Advertisment

महादेव सट्टा एप के सौरभ चंद्राकर और रवि उप्पल के खिलाफ स्थायी वारंट

ऑनलाइन सट्टा एप महादेव बुक के प्रमोटर सौरभ चंद्राकर और रवि उप्पल पर आईजी ने 25 हजार और एसपी 10 हजार रुपये के इनाम की घोषणा की है। स्थायी वारंट जारी होने के बाद ये दोनों आरोपित  पुलिस के लिए मोस्ट वांटेड हो गए हैं।

author-image
Marut raj
New Update
महादेव सट्टा एप
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00
Advertisment
रायपुर.  कोर्ट ने ऑनलाइन सट्टा एप Tags : महादेव सट्टा एप यानी महादेव बुक के प्रमोटर सौरभ चंद्राकर (Saurabh Chandrakar) और रवि उप्पल(Ravi Uppal) के खिलाफ स्थायी वारंट जारी किया है। स्थायी वारंट जारी होने के बाद ये दोनों आरोपित  पुलिस के लिए मोस्ट वांटेड हो गए हैं। इधर रायपुर पुलिस ने कोर्ट के आदेश के बाद सौरभ चंद्राकर और रवि उप्पल के घर के कुर्की का आदेश चस्पा कर दिया है।
Advertisment
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार इसके पहले दुर्ग रेंज के आइजी राम गोपाल गर्ग और एसपी जितेंद्र शुक्ला ने आरोपित सौरभ चंद्राकर और रवि उप्पल पर इनाम घोषित किया है। आइजी ने 25 हजार और एसपी 10 हजार रुपये के इनाम की घोषणा की है। दोनों अधिकारियों द्वारा इनाम घोषित किए जाने के बाद अब न्यायालय ने भी दोनों आरोपितों के खिलाफ स्थायी वारंट जारी कर दिया है। इसके बाद अब पुलिस ने इनकी पतासाजी के लिए अपनी कार्रवाई शुरू की है।

दुबई में होने की जानकारी

Advertisment

CM हाउस में हुई विधायक दल की बैठक में लिए अहम फैसले, पार्टी बोली- कांग्रेस के प्रमुख नेता बीजेपी में आना चाहे तो संपर्क करें

आम चर्चाओं में दोनों आरोपितों के दुबई में होने की जानकारी मिली है, लेकिन इनके बारे में अधिकृत रूप से कोई भी जानकारी पुलिस के पास नहीं है। लिहाजा अब पुलिस अधिकारियों ने इन आरोपितों के बारे में पुख्ता जानकारी देने वालों को पुरस्कृत करने की घोषणा की है। 
ईडी कर रही तलाश
Advertisment
महादेव बुक से आनलाइन सट्टा खिलाने के मामले में ईडी पहले ही इन आरोपितों की तलाश कर रही है। आरोपितों पर सट्टा के रुपयों को हवाला के माध्यम से मनी लांड्रिंग करने का आरोप है, जिसकी पुलिस जांच कर रही है।
महादेव बुक प्रमोटर रवि उप्पल के बारे में कुछ दिन पहले एक खबर आई थी कि उसे दुबई में गिरफ्तार कर लिया गया है और जल्द ही उसे भारत लाया जाएगा। रवि उप्पल की तरह ही सौरभ चंद्राकर के बारे में भी खबर आई थी कि उसे श्रीलंका में गिरफ्तार कर लिया गया है, लेकिन यह महज एक अफवाह ही साबित हुई।(saurbh-cndraakr | rvi-uppl )
महादेव सट्टा एप रवि उप्पल सौरभ चंद्राकर स्थायी वारंट
Advertisment
Advertisment