विष्णुदेव सरकार के 100 दिन, Modis guarantee पूरी करने में निकला पसीना

छत्तीसगढ़ सरकार दावा कर रही है उसने 100 दिन में ही मोदी की 30 फीसदी गारंटी पूरी कर दी है। इन गारंटी में वे सभी योजनाएं शामिल हैं जो सीधे आम आदमी से जुड़ी हैं। सरकार कहती है इन 100 दिनों में 18 लाख पीएम आवास मंजूर किए गए हैं। 

author-image
Jitendra Shrivastava
New Update
THESOOTR
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

अरुण तिवारी, RAIPUR. छत्तीसगढ़ की विष्णुदेव सरकार को 100 दिन हो गए हैं। यानी सरकार ने शतक बना लिया है, लेकिन इन सौ दिनों में मोदी की गारंटी (Modis guarantee) पूरा करने में सरकार पसीना पसीना हो गई है। विष्णु को लक्ष्मी की कृपा पाने के लिए कर्ज का सहारा लेना पड़ा। लोकसभा चुनाव की चुनौती के बीच मोदी की गारंटी पूरा करने के लिए सरकार ने रोजाना 130 करोड़ का कर्ज लिया। आइए आपको बताते हैं विष्णु सरकार ने किस तरह पूरा किया अपना सैकड़ा।

100 दिन में मोदी की 30 फीसदी गारंटी पूरी करने का दावा

छत्तीसगढ़ की विष्णुदेव साय सरकार के 100 दिन पूरे हो गए हैं। इन सौ दिनों में सीएम साय के सामने मोदी की गारंटी पूरी करने की सबसे पहली और सबसे बड़ी चुनौती थी। सरकार दावा कर रही है उसने 100 दिन में ही मोदी की 30 फीसदी गारंटी पूरी कर दी है। इन गारंटी में वे सभी योजनाएं शामिल हैं जो सीधे आम आदमी से जुड़ी हैं। सरकार कहती है इन 100 दिनों में 18 लाख पीएम आवास मंज़ूर किये गए हैं। महतारी वंदन योजना के तहत 70 लाख महिलाओं को 1000 रुपये महीने देना शुरू कर दिया है। 11 लाख किसानों को दो महीने का बोनस दिया है। 14 लाख किसानों को धन खरीदी के अंतर की राशि दी गई है। तेंदूपत्ता की खरीदी मोदी की गारंटी के तहत नई दर 5500 प्रति बोरा की जाएगी।

 ये खबरें भी पढ़ें...

CGPSC की प्रारंभिक परीक्षा 2023 के परिणाम घोषित

छत्तीसगढ़ में आचार संहिता लागू होने के बाद अब तक 2 करोड़ 84 लाख कैश और सामान जब्त

100 दिनों में सरकार ने 13 हजार करोड़ का कर्ज लिया

ये तो हुई सरकार की बात। अब आपको बताते हैं कि मोदी की ये गारंटी पूरी कैसे हुई है। इन 100 दिनों में सरकार ने 13 हजार करोड़ का कर्ज लेकर 19 हजार करोड़ इन योजनाओं में लुटाए गए हैं। 

  1. महतारी वंदन में 700 करोड़

  2. बोनस देने में 3500 करोड़

  3. अंतर की राशि देने में 14 हज़ार करोड़

  4. कर्मचारियों के डीए में 800 करोड़

जाहिर है इसका सीधा असर विकास योजनाओं पर पड़ा है। सरकार ने रोजाना 130 करोड़ का कर्ज लेकर इन गारंटी को पूरा किया है। छत्तीसगढ़ सरकार पर 1 लाख करोड़ का कर्ज चढ़ गया है। कलेक्टर से सीधे वित्त मंत्री बने ओपी चौधरी कहते हैं कि उनका वित्तीय प्रबंधन आला दर्जे का है, चाहे तो भूपेश बघेल उनसे डिबेट कर लें। सब कुछ ऑल इस वेल है।

फ्री बीज की इन घोषणाओं पर मोदी भी जता चुके हैं आपत्ति 

अपने 100 दिन पूरे होने पर सरकार ने एक और घोषणा की है। महतारी वंदन की राशि वेतन की तरह हर महीने की 1 तारीख यानी पहले सप्ताह में ही दे दी जाएगी। फ्री बीज की इन घोषणाओं पर रिजर्व बैंक और पीएम मोदी भी आपत्ति जता चुके हैं। लेकिन अब वही घोषणाएं मोदी की गारंटी बन गई हैं। अब देखना है कि मोदी की गारंटी वोट की कितनी गारंटी बनती है। कांग्रेस कहती है बीजेपी चुनाव के परिणामों से डरी हुई है, इसलिए लोगों को झूठी घोषणाओं का लॉलीपॉप दे रही है।

Modi's Guarantee विष्णुदेव सरकार