घात लगाकर किए हमले में नक्सलियों ने ली कमांडर की जान

यहां CAF कंपनी कंमाडर तिजाऊ राम भुवरीया के नेतृत्व में चौथी बटालियन की एक टुकड़ी जंगल में लकड़ी काटने गई थी। इस दौरान कमांडर और एक कांस्टेबल टुकड़ी से दूर निकल गए। वहां कुछ दूरी पर नक्सली छिप कर बैठे थे।

author-image
Marut raj
New Update
कमांडर
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

रायपुर. छत्तीसगढ़ में नक्सलियों ने एक बड़ी वारदात को अंजाम दिया है। घात लगाकर नक्सलियों द्वारा किए गए हमले में एक कंपनी कमांडर शहीद हो गए। मीडिया रिपोर्ट्स में घटना दरभा इलाके के कुटरू क्षेत्र की बताई जा रही है। शहीद कमांडर का नाम तिजाऊ राम भुवरीया बताया जा रहा है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार छत्तीसगढ़ के बीजापुर के दरभा इलाके में कुटरू क्षेत्र है। यहां कंपनी कंमाडर तिजाऊ राम भुवरीया के नेतृत्व में चौथी बटालियन की एक टुकड़ी जंगल में लकड़ी काटने गई थी। इस दौरान कमांडर और एक कांस्टेबल टुकड़ी से दूर निकल गए। वहां कुछ दूरी पर नक्सली छिप कर बैठे थे। नक्सलियों ने धारदार हथियार से हमला कर दिया। कमांडर के साथ गया कांस्टेबल नक्सलियों को देखकर भाग निकला। हमले में कमांडर की मौत हो गई।

छत्तीसगढ़ में किस जाति की कितनी आबादी, सरकारी रिपोर्ट हुई वायरल

नक्सलियों ने की 354 ग्रामीणों की हत्या 

छत्तीसगढ़ में किस जाति की कितनी आबादी, सरकारी रिपोर्ट हुई वायरल

2000 में मध्यप्रदेश से अलग होकर छत्तीसगढ़ राज्यगठन हुआ था। 2001 के बाद अब तक जिले में 354 ग्रामीणों की हत्या नक्सलियों ने की है  और इसमें सबसे ज्यादा एर्राबोर गांव जहां 95 ग्रामीणों को मौत के घाट उतारा गया है। वहीं, कुछ ग्रामीण ऐसे भी है जिनका नाम पुलिस रिकार्ड में नहीं है क्योंकि नक्सलियों के डर से ग्रामीण पुलिस को नहीं बताऐ। 

फूल बेचने वाला बना रहा था 'फूल', आधा करोड़ जब्त, जानिए कैसे पकड़ा गया

शांति स्थापित करने कैंप खोला जा रहा

पुलिस अधीक्षक किरण चव्हाण ने भूमकाल दिवस के मौके पर अंग्रेजों व नक्सलियों से लड़ने वाले ग्रामीणों के बलिदान को याद किया। उन्होने कहा कि भूमकाल दिवस पहली बार इस तरह मनाया जा रहा है। 2001 के बाद 354 ग्रामीणों को नक्सलियों ने मार दिया। Naxalites | commander 

कमलनाथ के दूसरे बेटे बकुलनाथ क्या करते हैं, कहां रहते हैं, जानिए

Naxalites कमांडर commander