शहीद कैप्टन अंशुमान सिंह के परिवार से मिले Rahul Gandhi , मां बोली- अग्निवीर योजना ठीक नहीं

राहुल गांधी सियाचिन में शहीद हुए कैप्टन अंशुमान सिंह के परिवार से मिले। राहुल गांधी से मुलाकात के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए शहीद की मां ने राहुल की तारीफ की साथ ही अग्निवीर योजना को गलत बताया।

Advertisment
author-image
Ravi Singh
New Update
 Anshuman Singh Agniveer Scheme
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

नेता प्रतिपक्ष राहुल गांधी मंगलवार 8 जुलाई को अपने संसदीय क्षेत्र रायबरेली पहुंचे। इस दौरान कांग्रेस पदाधिकारियों मुलाकात की,साथ ही सियाचिन में शहीद हुए कैप्टन अंशुमान सिंह के परिवार से भी मिले। राहुल गांधी से मुलाकात के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए शहीद की मां ने राहुल की तारीफ की साथ ही अग्निवीर योजना को गलत बताया।

अग्निवीर योजना ठीक नहीं

शहीद कैप्टन अंशुमान सिंह की मां मंजू सिंह का कहना है कि अग्निवीर योजना ठीक नहीं है। सेना में सभी को सम्मान मिलना चाहिए। मंजू ने कहा कि उन्हें पक्ष और विपक्ष दोनों से सहयोग मिल रहा है। सरकार अच्छा काम कर रही हैं, लेकिन और बेहतर काम करना चाहिए।

ये खबर भी पढ़ें...

ऑस्ट्रेलिया में सजा बागेश्वर बाबा का दरबार, कथा सुनने उमड़ रही भीड़

अपने संसदीय क्षेत्र पहुंचते ही राहुल गांधी ने हर वर्ग के लोगों से मुलाकात की। राहुल गांधी ने डॉक्टर, वकील, उद्यमी और सामाजिक संगठन के प्रतिनिधियों से बातचीत की। उनकी समस्याओं को सुना और समाधान का भरोसा दिया। राहुल गांधी इसके बाद शहीद स्मारक में पौधरोपण करने जाएंगे। इसके अलावा वह लालगंज भी जा सकते हैं।

संसद में भी अग्निवीर पर बहस

संसद में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर चर्चा के दौरान भी राहुल गांधी ने अग्निवीर योजना की मुद्दा उठाया था। उन्होंने इसे सैनिकों को अपमानित करने वाला भी कहा था। अग्निवीर योजना की तुलना राहुल गांधी ने ठेका मजदूरी से की थी। इसका विरोध रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने तब संसद में ही किया भी था।

ये खबर भी पढ़ें...

हाथरस हादसा : SIT ने सौंपी रिपोर्ट, आयोजक और अफसर जिम्मेदार, बाबा का नहीं कहीं नाम

सिचाचिन में तैनाती थी 

कैप्‍टन अंशुमान सिंह जुलाई 2023 में शहीद हुए थे। उनकी तैनाती सियाचिन ग्‍लेशियर में 26 पंजाब बटालियन के 403 फील्‍ड में अस्‍पताल में रेजिमेंटल मेडिकल आफिसर पद पर हुई थी। सियाचिन ग्‍लेशियर में 19 जुलाई 2023 को बुधवार की सुबह ही करीब साढ़े तीन बजे भारतीय सेना के गोला बारूद बंकर में शॉट सर्किट की वजह से आग लग गई थी। इस आग ने कई टेंट को भी चपेट में ले लिया था। आग लगने की वजह से उनके कई साथी बंकर में फंस गए। अपने साथियों के बचाने के लिए अंशुमान भी बंकर में कूद पड़े। अपनी जान की परवाह किए बिना अंशुमान ने तीन जवानों को सुरक्षित बाहर निकाला। हालांकि इस हादसे में अंशुमान बुरी तरह से झुलस गए। उनको एयरलिफ्ट कर इलाज के लिए चंडीगढ़ लाया गया, जहां उन्हें बचाया नहीं जा सका और वह शहीद हो गए।

ये खबर भी पढ़ें...

Terrorist Attack : कठुआ में सेना के वाहन पर हमला, 5 जवान शहीद, सर्च ऑपरेशन जारी

देवरिया के थे कैप्टन अंशुमान सिंह

कैप्‍टन अंशुमान सिंह यूपी के देवरिया जिले के रहने वाले थे। उनका घर लार थाना क्षेत्र के बरडीहा दलपत में था। हालांकि अंशुमान का परिवार वर्तमान में लखनऊ में रहता था। हाल ही में राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू ने शहीद कैप्टर अंशुमान सिंह को मरणोपरांत कीर्ति चक्र से सम्मानित किया, जो कि उनकी मां और पत्नी ने प्राप्त किया। कीर्ति चक्र प्राप्त करने के बाद उनकी पत्नी ने भी उनकी वीरता के बारे में जानकारी दी। उनका ये वीडियो काफी वायरल हो रहा है। इसके बाद से एक बार फिर से अंशुमान सिंह चर्चा में आ गए। 

thesootr links

  द सूत्र की खबरें आपको कैसी लगती हैं? Google my Business पर हमें कमेंट के साथ रिव्यू दें। कमेंट करने के लिए इसी लिंक पर क्लिक करें

अग्निवीर योजना अंशुमान सिंह राहुल गांधी