MP Politics: लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की करारी हार पर मंथन, प्रत्याशियों ने गिनाए हार के कारण, प्रदेश प्रभारी ने की चर्चा

मध्‍य प्रदेश में लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद कांग्रेस अब पार्टी को मजबूत करने में जुट गई है। हार के कारणों को लेकर कांग्रेस प्रदेश प्रभारी जितेंद्र भंवर सिंह ने हारे हुए प्रत्याशियों के साथ बैठक की।

Advertisment
author-image
Arvind Sharma
New Update
MP Bhopal Lok Sabha elections defeat regarding Congress meeting
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

BHOPAL. मध्य प्रदेश कांग्रेस में हार की समीक्षा को लेकर बैठकों का दौर जारी है। लोकसभा चुनाव में हारे हुए प्रत्याशियों के साथ प्रदेश अध्यक्ष जीतू पटवारी और प्रदेश प्रभारी भंवर जितेंद्र सिंह ने बैठक की। इस दौरान प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भी मौजूद रहे।  

प्रदेश प्रभारी भंवर जितेंद्र सिंह ने की वन-टू-वन चर्चा

प्रदेश में सभी 29 लोकसभा सीटों पर कांग्रेस को मिली करारी शिकस्त के बाद रविवार बैठक हुई। प्रदेश प्रभारी भंवर जितेंद्र सिंह ने हारे हुए प्रत्याशियों से वन-टू-वन चर्चा की। प्रदेश प्रभारी ने हार के कारण और संगठन की क्या कमी रही। इसको लेकर एक फार्मेट भी लोकसभा के प्रत्याशियों को दिया। प्रत्याशियों ने हार के कारणों को फार्मेट में भरकर प्रदेश प्रभारी को सौंपा। 

भितरघात करने वाले नेताओं की शिकायत

इस दौरान कई प्रत्याशियों ने लोकसभा क्षेत्र में भितरघात करने वाले नेताओं की शिकायत करते हुए कार्रवाई की मांग की। प्रत्याशियों ने कहा कि उनके ही पार्टी के पदाधिकारियों ने हराने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी। जिस पर प्रदेश प्रभारी भंवर जितेंद्र सिंह ने कहा कि भितरघात करने वालों पर कार्रवाई की जाएगी। इसका समय होता है। वह डिस्प्ले कमेटी करती है।

हारे हुए 29 प्रत्याशियों को दिया गया फार्मेट

प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में हुई लंबी बैठक में लोकसभा चुनाव में हार के कारणों को लेकर प्रदेश प्रभारी भंवर जितेंद्र सिंह ने मंथन किया। इस मौके पर लोकसभा चुनाव में हारने वाले 29 प्रत्याशियों फार्मेट दिया गया। जिसमें जमीनी स्तर पर पार्टी को मजबूती के साथ-साथ 8 बिन्दुओं लिखकर प्रत्याशियों ने दिए। प्रत्याशियों ने कहा कि संगठन और बूथ स्तर पर पार्टी कार्यकर्ता निराश है। कार्यकर्ताओं में जोश भरने की जरूरत है। प्रत्याशियों ने लोकसभा चुनाव में हार के कारणों को भी प्रदेश प्रभारी के सामने रखा।

ये खबर भी पढ़ें... CM Helpline पर शिकायत करने पर भड़के नायब तहसीलदार , कमरे में बंद कर किसान को पीटा

पार्टी को मजबूत करने के दिए सुझाव

लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के सफाया के बाद पार्टी के वरिष्ठ नेताओं और हार का सामना देखने वाले प्रत्याशियों ने प्रदेश प्रभारी को संगठन को मजबूत करने को लेकर सुझाव भी दिए। संभाग-जिला और ग्रामीण स्तर पर जनता की आवाज बुलंद करने के साथ-साथ कार्यकर्ताओं में ऊर्जा भरने की बात कही गई।

प्रदेश प्रभारी ने कहा कि कांग्रेस की नई प्रदेश कार्यकारिणी की घोषणा भी एक पखवाड़े में की जाएगी।  पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने बताया कि दिल्ली का वरिष्ठ नेतृत्व नामों को तय करके कार्यकारिणी घोषित करेगा।

ये खबर भी पढ़ें.. TMC सांसद महुआ मोइत्रा के खिलाफ नए कानून के तहत FIR दर्ज, जानें क्या पूरा मामला

पुराने और नए चेहरों पर भी दिल्ली में होगा मंथन

कांग्रेस नेताओं का कहना है कि बैठक में लिया गए फीडबैक का दस्तावेजीकरण किया जाएगा। जिसका संगठन को मजबूत करने की योजना बनाने के लिए इसका इस्तेमाल किया जाएगा। सभी हारे हुए प्रत्याशियों ने रिपोर्ट को लिखित में दिया है। वहीं दूसरी ओर अब इस बात पर भी मंथन चल रहा है कि एमपी कांग्रेस कमेटी के गठन में पुराने चेहरों को हटाकर नए चेहरे शामिल किए जाएंगे।

बैठक में प्रदेश अध्यक्ष जीतू पटवारी, पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, सज्जन वर्मा, पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह, डॉ. गोविंद सिंह, अरुण यादव सहित कई वरिष्ठ नेता उपस्थित थे।

thesootr links

द सूत्र की खबरें आपको कैसी लगती हैं? Google my Business पर हमें कमेंट के साथ रिव्यू दें। कमेंट करने के लिए इसी लिंक पर क्लिक करें

भोपाल न्यूज एमपी कांग्रेस की बैठक कांग्रेस प्रदेश प्रभारी जितेंद्र भंवर सिंह कांग्रेस की हार पर मंथन एमपी कांग्रेस लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की हार