOOTR
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

NEW DELHI. ओमान की खाड़ी से होर्मुज पास होते हुए भारत आ रहे एक इजराइली जहाज ( Israeli ship ) पर ईरानी सेना ने कब्जा कर लिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जहाज पर 17 भारतीय नागरिक भी मौजूद है। कार्गो शिप लंदन बेस्ड एक कंपनी का है, जिसका मालिकाना हक एक इजराइली अरबपति के पास है। पहले मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया था कि शिप पर 20 क्रू मेंबर सवार हैं, जो फिलीपींस के नागरिक हैं। मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि ईरान 2 दिन के भीतर इजराइल पर अटैक कर सकता है। 

भारत समेत 6 देशों के नागरिकों के लिए एडवाइजरी जारी 

घटना के बाद इजराइली सेना के प्रवक्ता डेनियार हगारी ने कहा- हम किसी भी तरह के हमलों पर चुप नहीं बैठेंगे। इसका जवाब दिया जाएगा। इधर, भारत समेत 6 देशों- अमेरिका, ब्रिटेन, रूस, फ्रांस और जर्मनी ने अपने नागरिकों के लिए एडवाइजरी जारी की है। इसमें नागरिकों को ईरान और इजराइल न जाने की सलाह दी गई है। दरअसल, 1 अप्रैल को इजराइल ने सीरिया में ईरानी एम्बेसी के पास एयरस्ट्राइक की थी। इसमें ईरान के दो टॉप आर्मी कमांडर्स समेत 13 लोग मारे गए थे। इसके बाद ईरान ने बदला लेने के लिए इजराइल पर अटैक करने की धमकी दी थी।

इजरायली सेना ने परिणाम भुगतने की दी चेतावनी

ईरान की इस हरकत से क्षेत्र में तनाव और बढ़ गया है। ईरान द्वारा जहाज को जब्त करने की घोषणा के बाद इजरायल की सेना ने शनिवार को चेतावनी दी है कि इसके परिणाम ईरान को भुगतने होंगे। इजरायली सैन्य प्रवक्ता डैनियल हगारी ने एक बयान में कहा कि ईरान स्थिति को और अधिक बढ़ा रहा है। उसे इसके लिए परिणाम भुगतने होंगे। ईरान के अर्द्धसैनिक रिवोल्यूशनरी गार्ड के कमांडो ने हॉर्मुज जलडमरूमध्य के निकट एक मालवाहक जहाज पर धावा बोला और उसे शनिवार को जब्त कर लिया।

चालक दल में 17 भारतीय शामिल

पुर्तगाल के झंडे वाले मालवाहक जहाज एमएससी एरीज पर सवार 25 चालक दल में से 17 भारतीय हैं। चालक दल के अन्य सदस्यों में चार फिलीपींस, 2 पाकिस्तानी, एक रूसी और एक एस्टोनियाई नागरिक शामिल हैं। भारतीय नागरिकों की सुरक्षा और शीघ्र रिहाई के लिए भारत पहले से ही ईरानी अधिकारियों के संपर्क में है। सूत्र ने बताया कि हमें पता है कि एक मालवाहक जहाज 'एमएससी एरीज' को ईरान ने अपने नियंत्रण में ले लिया है। हमें पता चला है कि जहाज पर 17 भारतीय नागरिक हैं। हम भारतीय नागरिकों की सुरक्षा, कल्याण और शीघ्र रिहाई सुनिश्चित करने के लिए तेहरान और दिल्ली दोनों में राजनयिक चैनलों के माध्यम से ईरानी अधिकारियों के संपर्क में हैं।

इजरायली अरबपति का है जहाज

इस हेलीकॉप्टर ने पहले भी अन्य जहाजों पर छापे मारे हैं। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक जब्त किया गया जहाज संभवतः पुर्तगाली ध्वज वाला एमएससी एरीज है, जो लंदन स्थित जोडियाक मैरीटाइम से जुड़ा एक कंटेनर जहाज है। जोडियाक मैरीटाइम इजरायली अरबपति इयाल ओफर के जोडियाक ग्रुप का हिस्सा है। यह घटना खासकर सीरिया में इरानी वाणिज्य दूतावास पर संदिग्ध इजराइली हमले के बाद इरान और पश्चिम के बीच बढ़े तनाव के बीच हुई है। इरान ने जहाज को जब्त करने की बात स्वीकार की है। इरान ने 2019 से जहाजों को जब्त करने की कई घटनाओं को अंजाम दिया है। वह अपने परमाणु कार्यक्रम को तेजी से आगे बढ़ा रहा है और पश्चिमी देशों से बढ़ते तनाव के बीच जहाजों पर कई हमले हुए हैं। ओमान की खाड़ी हॉर्मुज जलडमरूमध्य के पास है, जो फारस की खाड़ी का एक संकरा हिस्सा है जिसके रास्ते कुल वैश्विक तेल का 20 प्रतिशत गुजरता है। संयुक्त अरब अमीरात के पूर्वी तट पर फुजैराह, जहाजों के लिए नए तेल कार्गो लेने, आपूर्ति लेने या चालक दल बदलने के लिए क्षेत्र का एक मुख्य बंदरगाह है।

Israeli ship ईरानी सेना 17 भारतीय