Char Dham Yatra पर सरकार का बड़ा फैसला, अब नो सेल्फी, नो वीडियो, VIP ट्रीटमेंट भी बंद

उत्तराखंड में चार धाम यात्रा की भीड़ की वजह से लग रहे जाम ने लोगों की परेशानियों को बढ़ा दिया है। दर्शनार्थियों की उमड़ती भीड़ ने सरकार की परेशानी बढ़ा दी है।

author-image
Deeksha Nandini Mehra
एडिट
New Update
NO VIP Darshan in Char Dham Yatra

NO VIP Darshan in Char Dham Yatra

Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

NO VIP Darshan in Char Dham Yatra : उत्तराखंड में  चार धाम यात्रा के लिए बेहिसाब भीड़ उमड़ रही है। चार धाम यात्रा की भीड़ की वजह से लग रहे जाम ने लोगों की परेशानियों को बढ़ा दिया है। इसके साथ ही यहां हुए हादसे में कई लोगों की मौत भी हुई है। दर्शनार्थियों की उमड़ती भीड़ ने सरकार की परेशानी बढ़ा दी है। जिसको लेकर सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। सरकार ने अब चारधाम यात्रा को लेकर दिशा-निर्देश जारी कर दिए है। जिसके तहत अब चार धाम यात्रियों को VIP ट्रीटमेंट नहीं दिया जाएगा, इसके साथ ही सेल्फी और वीडियो बनाने पर भी प्रतिबन्ध लगा दिया है। 

NO VIP दर्शन 

उत्तराखंड में चार धाम यात्रा के लिए देश-विदेश से बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंच रहे है। सरकार के लिए इस भीड़ को नियंत्रित करना और व्यवस्था को बनाए रखना चुनौतीपूर्ण साबित हो रहा है। व्यवस्थाओं को बेहतर बनाए रखने के लिए 31 मई तक वीआईपी दर्शन पर सरकार ने रोक लगा दी है। वहीं मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों को पत्र लिखकर कहा कि आगामी 31 मई तक वीआईपी दर्शन की व्यवस्था होना मुश्किल है, इसलिए इस पर प्रतिबंध लगाया जा रहा है। 

उत्तराखंड सरकार के आदेश में कहा गया कि,  प्रदेश में चार धाम यात्रा संचालित की जा रही है, जिसमें बड़ी तादाद में श्रद्धालु दर्शन करने के लिए पहुंच रहे हैं। इसके लिए शासन- प्रशासन व्यवस्था बनाने का काम कर रहा है लेकिन, कुछ लोगों के ब्लॉग शूट करने और रील्स बनाने से श्रद्धालुओं को परेशानी हो रही है। लोग ब्लॉक और रील्स देखने के लिए भीड़ लगाकर एक ही जगह भीड़ लगा रहे हैं, जिससे यात्रियों को दर्शन-पूजन में दिक्कतों का सामना करना पड़ा रहा है। श्रद्धालुओं को असुविधा न हो, इसलिए चार धाम यात्रा के मंदिरों के परिसर के  200 मीटर दायरे में रील्स या वीडियो शूट पर पूरी तरह से बैन लगाया गया है। 

उत्तराखंड सरकार का आदेश

ये होंगे नए नियम 

  • चारधाम यात्रा में शामिल होने वाले श्रद्धालुओं को बिना रजिस्ट्रेशन के उत्तराखंड नहीं आने की अपील की गई है। 
  • हरिद्वार और ऋषिकेश सेंटर में ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन सुबह 7 बजे से शाम 7 बजे तक किए जा रहे थे, हरिद्वार में ऋषि कुल ग्राउंड में निशुल्क रजिस्ट्रेशन सेंटर बनाया है। 
  • ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के लिए उत्तराखंड सरकार की अधिकारिक वेबसाइट पर जाएं। 

    चारधाम यात्रा के दौरान रील नहीं बनाने को लेकर सख्त निर्देश जारी किया है।  
  • चारधाम यात्रा के सभी ठहराव स्थलों पर यात्रियों के लिए भोजन, पानी सहित सभी प्रकार की व्यवस्था उपलब्ध है। अगर कोई अफवाह फैलाता है तो इसके खिलाफ कार्रवाई होगी। 
  • यमुनोत्री और गंगोत्री हर जगह ट्रैफिक जाम है। इस ट्रैफिक जाम में घंटों तक यात्री फंसे हुए हैं। यात्रियों की बढ़ती तादाद को देखते हुए यमुनोत्री में गेट सिस्टम लागू कर दिया है। 
चार धाम यात्रा Uttarakhand Char Dham Yatra 2024 NO VIP Darshan in Char Dham Yatra