Advertisment

महिलाओं ने POLICE पर फेंकी चूड़ियां, चक्काजाम किया, जानें क्या है मामला

चकराघाट निवासी 29 वर्षीय अमित उर्फ अम्मू दुबे और उसका साथी धनुषधारी मंदिर के सामने किराना दुकान पर खड़े थे। इसी दौरान दो तरफ से आए बदमाशों ने अमित को पेट में बाईं तरफ छुरा मार दिया। वह भागकर चाय की दुकान पर पहुंचा और गिर गया।

author-image
Jitendra Shrivastava
New Update
MURDER

हत्या के आरोपियों के पकड़ने के लिए महिलाओं का प्रदर्शन।

Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

 SAGAR. सागर में युवक की हत्या के विरोध में परिजन ने स्थानीय लोगों के साथ चक्काजाम कर दिया। कोतवाली थाने के सामने शव रखकर प्रदर्शन किया। वे आरोपियों के घर गिराने की मांग कर रहे थे। महिलाओं ने POLICE पर चूड़ियां फेंककर विरोध भी जताया। आर्थिक मदद का आश्वासन मिलने और नगर निगम अमले के आरोपियों के मकान तोड़ने के लिए रवाना होने के बाद ही लोग अंतिम संस्कार के लिए माने। 

Advertisment

3 बदमाशों ने युवक को घेरकर की थी हत्या

कोतवाली थाने से 50 मीटर दूर चकराघाट पर शुक्रवार रात 9.30 बजे 3 बदमाशों ने युवक को घेरकर हत्या कर दी थी। चकराघाट निवासी 29 वर्षीय अमित उर्फ अम्मू दुबे और उसका साथी धनुषधारी मंदिर के सामने किराना दुकान पर खड़े थे। इसी दौरान दो तरफ से आए बदमाशों ने अमित को पेट में बाईं तरफ छुरा मार दिया। वह भागकर चाय की दुकान पर पहुंचा और गिर गया। भीड़ देखकर आरोपी भाग निकले। परिजन मौके पर पहुंचे। घायल को ऑटो से मेडिकल कॉलेज ले जाया गया। यहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। बताया जा रहा है कि कुछ दिन पहले युवक का बदमाशों से राह चलते झगड़ा हुआ था।

बदमाशों के लिए माफी स्कीम, दिलाए जाएंगे सरकारी फायदे... जानिए प्लान

Advertisment

मंत्री के बंगले पर गार्ड ने की आत्महत्या, खुद को मारी गोली

4 शिक्षकों ने किया ऐसा काम, पुलिस ने दर्ज की FIR, RTI में हुआ खुलासा

मुख्य आरोपी का पिता हिरासत में

Advertisment

कोतवाली पुलिस ने युवक हत्या के तीनों आरोपियों को हिरासत में ले लिया है। तीनों आरोपी नाबालिग हैं। उनकी उम्र 13 से 16 साल के बीच की है। बदमाशों की तलाश में देर रात पुलिस ने कई ठिकानों पर दबिश दी। मुख्य आरोपी के पिता को हिरासत में लिया है। वारदात में चौरसिया, सोनी और रैकवार समाज के तीन लड़कों के नाम सामने आए हैं।

2 साल पहले हुई थी शादी

अमित की 2 साल पहले ही शादी हुई थी। बच्चे नहीं हैं। शादी के बाद अमित कदंब कुआं के पास किराए के मकान में रह रहा था। दो भाइयों में बड़ा था। एक बहन भी है। मां का निधन हो चुका है। अमित पहले टोल नाके पर काम करता था।

police चक्काजाम महिलाऐं
Advertisment
Advertisment