फुटपाथ पर पकौड़े तल रहीं DU की पूर्व professor पर पुलिस ने की FIR

रितु सिंह ने पीएचडी पकौड़े वाली नाम के बैनर से कवर करके रेहड़ी लगाई थी। डीयू एरिया में छात्रा मार्ग पर लगी उनकी आकर्षक रेहड़ी को देखकर वहां भीड़ जमा होने लगी थी। पकौड़े बेचने पर उनके खिलाफ केस दर्ज भी हो गया। पढ़िए पूरा घटनाक्रम...

author-image
Marut raj
New Update
 डॉ. रितु सिंह  Dr. Ritu Singh
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

भोपाल. दिल्ली विश्वविद्यालय ( Delhi University ) यानी डीयू (  DU ) की पूर्व प्रोफेसर ( professor ) डॉ. रितु सिंह ( Dr. Ritu Singh ) फुटपाथ पर रेहड़ी लगाकर पकौड़े बेचने के साथ ही सुर्खियों में आ गईं हैं। हालांकि, इस पर उनके खिलाफ मौरिस नगर थाने की पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है। रितु सिंह ने पीएचडी पकौड़े वाली नाम के बैनर से कवर करके रेहड़ी लगाई थी। डीयू एरिया में लगी उनकी आकर्षक रेहड़ी को देख न सिर्फ उनके समर्थक, बल्कि वहां से निकल रहे राहगीरों की भी खासी भीड़ जमा होने लगी थी। डीयू की पूर्व प्रोफेसर को रेहड़ी लगाकर पकौड़े तलते और बेचते हुए देख लोग भी हैरान थे। अनेकों लोग मोबाइल से विडियो, फोटो, सेल्फी भी लेने लगे। रेहड़ी पर लिखा मैन्यू भी लोगों को आकर्षित कर रहा था। इसमें जुमला पकौड़ा (best seller), स्पेशल रिक्रूटमेंट ड्राइव पकौड़ा, SC/ST/ OBC बैकलॉग पकौड़ा, NFS पकौड़ा, डिस्प्लेसमेंट पकौड़ा और बेरोजगारी स्पेशल चाय थी।

ये खबरें भी पढ़ें...

निगमायुक्त हर्षिका सिंह ने X पर दी सफाई- लाइन अच्छी लगी इसलिए शेयर की

Bloomberg Billionaires Index किसने छीना मस्क का ताज, अंबानी-अडानी कहां

MPPSC ने असमंजस के बीच राज्य सेवा मेन्स के एडमिट कार्ड किए जारी, 7 मार्च को HC में सुनवाई

अंबानी से 36 साल पहले सिंधिया की बेटी की शादी में हुआ था 1 लाख लोगों का भोज

कौन हैं डॉ. रितु सिंह

डॉ. रितु सिंह डीयू के दौलत राम कॉलेज में साइकॉलजी विभाग में एडहॉक प्रोफेसर रह चुकी हैं। आरोप है कि उन्हें डीयू ने नौकरी से निकाल दिया था। उनका आरोप है कि डीयू प्रशासन ने उनके साथ दलित होने की वजह से भेदभाव किया है। डॉ. सिंह पिछले काफी समय से डीयू में धरना देती रही हैं। उन्होंने पिछले दिनों आरोप लगाया कि उन्हें जातिगत भेदभाव की वजह से नौकरी से निकाल दिया गया। वो करीब एक साल तक असिस्टेंट प्रोफेसर के पद पर रहीं।

पुलिस ने दर्ज की FIR

 मौरिस नगर थाने के SHO, SI और अन्य स्टाफ आर्ट फैकल्टी, गेट नंबर 4 पर पहुंचे। पुलिस का दावा है कि करीब 6.30 बजे शाम डॉ. रितु सिंह और आशुतोष अपने कुछ समर्थकों के साथ छात्रा मार्ग फुटपाथ पर रेहड़ी लगाकर पकौड़े बेचने लगे। पुलिस ने दर्ज एफआईआर में कहा है कि उनकी रेहड़ी की वजह से फुटपाथ पर राहगीरों को आने-जाने में बाधा हो रही थी। पुलिस ने उनको वहां से रेहड़ी हटाने के लिए कहा, लेकिन उन्होंने नहीं हटाई। इस पर पुलिस ने आईपीसी 283/34 के तहत एफआईआर दर्ज कर ली। शाम को उन्होंने अपने X हैंडल पर फोटो और मैसेज भी पोस्ट किए। इसमें उन्होंने लिखा कि दिल्ली विश्वविद्यालय में PhD करने के बाद पकौड़े बेचने को मजबूर, मान सम्मान की इस लड़ाई में झुकेंगे नहीं, नौकरी नहीं न्याय चाहिए।



DU delhi university दिल्ली विश्वविद्यालय Dr. Ritu Singh डॉ. रितु सिंह