निकाह में घूमर डांस कराने पर लगा एक लाख का जुर्माना, समाज से भी किया बेदखल

मुस्लिम परिवार में एक पिता ने अपने बेटे की लौटती बारात की पार्टी में राजस्थान से घूमर डांस करने वालों को बुलाया, लेकिन शादी से जाने के बाद समाज के बड़े लोगों को ये जश्न रास नहीं आया..

author-image
Deeksha Nandini Mehra
New Update
घूमर की सजा एक लाख

Ghoomar dance in Nikah

Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

Ghoomar Dance in Nikah : मध्य प्रदेश के हरदा जिले में एक पिता ने अपने बेटे की शादी के अरमान पूरे करते हुए शादी में घूमर डांस करवाया तो सामज ने लोगों ने उस पर पूरे एक लाख का जुर्माना का लगाकर लगाते हुए समाज से बेदखल कर दिया है। इसके साथ ही आए दिन जुर्माने की रकम वसूलने के लिए घर आकर धमकाते रहते  है। इस मामले की शिकायत पीड़ित ने पुलिस थाने में की है।

ये खबर पढ़िए ...MPPSC के रुके हुए 13 फीसदी रिजल्ट में उलझे उम्मीदवारों ने हाईकोर्ट जस्टिस से मांगी इच्छामृत्यु

समाज के बड़े लोगों ने बुला ली मीटिंग 

हरदा में मुस्लिम परिवार में एक पिता ने अपने बेटे की लौटती बारात की पार्टी में राजस्थान से घूमर डांस करने वालों को बुलाया। शादी में सभी लोगों ने एन्जॉय किया लेकिन शादी से जाने के बाद समाज के बड़े लोगों को ये जश्न रास नहीं आया। बड़े लोगों ने सामाजिक मीटिंग बुलाई जिसमें 200 से अधिक जगहों के लोग शामिल हुए। उस मीटिंग में सभी लोगों ने तय कर हरदा में पीड़ित परिवार को समाज से  11 महीने के लिए बेदखल कर दिया साथ ही एक लाख रुपए का जुर्माना लगा दिया। पीड़ित परिवार सिटी कोतवाली पुलिस के सामने गुहार लगा चुका है। सोमवार को एसपी अभिनय चौकसे से मुलाकात कर अपनी पीड़ा बताई। कलेक्टर को आवेदन देकर न्याय की मांग की। हालांकि, समाज की कमेटी ने इन आरोपों को झूठा बताया है।

ये खबर पढ़िए ...Credit Card New Rules : क्रेडिट कार्ड का ये नया नियम आपको निराश कर देगा, फीस नहीं लगेगी, मगर…

हमारे समाज ये प्रतिबंधित 

समाज से बेदखल करने वाले लोगों ने कहा कि उन्होंने बेटे की शादी में डीजे बजवाया, राजस्थान से लड़कियों को बुलाकर डांस करवाया। यह सब हमारे समाज में प्रतिबंधित है। इसके बाद भी उन्हें समाज ने बाहर नहीं किया है, सिर्फ जाजम के खाने से बाहर किया है। उन्हें कोई अपनी दावत में नहीं बुला रहा है।

ये खबर पढ़िए ...Draving Lincence के लिए नहीं जाना होगा RTO ऑफिस, जल्द बदल जाएंगे टेस्ट के नियम

ये है मामला 

छीपानेर रोड पर रहने वाले पीड़ित मो. रशीद मूलतः हरदा से 5 किलोमीटर दूर अबगांवखुर्द के रहने वाले हैं। 20 साल से पहले वे परिवार समेत हरदा आए और यहीं बस गए। यहां वे लकड़ी कटाई का काम करते हैं और साधारण परिवार से ताल्लुक रखते हैं। बेटे मोहीन का निकाह 28 जनवरी को चांदनी से देवास जिले की खातेगांव तहसील के संदलपुर में आयोजित सामाजिक सम्मेलन से किया था। बेटे की शादी के बड़े अरमान थे, इसलिए दो दिन बाद घर पर ही दावत रखी, जिसमें समाज और परिचितों को आमंत्रित किया। करीब 3500 लोग दावत में शामिल हुए थे। आयोजन में राजस्थान की घूमर डांस करने वाली टोली को बुलवाया। एक साधारण परिवार द्वारा ऐसा आयोजन, समाज के बड़े घरानों को रास नहीं आया। उन्होंने 20 फरवरी को संदलपुर में समाज की मीटिंग बुलवाई। 

ये खबर पढ़िए ...मध्य प्रदेश : कलेक्टर गाइडलाइन के हिसाब से तय होगा प्रॉपर्टी टैक्स, अब बढ़ेगा संपत्ति कर, पानी और सीवेज टैक्स

हमारा कसूर क्या है... 

पीड़ित ने बताया कि समाज के उप सदर ने माइक से मीटिंग में परिवार के 11 महीने के बेदखली का ऐलान कर दिया। हमें बिना कुछ बताए वहां पर हम चारों भाइयों को समाज से बाहर रखने का फरमान सुनाया गया। एक लाख रुपए का जुर्माना भी लगा दिया। हमने यह पूछते हुए विरोध किया कि हमारा कसूर क्या है, उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया। विरोध के बावजूद अब तक समाज ने अपना फैसला बरकरार रखा है। पदाधिकारी आए दिन जुर्माने के एक लाख रुपए मांगते हैं।

निकाह में घूमर डांस | हरदा न्यूज़ 

thesootr links

 सबसे पहले और सबसे बेहतर खबरें पाने के लिए thesootr के व्हाट्सएप चैनल को Follow करना न भूलें। join करने के लिए इसी लाइन पर क्लिक करें

द सूत्र की खबरें आपको कैसी लगती हैं? Google my Business पर हमें कमेंट के साथ रिव्यू दें। कमेंट करने के लिए इसी लिंक पर क्लिक करें

हरदा न्यूज़ Ghoomar dance in Nikah निकाह में घूमर डांस Ghoomar Dance