MP में फिर खुलेगी व्यापम घोटाले की फाइल... और भी कई गहरे राजों से उठेगा पर्दा

मध्‍य प्रदेश में बीते एक दशक में जिस घोटाले की सबसे ज्यादा चर्चा हुई, वो था व्यापम... जिस सीबीआई ने कोर्ट में क्लोजर रिपोर्ट पेश की थी अब वही इस घोटाले की फाइल फिर से खोलने जा रही है। जानें क्या खुलासा हुआ है।

author-image
Vikram Jain
New Update
Vyapam scam file will opened again MP BHOPAL
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

BHOPAL. मध्य प्रदेश के चर्चित व्यापम घोटाला की फाइल फिर से ओपन होगी। सीबीआई ने ही कोर्ट में क्लोजर रिपोर्ट प्रस्तुत की थी और अब सीबीआई ही इसे ओपन करेगी, क्योंकि रिश्वतखोरी के बाद बर्खास्त इंस्पेक्टर राहुल राज, व्यापम घोटाले का भी जांच अधिकारी था। यह पता लगाना जरूरी है कि उसने व्यापम घोटाले की जांच में कितनी ईमानदारी और कितनी बेईमानी की है। 

गृह मंत्रालय ने 24 घंटे में राहुल राज को किया बर्खास्त

राजस्थान के रहने वाले सीबीआई इंस्पेक्टर राहुल राज को पहले रिश्वतखोरी के मामले में गिरफ्तार किया गया और फिर बर्खास्त कर दिया गया। कोर्ट के आदेश पर फिलहाल राहुल राज जेल में है। उस पर आरोप है कि उसने नर्सिंग घोटाले में घोटालेबाजों से रिश्वत लेकर उनकी मर्जी के मुताबिक रिपोर्ट बनाई। सीबीआई की एंटी करप्शन टीम ने पूरे 3 महीने तक एविडेंस कलेक्ट किए। इसका फायदा यह हुआ की गिरफ्तारी के मात्र 24 घंटे के भीतर भारत सरकार के गृह मंत्रालय द्वारा इंस्पेक्टर राहुल राज को बर्खास्त कर दिया गया।

ये खबर भी पढ़ें... Jabalpur High Court ने सुनाई अनूठी सजा , नाबालिग छात्रा से छेड़छाड़ के आरोपी को अनोखी शर्त पर दी जमानत

ये खबर भी पढ़ें... भोजशाला सर्वे का 63वां दिन : दो हिस्सों से हटाई मिट्टी, लेवलिंग भी की

मध्य प्रदेश पुलिस ने सबूत जुटाए थे, सीबीआई ने क्लोज कर दिए

अब खुलासा हुआ है कि सीबीआई इंस्पेक्टर राहुल राज मध्य प्रदेश के सबसे बड़े व्यापम घोटाले में भी जांच अधिकारी था। सीबीआई के वरिष्ठ अधिकारियों ने इस बात की पुष्टि की है कि राहुल राज को व्यापमं महाघोटाले से जुड़े कई अहम केस की जांच भी सौंपी गई थी। अतः इस बात की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है कि व्यापम घोटाला में भी रिश्वत लेकर घोटालेबाजों को क्लीन चिट दी गई होगी। इस प्रकार के आप पहले भी लगते रहे हैं। व्यापम घोटाला की जांच करने वाले कई पुलिस अधिकारियों ने नाम गोपनीय रखने की शर्त पर यह दावा किया था कि उन्होंने सभी सबूत इकट्ठे कर लिए थे और घोटालेबाज को हर हाल में कोर्ट से सजा मिलनी चाहिए थी परंतु सीबीआई ने क्लोजर रिपोर्ट प्रस्तुत कर दी।

ये खबर भी पढ़ें... indore hadasa : बालकनी में खड़े दो स्टूडेंट को 4 फीट दूर से हाईटेंशन लाइन ने खींचा , मौत

ये खबर भी पढ़ें... ESB की शिक्षक भर्ती परीक्षा में गणित का रिजल्ट फिर बनेगा, हाईकोर्ट में मंडल ने एक सवाल गलत माना

इंस्पेक्टर राहुल राज के बड़े कनेक्शन थे

राहुल राज को लेकर पूरे महकमे में चर्चाओं का दौर है। कहा जा रहा है कि राहुल राज का अधिकारियों पर भी गहरा प्रभाव था। इसलिए उसे गृहमंत्री अवॉर्ड भी मिला था। अधिकारियों को इस बात के भी पक्के सबूत मिल चुके हैं कि राहुल ने ही सीबीआई के दूसरे अधिकारियों को रिश्वत के खेल में शामिल किया था। सीबीआई के डीएसपी आशीष प्रसाद, रिषिकांत असाठे और सुशील मजोका को भी उसने ही प्रलोभन देकर गुमराह किया था।

thesootr links

 सबसे पहले और सबसे बेहतर खबरें पाने के लिए thesootr के व्हाट्सएप चैनल को Follow करना न भूलें। join करने के लिए इसी लाइन पर क्लिक करें

द सूत्र की खबरें आपको कैसी लगती हैं? Google my Business पर हमें कमेंट के साथ रिव्यू दें। कमेंट करने के लिए इसी लिंक पर क्लिक करें

फिर खुलेगी व्यापम घोटाले की फाइल, बर्खास्त सीबीआई इंस्पेक्टर राहुल राज, चर्चित व्यापम घोटाला, भोपाल न्यूज,Vyapam scam file will be opened again, Sacked CBI Inspector Rahul Raj, famous vyapam scam, Bhopal News

भोपाल न्यूज Sacked CBI Inspector Rahul Raj Vyapam scam file will be opened again चर्चित व्यापम घोटाला बर्खास्त सीबीआई इंस्पेक्टर राहुल राज फिर खुलेगी व्यापम घोटाले की फाइल Bhopal News famous vyapam scam